क्या आपको पता है CSE Full Form और कंप्यूटर साइंस इंजीनियर कैसे बने? CSE का मतलब Computer Science Engineering Course होता है! आज के इस हिंदी ब्लॉग में हम CSE kya hai, CS Engineer को कितनी सैलरी मिलती है! और CSE कोर्स के लिए शैक्षिक योग्यता, CSE in Hindi, समय अवधि और इसके पाठ्यक्रम (CSE Course Details in Hindi) के बारे में बताने वाले है!

वर्तमान में कंप्यूटर और टेक्नोलॉजी मानव जीवन का एक बहुत ही अहम हिस्सा बन चूका है! कंप्यूटर ने मानव जीवन को बहुत सरल बना दिया है! शिक्षा, स्वास्थ और सुरक्षा इत्यादि सभी क्षेत्रों में कंप्यूटर साइंस की वजह से बहुत जटिल और कई दिनों के काम को कुछ ही समय में पूरा कर दिया जाता है!

किसी को ऑनलाइन पैसे भेजने हो या फिर शिक्षा प्राप्त करना हो अब सभी काम घर बैठे कंप्यूटर से हो जाते है! अभी कोरोना महामारी के चलते लगभग सभी कम्पनियो के एम्प्लॉएंस घर से ही अपनी जॉब बहुत अच्छे से कर रहे है! तो यह ऑनलाइन टेक्नोलॉजी इस कंप्यूटर साइंस से ही सम्भव है!

इसलिए आज के इस ब्लॉग को शुरू करते है और CSE Full Form क्या है? CSE kya hai? कंप्यूटर साइंस इंजीनियर कैसे बने? CSE कोर्स के लिए शैक्षिक योग्यता, CSE in Hindi, समय अवधि और इसके पाठ्यक्रम (CSE Course Details in Hindi) जानते है!

CSE Full Form in Hindi

[ CSE Course Details in Hindi – CSE Full Form in Hindi ]

विषय - सूची

सीएसई फुल फॉर्म – CSE Full Form in Hindi

CSE Full Form: सीएसई का फुल फॉर्म Computer Science Engineering होता है! और हिंदी में इसे कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग कहते है!

UPSC CSE Full Form in Hindi: सीएसई का UPSC में फुल फॉर्म Civil Services Examination होता है!

सीएसई क्या हैCSE kya hai

CSE Kya Hai: सीएसई यानी की कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग, इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में सबसे पसंदीदा और रेपुटेड कोर्स होता है! इस कोर्स के अंतर्गत टेक्नोलॉजी, कंप्यूटर साइंस, कंप्यूटर नेटवर्क और कंप्यूटर प्रोग्रामिंग इत्यादि से संबंधित पाठ्यक्रम का अध्ययन कराया जाता है! 

कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग कोर्स में कंप्यूटर संबंधी पाठ्यक्रम  जैसे की कंप्यूटर प्रोग्रामिंग, कंप्यूटर नेटवर्क, डेटाबेस मेनेजमेंट, सॉफ्टवेयर & हार्डवेयर डिजाइनिंग और वेब डिजाइनिंग इत्यादि के बारे में बेसिक से लेकर एडवांस लेवल तक पढ़ाया जाता है!

सीएसई कोर्स के लिए शैक्षिक योग्यता  Educational Qualification for CSE Course

CSE कोर्स UG (Undergraduate) और PG (Postgraduate) स्तर में होता है! सीएसई कोर्स को करने की लिए निर्धारित शैक्षिक योग्यता इस प्रकार होनी चाहिए!

  • सीएसई (Computer science Engineering) UG Course में प्रवेश पाने के लिए कैंडिडेट्स ने Science stream से बारहवीं 60% मार्क्स के साथ उत्तीर्ण किया हो!
  • उम्मीदवार की उम्र 17 साल से अधिक होनी चाहिए!
  • कम्प्यूटर साइंस इंजीनियरिंग PG कोर्स में एडमिशन के लिए छात्र का B Tech (कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग) Undergraduate Course जैस की पोलीटेकनिक उत्तीर्ण किया हो! 

सीएस इंजीनियर कैसे बने – CS Engineer Kaise Bane

CS Engineer Kaise Bane: कंप्यूटर साइंस इंजीनियर बनने के लिए सबसे पहले कैंडिडेट्स का साइंस विषयो से इंटरमीडिएट उत्तीर्ण हो! इसके बाद ही आप CSE कोर्स में प्रवेश के लिए आवेदन कर सकते है! यह एक Entrance exam based कोर्स होता है! आपको इंजीनियरिंग कोर्स में प्रवेश के लिए इंस्टिट्यूट, स्टेट या नेशनल लेवल के entrance exam को required स्कोर के साथ क्लियर करना होता है! 

जब आप entrance exam को  पास कर लेते है इसके बाद आपको कोर्स को करने के लिए Collage Selection हेतु govt. द्वारा कराये जाने वाले कॉउंसलिंग में participate करना होता है! प्रतियोगी परीक्षा में प्राप्त होने वाले रैंक के आधार पर आपको इंजीनियरिंग कॉलेज उपलब्ध कराया जाता है जहा से आप अपना कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग की पढाई कर सकते है!

इसके अलावा आप इंडिया में कुछ प्राइवेट कॉलेजो में डायरेक्ट एडमिशन कर इंजीनियरिंग का कोर्स कर सकते है! लेकिन अगर आप सरकारी कॉलेजो से यह कोर्स करना चाहते है इसके लिए Common entrance exam को उत्तीर्ण करना अनिवार्य होता है!

सीएसई कोर्स प्रवेश परीक्षा – CSE Course Entrance Exams

यह state, national और university लेवल पर आयोजित किये जाते है! आइये जान लेते है कुछ engineering course Entrance exams के बारे में जो इस प्रकार है!

  1. JEE
  2. BITSAT
  3. TNEA
  4. JET

1. JEE

JEE का फुल फॉर्म Joint Entrance Exam यह परीक्षा अंडरग्रेजुएट इंजीनियरिंग कोर्स में एडमिशन के लिए organize की जाती है! इंडिया में यह परीक्षा NTA national test agency द्वारा regulate की जाती है! JEE एक Computer based परीक्षा है! जेईई परीक्षा 13 भाषाओ में उपलब्ध होती है! यह एग्जाम देने के लिए कैंडिडेट्स की शैक्षिक योग्यता बारहवीं साइंस विषयो के साथ उत्तीर्ण किया गया हो!

2. BITSAT

यह Birla institute of technology And science Admission Test एक University Level की प्रतियोगी परीक्षा है! जो UG और PG मेडिकल और इंजीनियरिंग कोर्स में एडमिशन के लिए आयोजित की जाता है! यह परीक्षा प्रति वर्ष कराई जाती है! BITSAT एक computer based exam होता है! बिरला इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी, पिलानी इंडिया का टॉप इंजीनियरिंग यूनिवर्सिटी में से एक है! जो इस परीक्षा को संचालित करता है!

3. TNEA

इसका फुल फॉर्म Tamil nadu Engineering Admission होता है! यह एग्जाम इंजीनियरिंग कोर्स में प्रवेश हेतु Tamilnadu engineering university द्वारा आयोजित किया जाता है! TNEA परीक्षा को देने के लिए छात्र तमिलनाडु राज्य के निवासी हो और 12th साइंस स्ट्रीम से उत्तीर्ण किया हो! परीक्षा ऑनलाइन कराई जाती है!

4. JET

JET का पूरा नाम Jain Entrance exam होता है! यह एक यूनिवर्सिटी लेवल की परीक्षा है! JET एग्जाम जैन यूनिवर्सिटी द्वारा अंडरग्रेजुएट कोर्स इंजीनियरिंग कोर्स के लिए आयोजित किया जाता है! यह परीक्षा के लिए शैक्षिक योग्यता स्टूडेंट को 60% मार्क्स के साथ बारहवीं उत्तीर्ण होना चाहिए! इसके लिए आवेदन फॉर्म ऑनलाइन भर सकते है!

अन्य फुल फॉर्म – Other full forms 

NDA Full FormLLM Full Form NEET Full Form
ANM Full Form BDS Full Form BHMS Full Form
BBA Full Form B.Sc Full Form BDS Full Form
LLB Full Form ATM Full FormBA Full Form
MBA Full Form MBBS Full FormUPSC Full Form
MSP Full FormPGDM Full FormFDI Full Form
RIP Full Form WHO Full Form AWS Full Form
PhD Full Form M.Tech Full FormLPG Full Form
ITI Full Form B.Tech Full Form BMS Full Form
SSL Full FormTRP Full FormNGO Full Form
eRupi Full FormCDO Full FormCA Full Form

सीएसई पाठ्यक्रम समय अवधि – CSE Course Time Duration in Hindi

यह कोर्स लगभग 4 साल का होता है इसके अलावा इंजीनियरिंग कोर्स में डिप्लोमा धारक के लिए यह अंडरग्रेजुएट कोर्स 3 साल का हो सकता है! कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग कोर्स के पाठ्यक्रम को सेमेस्टर के आधार में रखा जाता है! एक साल में 2 सेमेस्टर निर्धारित किये जाते है!

कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग कोर्स फीस – CSE Course Fees in Hindi

कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग कोर्स की अनुमानित फीस प्रति वर्ष 50,000 से 3 Lakh तक होती है! इसके अलावा सरकारी कॉलेजो में यह फीस एक समान हो सकती है लेकिन प्राइवेट कॉलेजो में किसी भी कोर्स की फीस को कॉलेजो द्वारा ही निर्धारित कीया जाता है!

कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग सब्जेक्ट्स – CSE Course Syllabus in Hindi

कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग कोर्स के 4 साल के कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग सब्जेक्ट्स को सेमेस्टर के आधार पर निर्धारित किया जाता है! सेमेस्टर के अनुसार CSE Course Syllabus इस प्रकार है!

पहला सेमेस्टर सीएसई पाठ्यक्रम (First Semester CSE Course Syllabus in Hindi)

  • इंजीनियरिंग गणित – I (Engineering Mathematics – I)
  • इंजीनियरिंग रसायन विज्ञान (Engineering chemistry)
  • इंजीनियरिंग भौतिकी (Engineering physics)
  • अंग्रेज़ी (English)
  • कंप्यूटर प्रोग्रामिंग (Computer programming)
  • कंप्यूटर एडेड इंजीनियरिंग ड्राइंग (Computer-Aided Engineering Drawing)
  • संचार कौशल (Communication Skills)
  • प्रयोगशाला कार्य (Lab work)

दूसरा सेमेस्टर सीएसई पाठ्यक्रम (Second Semester CSE Course Syllabus in Hindi)

  • इंजीनियरिंग गणित – II (Engineering Mathematics – II)
  • डेटा संरचना और एल्गोरिदम (Data Structure & Algorithms)
  • जावा प्रोग्रामिंग (Java Programming)
  • पर्यावरण विज्ञान और इंजीनियरिंग (Environmental Science and Engineering)
  • ऑब्जेक्ट-ओरिएंटेड प्रोग्रामिंग C++ (Object-Oriented Programming Using C++)
  • व्यक्तित्व विकास और कौशल (Personality Development and Skills)
  • इंजीनियरिंग प्रैक्टिस प्रयोगशाला-I (Engineering Practices Lab-I)
  • जावा प्रोग्रामिंग प्रयोगशाला (Java Programming Lab)
  • योग्यता – I (Aptitude – I)

तीसरा सेमेस्टर सीएसई पाठ्यक्रम (Third Semester CSE Course Syllabus in Hindi)

  • इंजीनियरिंग गणित – III (Engineering Mathematics – III)
  • डेटाबेस प्रबंधन तंत्र (Database Management Systems)
  • एल्गोरिदम डिजाइन और विश्लेषण (Design and Analysis of Algorithms)
  • कंप्यूटर आर्किटेक्चर (Computer Architecture)
  • कंप्यूटर नेटवर्क और सर्किट सिद्धांत (Computer networks and circuit theory)
  • डिजिटल सिस्टम (Digital Systems)
  • डेटाबेस प्रबंधन प्रणाली प्रयोगशाला (Database Management Systems Lab)
  • नेटवर्किंग प्रयोगशाला Networking Lab.
  • योग्यता – II (Aptitude – II)

चौथा सेमेस्टर सीएसई पाठ्यक्रम (Forth Semester CSE Course Syllabus in Hindi)

  • प्रोग्रामिंग भाषा के सिद्धांत (Principles of Programming Language)
  • डिजिटल इलेक्ट्रॉनिक्स और तर्क डिजाइन (Digital Electronics & Logic Design)
  • ऑपरेटिंग सिस्टम (Operating Systems)
  • डिजाइन परियोजना-I (Design Project-I)
  • प्रायिकता और सांख्यिकी (Probability and Statistics)
  • कंप्यूटर संगठन (Computer Organization)
  • प्रयोगशाला अभ्यास (Lab practice)
  • योग्यता – II (Aptitude – III)

पांचवा सेमेस्टर सीएसई पाठ्यक्रम (Fifth Semester CSE Course Syllabus in Hindi)

  • गणना का सिद्धांत (Theory of Computation)
  • सिस्टम सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग (System Software Engineering)
  • (डिजाइन परियोजना – II (Design Project-II)
  • ऐच्छिक-I (Elective-I) 
  • ओपन ऐच्छिक-I (Open Elective-I) 
  • पृथक गणित (Discrete Mathematics)
  • सिस्टम सॉफ्टवेयर प्रयोगशाला (System Software Lab)
  • प्रोग्रामिंग में कौशल विकास (Skill development in programming)
  • प्लेसमेंट तैयारी कार्यक्रम (Placement Preparatory Program)
  • वैकल्पिक प्रयोगशाला (Elective lab)

छठा सेमेस्टर सीएसई पाठ्यक्रम (Sixth Semester CSE Course Syllabus in Hindi)

  • इंजीनियरिंग ऐच्छिक-I (Engineering Elective-I)
  • इंजीनियरिंग ऐच्छिक-II (Engineering Elective-II)
  • संकलक के सिद्धांत (Principles of Compiler)
  • ओपन ऐच्छिक- II (Open elective-II)
  • डिजाइन आधुनिक सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग (Design Modern Software Engineering)
  • सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग लैब (Software Engineering Lab)
  • कंप्यूटर डिजाइन लैब (Computer design lab)
  • कॉम्प्रिहेंशन एंड कम्युनिकेशन स्किल्स लैब (Comprehension and Communication Skills Lab)
  • व्यक्तित्व विकास प्रयोगशाला (Personality Development Lab)
  • वैकल्पिक प्रयोगशाला (Elective Lab)

सातवां सेमेस्टर सीएसई पाठ्यक्रम (Seventh Semester CSE Course Syllabus in Hindi)

  • व्यावसायिक ऐच्छिक-I (Professional Elective-I)
  • व्यावसायिक ऐच्छिक-II (Professional Elective-II)
  • व्यावसायिक ऐच्छिक-III (Professional Elective-III)
  • ओपन ऐच्छिक-III (Open Elective-III)
  • डेटा वेयरहाउसिंग और डेटा माइनिंग (Data Warehousing and Data Mining)
  • मोबाइल कंप्यूटिंग (Mobile Computing) 
  • इंजीनियरिंग ऐच्छिक- IV (Engineering Elective-IV)
  • डाटा माइनिंग लैब (Data Mining Lab)
  • सॉफ्टवेयर डिजाइन परियोजना (Software Design Project)
  • मौखिक परीक्षा (Viva-voice)

आठवां सेमेस्टर सीएसई पाठ्यक्रम (Eighth Semester CSE Course Syllabus in Hindi)

  • सेमिनार (Seminar)
  • शोध पत्र प्रकाशन (Research Paper Publication)
  • मौखिक परीक्षा (Viva-voice)
  • प्रोजेक्ट्स/इंटर्नशिप (Projects/Internship)

सीएसई के बाद नौकरी – Job After CSE Course in Hindi

Computer Science Engineering करने के बाद आप सरकारी और प्राइवेट रूप से टेक्नोलॉजी के फील्ड में अपना शानदार करियर बना सकते है! प्रोफेशनली इंजीनियरिंग के क्षेत्र में कंप्यूटर प्रोग्रामिंग, नेटवर्किंग और वेब डिज़ाइनिंग आदि पर कार्य कर सकते है!

Computer Science Engineering कोर्स करने के बाद निम्न पदों पर आप जॉब प्राप्त कर सकते है!

  • कंप्यूटर प्रोग्रामर (Computer programmer)
  • सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर इंजीनियर (Software & hardware engineer)TOP
  • वेब डेवलपर (Web developer)
  • वेब डिजाइनर (Web designer)
  • डेटाबेस व्यवस्थापक (Database Administrator)
  • जावा प्रोग्रामर (Java programmer)
  • कंप्यूटर नेटवर्क आर्किटेक्ट (Computer Network Architect)
  • कंप्यूटर सिस्टम विश्लेषक (Computer Systems Analyst)
  • कंटेंट लेखक (Content writer)
  • व्याख्याता (Lecturer)
  • प्रोजेक्ट मैनेजर (Project Manager)

कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग सैलरी – Computer science engineering salary

एक कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग का कोर्स करने के बाद आप एक प्रोफेशनल इंजीनियर के तौर पर बड़ी बड़ी कंपनियों और IT सेक्टर में जॉब प्राप्त कर सकते है! और Computer science engineer की शुरुआत में salary प्रति महीने 25 से 30 हजार होती है! और इंजीनियर की Highest Computer Science Engineering salary 10 लाख से 15 लाख प्रति वर्ष पैकेज के साथ होती है!

भारत के टॉप सीएसई कोर्स कॉलेज – Top CSE Collages in India 

  1. IIT (Indian Institute of Technology), Mumbai
  2. MIT (Manipal Institute of Technology), Karnataka
  3. IIT (Indian Institute of Technology), Roorkee
  4. SRM Institute of Science and Technology, Chennai
  5. Birla Institute of Technology & Science, Pilani
  6. IIT (Indian Institute of Technology), Madras
  7. IIT (Indian Institute of Technology), Kanpur
  8. Indian Institute of Technology, Guwahati
  9. IIT (Indian Institute of Technology), Indore
  10. IIT (Indian Institute of Technology), Varanasi

टॉप आईटी कम्पनीया – Top IT Companies

  • Google
  • HCL (Hindustan Computers Limited), Noida
  • Wipro
  • IBM (International Business Machines)
  • Microsoft
  • TCS (Tata Consultancy Services)
  • Amazon
  • Intel
  • Infosys
  • Tech Mahindra

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल – (Frequently Asked Questions) FAQ

Q-1 कंप्यूटर इंजीनियरिंग कैसे करे?

Ans. कंप्यूटर इंजीनियरिंग कोर्स करने के लिए सबसे पहले छात्र 12th साइंस विषयो से उत्तीर्ण किया हो! और इंजीनियरिंग entrance exams क्लियर किया हो!

Q-2 कंप्यूटर साइंस कितने साल का कोर्स होता है?

Ans. CSE कोर्स 4 साल का होता है लेकिन इंजीनियरिंग में डिप्लोमा करने के बाद आप डायरेक्ट इंजीनियरिंग कोर्स के दूसरे साल में एडमिशन ले सकते है और आपको सिर्फ 3 साल में अपना CSE कोर्स की पढाई करनी होती है!

Q-3 कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग डिप्लोमा कोर्स कितने साल का होता है?

Ans. इंजीनियरिंग में डिप्लोमा कोर्स 3 साल का होता है, जिसके अंतर्गत कंप्यूटर प्रोग्रामिंग, नेटवर्किंग, सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर के बारे में बेसिक अध्ययन कराया जाता है!

Q-4 Computer science engineering course में कितने सब्जेक्ट होते हैं?

Ans. कंप्यूटर साइंस इंजीनियर कोर्स में Computer programming, Database Management Systems, java programming, Computer network, Communication skills, Hardware और software engineering आदि सब्जेक्ट्स होते है!

निष्कर्ष – Conclusion

जैसा की आज हमने सीखा Computer Science Engineering Course क्या होता है और Computer Science Engineer कैसे बने? इसके साथ ही हमने CSE कोर्स से संबंधित महत्वपूर्ण तथ्यों CSE Education Qualification, CSE Entrance Exams और Computer Science Engineering Course Syllabus के बारे में आपको जानकारी दी!

उम्मीद करते है हमारी यह पोस्ट से आप सभी को बहुत कुछ जानने को मिला होगा! यह कोर्स आज के समय में सबसे लोकप्रिय कोर्स माना जाने लगा है! पोस्ट को लाइक जरूर करें और सोशल मिडिया पर इस प्रकार की जानकारियों को शेयर अवश्य करें!

हमारी यह पोस्ट पढ़ने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद!

स्वस्थ रहें, सुरक्षित रहें और अपनों का ख्याल रखें!

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here