Rate this post

Hello Dosto, क्या आप जानते हैं सीडीओ क्या है? (CDO Kya Hota Hai) और सीडीओ ऑफिसर कैसे बने? (CDO Officer Kaise Bane) के बारे में जानते है? जो छात्र सरकारी नौकरी पाना चाहते है उनके लिए यह ब्लॉग बहुत ख़ास होने वाला है!

देश के ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में कई तरह के प्रशासनिक ऑफिसर अपने पद पर सरकारी काम कर रहे होते हैं! उनके अंतर्गत क्षेत्र के विकास की कई महत्वपूर्ण जिम्मेदारियां होती है!

कई बार हमारे लिए इन ऑफिसर के बारे में जानना बहुत ही जरूरी हो जाता है जिनके बारे में अक्सर हमसे परीक्षाओं में भी पूछा जाता है! 

आज के इस ब्लॉग में हम एक नये करियर विकल्प सीडीओ (CDO in Hindi) जैसे की सी डी ओ का फुल फॉर्म क्या होता है? सीडीओ ऑफिसर कैसे बने? (CDO Officer Kaise Bane) सीडीओ ऑफिसर बनने की शैक्षिक योग्यता क्या होती है? के बारे में विस्तार से जानेगे!

CDO Full Form in Hindi

[ CDO Kya Hai – Full Form of CDO ]

सीडीओ का फुल फॉर्म क्या होता है?

CDO Full Form: सीडीओ का फुल फॉर्म Chief Development Officer होता है! किसी भी जिले का Chief Development Officer, जिले में विकास मंत्रालय द्वारा नियुक्त एक सरकारी उच्च पद होता है!

सीडीओ का हिंदी में फुल फॉर्म यानी की अर्थ मुख्य विकास अधिकारी होता है! जिले के मुख्य विकास अधिकारी का उद्देश्य सरकारी परियोजनाओं को खंड स्तर पर लागु करना होता है!

सीडीओ के अन्य फुल फॉर्म

CDO के कुछ अन्य फुल फॉर्म इस प्रकार निम्न है!

  • Command Duty officer (कमांड ड्यूटी ऑफिसर)
  • Collateralized Debt Obligations (जमानती ऋण दायित्व)
  • Civilian Detention Officer (नागरिक निरोध अधिकारी)
  • Conduct and Discipline Officer (आचरण और अनुशासन अधिकारी)
  • Credit Default Option (क्रेडिट डिफ़ॉल्ट विकल्प)

सीडीओ क्या है (CDO Kya hai)

सीडीओ (मुख्य विकास अधिकारी) एक प्रकार का उच्च श्रेणी का कार्यकारी प्रशासनिक पद होता है! जिसकी नियुक्ति देश में राज्यों के ग्रामीण और शहरी क्षेत्र के आधार पर की जाती है!

CDO को जिला स्तर पर ग्रामीण और शहरी इलाको के विकास का कार्यभार सौपा जाता है! किसी भी जिले का CDO(मुख्य विकास अधिकारी) जिले के CEO (Cheif Executive Officer) के अधीन कार्य करता है! सीईओ जिला परिषद की प्रशासन प्रणाली का प्रमुख होता है!

इंडिया में लगभग 600 जिले है और जिलों को ग्रामीण और शहरी इलाको में विभाजित किया जाता है! सरकार द्वारा प्रत्येक जिले और खंड स्तर पर अलग अलग विकास अधिकारियों को नियुक्त किया जाता है!

जिलास्तर पर दो विकास अधिकारी को रखा जाता है जिसमे उच्च स्थान CDO का होता है! और ब्लॉक स्तर पर चुने जाने वाले विकास अधिकारी पुरे ब्लॉक के विकास के लिए उत्तरदायी होते है! सरकार की सभी योजनाओं को सही तरीके से लागु करने के आदेश भी दे सकता है!

सीडीओ बनने के लिए शैक्षिक योग्यता – CDO Officer Eligibility

मुख्य विकास अधिकारी बनने के लिए निर्धारित शैक्षिक योग्यता इस प्रकार निम्न है!

  • सीडीओ ऑफिसर बनने के लिए उम्मीदवार किसी भी युनिवेर्सिटी से ग्रेजुएशन होने चाहिए!
  • ग्रेजुएशन में उम्मीदवार कम से कम 50 प्रतिशत अंकों के साथ पास होना जरूरी है!
  • अगर आप ग्रेजुएशन अंतिम वर्ष के छात्र हैं तो आप सीडीओ एग्जाम के लिए अप्लाई कर सकते हैं!

सीडीओ बनने के लिए आयु सीमा – Age Limit For SDM in Hindi

CDO बनने के लिए सभी वर्गों के लिए एक ही आयु सीमा नहीं होती है! इसमें अलग अलग वर्गों के लिए अलग अलग आयु निर्धारित की गयी है!

S No.वर्गन्यूनतम आयुअधिकतम आयु
1.जरनल वर्ग21 वर्ष40 वर्ष 
2.ओबीसी वर्ग21 वर्ष45 वर्ष 
3.SC और ST वर्ग21 वर्ष45 वर्ष 
4. दिव्यांग वर्ग21 वर्ष55 वर्ष 

मुख्य विकास अधिकारी की भूमिका – Role of Cheif Development Officer

आम तौर पर, एक मुख्य विकास अधिकारी को वरिष्ठ अधिकारी की श्रेणी में रखा जाता है! जिले के प्रत्येक ब्लॉक स्तर पर अलग अलग विकास अधिकारियो का रखा जाता है!

क्षेत्र के विकास संबंधी योजनाओ को बनाने और जनता तक परियोजनाओं को पहुंचाने में विकास अधिकारी की मुख्य भूमिका होती है! 

  • विकास अधिकारी क्षेत्र के विकास के प्रबंधन के लिए उत्तरदायी होते है!
  • जनता के विकास के लिए सरकार से नई नई योजनाओं का प्रबंधन करना!
  • वार्षिक परियोजनाओं का डेटाबेस तैयार करना और प्रस्ताव और रिपोर्ट तैयार करना!
  • खडं स्तर पर कृषि और उद्योग हेतु नागरिको को सहायता प्रदान करना!
  • अपने प्रखंड स्तर पर परिवहन व्यवस्था को सुलभ बनाना!
  • बिजली व्यवस्था को सुचारु रूप से व्यवस्थित करना!
  • नागरिको के स्वास्थ्य की देखभाल और अपने क्षेत्र में अस्पतालों की पूर्ण रूप से व्यवस्था करना!
  • गरीबो और असहाय लोगो को आर्थिक रूप से सहायता प्रदान करना! और उनके रहन – सहन, खेती  प्रबंधन करना!

अन्य फुल फॉर्म – Other Full Forms in Hindi

LPG Full FormLLM Full Form NEET Full Form
ANM Full Form BDS Full Form BHMS Full Form
BBA Full Form B.Sc Full Form BDS Full Form
LLB Full Form ATM Full FormBA Full Form
MBA Full Form MBBS Full FormUPSC Full Form
MSP Full FormPGDM Full FormFDI Full Form
RIP Full Form WHO Full Form AWS Full Form
PHD Full Form M.Tech Full FormLPG Full Form
ITI Full Form B.Tech Full Form BMS Full Form
SSL Full FormTRP Full FormNGO Full Form
eRupi Full FormCDO Full FormCA Full Form

सीडीओ ऑफिसर कैसे बने? (CDO Officer Kaise Bane)

सीडीओ अर्थात मुख्य विकास अधिकारी बनने के लिए उम्मीदवार को लोक सेवा आयोग द्वारा संचालित किये जाने वाली परीक्षा लिए आवेदन करना होता है! इसके साथ ही अभ्यर्थी का निर्धारित शैक्षिक योग्यता के आधार पर शिक्षित होना जरुरी है! 

लोक सेवा आयोग द्वारा मुख्य विकास अधिकारी पद के लिए मुख्यता तीन चरणो में परीक्षा संपन्न की जाती है!

  1. प्रारम्भिक परीक्षा (Preliminary Exam)
  2. मुख्य परीक्षा (Main Exam)
  3. साक्षात्कार (Interview)

1). प्रारम्भिक एग्जाम (Preliminary Exam)

सबसे पहले आपको प्रारम्भिक एग्जाम पास करना होता है! प्रारम्भिक एग्जाम मे जीके (GK), भारतीय इतिहास (Indian History), विज्ञान (Science), भारतीय संस्कृति (Indian culture), रीजनिंग, भूगोल (Geography) से संबंधित सवाल पूछे जाते है! यह Objective-type एग्जाम होता है!

2). मुख्य परीक्षा (Main Exam)

यह परीक्षा का दूसरा चरण होता है! Main Examination मे आपको सीडीओ मुख्य एग्जाम देना होता है! मुख्य परीक्षा में अंग्रेजी, हिंदी और India GK के Question पूछे जाते है! 

3). साक्षात्कार (Interview)

जो भी अभ्यर्थी मुख्य परीक्षा पास कर लेते हैं उन्हें आखिरी चरण यानी की साक्षात्कार में हिस्सा लेने के लिए आमंत्रित किया जाता हैं! इस चरण में योग्यता के आधार पर साक्षात्कार लिए जाता है! 

साक्षात्कार में पैनल द्वारा अभ्यर्थी से सवाल पूछे जाते हैं! और साक्षात्कार क्लियर होने के बाद आगे अभ्यर्थी का चयन सीधे CDO ऑफिसर के पद पर कर किया जाता है! 

एक जिले में विकास अधिकारीयों की संख्या कितनी होती है!

एक जिले में विकास अधिकारीयों की संख्या इस प्रकार निम्न होती है!

  • सीडीओ (CDO)
  • डीडीओ (DDO)
  • बी.डी.ओ (BDO)
  • वीडीओ (VDO)

1). सीडीओ (CDO)

एक CDO (मुख्य विकास अधिकारी) को वरिष्ठ अधिकारी की श्रेणी में रखा जाता है! स्नातक के बाद उम्मीदवार इस पद के लिए आवेदन कर सकते है! मुख्य विकास अधिकारी का पद जिले के विकास अधिकारिओ में सबसे ऊपर होता है!

2). डीडीओ (DDO)

डीडीओ का फुल फॉर्म District Development Officer होता है! DDO को हिंदी में जिला विकास अधिकारी कहते है! डीडीओ की जिम्मेदारी जिला स्तर पर सरकारी परियोजनाओं को प्रस्तावित करना और सरकारी कार्यो को लागु करना होती है!

3). बी.डी.ओ (BDO)

बी.डी.ओ का फुल फॉर्म Block Development Officer और हिंदी में बी.डी.ओ पूरा नाम खंड विकास अधिकारी होता है! एक BDO का कार्य खंड स्तर पर सरकारी कार्यो को लागु करना होता है! यह पद के लिए आवेदन ग्रेजुएशन उत्तीर्ण करने के बाद कर सकते है!  

4). वीडीओ (VDO)

वीडीओ का फुल फॉर्म Village Development Officer होता है! VDO को हिंदी में ग्राम विकास अधिकारी कहते है! एक ग्राम विकास अधिकारी ग्राम पंचायत में केंद्र सरकार और राज्य सरकार द्वारा चलाई गयी परियोजनाओं को सुचारु तरिके से संचालित करता है!

सीडीओ ऑफिसर का मासिक वेतन – CDO Officer Salary in Hindi

जिले के एक CDO ऑफिसर का मासिक वेतन लगभग 47000 से 68000 रुपये होता है! इसके साथ ही सरकार द्वारा चीफ डेवलपमेंट ऑफिसर को कई प्रकार के मासिक भत्ते और सरकारी आवास भी प्रदान कराया जाता है! इसके अलावा अलग अलग समय पर वेतन आयोग लागु होने पर भी वेतन में वृद्धि होते रहती है!

Conclusion

आज के हमारे इस हिंदी ब्लॉग में हमने सीडीओ क्या है? (CDO Kya Hota Hai और सीडीओ ऑफिसर कैसे बने? (CDO Officer Kaise Bane) के बारे जाना इसके साथ ही CDO के लिए निर्धारित शैक्षिक योग्यता और एक CDO की एक अधिकारी के रूप में क्या भूमिका होती है! के बारे में विस्तार से जाना!

उम्मीद करते है आपको (CDO Officer Kaise Bane) यह पोस्ट से मुख्य विकास अधिकार पद से संबंधित जानकारी प्राप्त हुवी होंगी! पोस्ट को सोशल प्लेटफार्म पर अवश्य शेयर करें और CDO से संबंधित अपने सवाल और विचारो को कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं! 

हमारी यह पोस्ट पढ़ने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद!

स्वस्थ रहें, सुरक्षित रहें और अपनों का ख्याल रखें!

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here