नमस्कार दोस्तों, आज की इस पोस्ट में हम जानेंगे UPSC क्या होता है – यूपीएससी का फुल फॉर्म क्या है? – Full Form of UPSC in Hindi यूपीएससी द्वारा कौन कौन सी परीक्षाएं आयोजित की जाती है? और यूपीएससी परीक्षा आवश्यक शैक्षिक योग्यता कितनी होनी चाहिए? साथ में यह भी जानेंगे की साथ में हम जानेंगे यूपीएससी परीक्षा की तैयारी कैसे करें

12th की पढ़ाई पूरी करने के बाद आप UPSC के माध्यम से अपने करियर को बेहतरीन बना सकते है। यह भविष्य के लिए सबसे बेस्ट विकल्प माना जाता है। यदि आप सिविल परीक्षाओ को देना चाहते है तो इसके लिए आपको 12th के बाद 2 से 3 वर्ष का समय लेकर इस परीक्षा की तैयारी कर सकते है। 

UPSC Kya Hai in Hindi
UPSC Kya Hai in Hindi / Full Form of UPSC in Hindi

 आइये जान लेते है यूपीएससी से जुड़े कुछ सवालों के जवाब और यूपीएससी से जुड़े महत्वपूर्ण बातें:

यूपीएससी का फुल फॉर्म क्या है – Full Form of UPSC

UPSC का फुल फॉर्म “Union Public Services Commission” है! भारत के आजाद होने के बाद इसकी स्थापना की गयी थी! यह आयोग भारत में विभिन्न प्रकार के गवर्नमेंट पदों में भर्ती करता है।  

UPSC का हिंदी में अर्थ व Full form “संघ लोक सेवा आयोग” है! इस कमीशन को पहले नव स्थापित लोक सेवा योग के नाम से नामित किया गया था बाद में इसे संघ लोक सेवा आयोग कर दिया गया! 

यूपीएससी क्या है – UPSC kya Hai in Hindi

UPSC को भारत की प्रमुख केंद्रीय भर्ती एजेंसी माना जाता है! UPSC भारत के संविधान द्वारा बनाया गया एक निकाय है जो भारत सरकार के लोकसेवा आयोग के पदों की नियुक्ति के लिए परीक्षाओं का संचालन करता है! 

जिसके माध्यम से देश में सरकार द्वारा कई प्रकार के competitive exams का आयोजन किया जाता है यह भारतीय सेवाओं व केंद्रीय सेवाओं के ग्रुप A और ग्रुप B अर्थात प्रथम और द्वितीय समूह के लिए नियुक्तियां उपलब्ध कराता है। 

संविधान के भाग 14 के अंदर अनुच्छेद 315 और अनुच्छेद 323 में संघीय लोक सेवा आयोग और राज्यों के लिए राज्य लोक सेवा आयोग के गठन का नियम है!

UPSC द्वारा देश की प्रमुख परीक्षाएं CSE, IAS, IPS, IRS, NDA, NA, IFSE, आदि का आयोजन किया जाता है। यह एक राष्ट्रीय स्तर का सेवा आयोग है। इन सभी सेवाओं हेतु UPSC अलग अलग स्तर पर परीक्षाएं आयोजन करता है! 

यूपीएससी का इतिहास – History of UPSC in Hindi

भारत में प्रथम लोक सेवा आयोग की स्थापना 1926 में की गयी थी! संवैधानिक अधिकार मिलने के बाद 1950 में लोक आयोग की स्थापना हुई! भारत के संघ लोक सेवा आयोग का Headquarter शाहजहाँ रोड धौलपुर हाऊस (नई दिल्ली) में है! इस हाऊस का निर्माण 1920 में किया गया था!

वर्तमान में आईएएस अधिकारी वसुध मिश्रा को UPSC की नई सचिव के रूप में नियुक्‍त किया गया है!UPSC के सदस्यों की नियुक्ति राष्ट्रपति के द्वारा की जाती हैं! इसमें लोक सेवा आयोग के सदस्य शामिल होते हैं जो सभी अनुभव वाले होते हैं! इनका कार्यकाल 6 वर्ष तक होता है! 

लोक सेवा आयोग की स्थापना पर जोर देने के लिए मुख्य चार बातों पर विशेष ध्यान दिया गया!

  • सार्वजनिक सेवा के लिए भर्ती!
  • सेवा में अच्छा कार्य करने वालों की योग्यता का उचित मान सम्मान! 
  • सेवाओं के अधिकारों की सुरक्षा, अनुष्ठान की व्यवस्था! 
  • सेवा संबंधी समस्याओं पर परामर्श और अनुमति!

इसमें यह भी नियम बनाया गया कि Education के निर्धारण पर कमर्चारियों की नियुक्तियां हो! इसमें First और Second Category श्रेणी के आधार पर कर्मचारियों की नियुक्ति हो! सेवाओं में पदोन्नति, अनुशासन, भत्ते, पेंशन अदि सभी सुविधाएँ शामिल हो! 

1935 में सभी प्रस्ताव को मान लिया गया और लोक सेवा आयोग के कार्यों को स्पष्ट कर दिया गया! 

UPSC के सदस्यों की नियुक्ति राष्ट्रपति के द्वारा की जाती हैं! इसमें लोक सेवा आयोग के सदस्य शामिल होते हैं जो सभी अनुभव वाले होते हैं! इनका कार्यकाल 6 वर्ष तक होता है! 

यूपीएससी के लिए शैक्षिक योग्यता – Qualification for UPSC exam

जैसे कि हमने आपको बताया UPSC कई तरह के सरकारी पदों पर नियुक्तियां कराता है! अगर कोई भी उम्मीदवार UPSC की तैयारी करने की सोच रहे हैं यूपीएससी परीक्षाओ के लिए निर्धारित की गयी शैक्षिक योग्यता इस प्रकार है:

  • उम्मीदवार के पास भारत की स्थायी नागरिकता होनी चाहिए! 
  • मान्यता प्राप्त विश्विद्यालय से डिग्री की हो। 
  • उम्मीदवार की उम्र 21 से 32 के बीच होनी चाहिए!
  • पिछड़े वर्ग के उम्मीदवार के लिए उम्र 21 से 35 वर्ष निर्धारित की गयी है। 

यूपीएससी के कार्य – Works of UPSC in Hindi

UPSC के निर्धारित कार्य निम्न है:

  1. (सघ लोक सेवा आयोग) का मुख्य कार्य केंद और राज्य की सेवा के लिए कर्मचारियों की नियुक्ति करना हैं!
  2. यूपीएससी द्वारा संघ के लिए सेवाओ में नियुक्ति हेतु परीक्षा आयोजित की जाती है। 
  3. सिविल सेवाओं के लिए रिक्त पदों में प्रति वर्ष नियुक्ति करना। 
  4. एक सेवा से दूसरी सेवाओं में स्थांतरण करना। 
  5. देश में सिविल सेवाओं के नियमो और कर्तव्यों का निर्धारण करना।  
  6. देश के राष्ट्रपति द्वारा आयोग को अग्रेषित किसी भी मामले में परामर्श देना। 

यूपीएससी द्वारा आयोजित किये जाने वाले परीक्षाओ की सूची – UPSC exams list 

No.UPSC Exam list
1.IAS (Civil Services (Main) Examination)
2.IFS (Indian Forest Service Examination)
3.NDA/NA (National Defense Academy & Naval Academy Examination)
4.CDS (Combined Defense Services Examination)
5.CGS/GE (Combined Geo-Scientist and Geologist Examination)
6.IES/ISS (Indian Economic Service and Indian Statistical Service Examination)
7.CMS (Combined Medical Services Examination)
8.IES (India Engineering Services Examination)
9.CAPF (Central Armed Police Forces Examination)
10.SCRA (Special class railway apprentices Examination)
11.IAS (Indian administrative services)

इसके अतिरिक्त भी अन्य सरकारी पदों पर भर्तियां या विशेष कार्य करना जैसे पदोन्नति समितियों का आयोजन, भर्ती नियमों की देखरेख, पदों से जुड़ा कोई मामंला सुलझाना इत्यादि संघ लोक सेवा आयोग का मुख्य उद्देश्य है! 

यूपीएससी की परीक्षा के लिए तैयारी कैसे करें – UPSC Ki Taiyari kaise kare

देश भर में लाखो लोगो द्वारा यूपीएससी परीक्षाओ के लिए अप्लाई किया जाता है। UPSC परीक्षा को सबसे कठिन एग्जाम माना जाता है। इसके लिए तरिके से अभ्यास करना आवश्यक होता है। तो आइये जान लेते है UPSC एग्जाम के preparation के लिए कुछ महत्वपूर्ण तरिके जो निम्न है:

1.खुद को तैयार करे 

यदि आप भी upsc एग्जाम देने के सोच रहे है। और एक सरकारी पद में अपना करियर बनाना चाहते है। तो सबसे पहले आपको खुद को मानसिक और शारीरिक रूप से तैयार करना है। स्वस्थ्य शरीर ही स्वस्थ्य मस्तिष्क का विकास में सहायक होता है। हमेशा Positive और confident रहे है।   

मानसिक रूप से स्वस्थ्य होना बहुत ही आवश्यक है तभी आप किसी भी प्रतियोगी परीक्षाओ के लिए व्यवस्थित ढंग से अभ्यास कर पाएंगे। यूपीएससी परीक्षाओ के लिए पूर्ण रूप से ठीक होना बहुत ही आवयश्यक होता है। 

2. NCERT सिलेबस के माध्यम से अभ्यास करें 

यूपीएससी परीक्षाओ के अभ्यास हेतु NCERT सिलेबस को जाने और इसके आधार पर ही परीक्षाओ की preparation करें। NCERT की बुक्स जो स्कूल में पढ़ाई जाती है आपको बता दें अधिकतर सरकारी परीक्षाओ में यही NCERT sllybus से ही सवाल पूछे जाते है। 

तो आपको जितना सम्भव हो 12वीं तक की NCERT विषयो का ज्ञान होना चाहिए जो आपके यूपीएससी परीक्षाओ को Crack करने में बहुत ही लाभदायक होगा। इसके अलावा competitive preparation books के माध्यम से अपनी परीक्षाओ की तैयारी कर सकते है। 

3.  Time table (schedule) बनाये 

यदि आप सरकारी परीक्षाओ की Preparation कर रहे है तो इसके लिए एक टाइम टेबल बनाना बहुत आवश्यक होता है। जिसमे आप अपने प्रत्येक विषयो को समय दे कर उनका अभ्यास कर सकते है। 

टाइम टेबल की खास बात यह है की आप जिस विषय में कमजोर है तो आप उसमें अपना अधिक समय देकर प्रयास कर सकते है। इससे आप एक सही समय में सही तरीके से सरकारी प्रतियोगी परीक्षाओ की तैयारी कर सकते है। 

4. पढ़ाई के लिए study material तैयार रखे  

UPSC exam के preparation के लिए सबसे पहले study material जैसे: upsc exam sllaybus, और books का होना तो बहुत ही आवश्यक होता है। सिलेबस के अनुसार पढ़ाई कर नोट्स बनाये। 

आप चाहे तो ऑनलाइन लर्निंग कर सकते है। E magzine और ऑनलाइन टेस्ट के माध्यम से आप प्रतियोगी परीक्षाओ की तैयारी कर सकते है। यदि आप एंड्राइड फ़ोन इस्तेमाल करते है तो आप अपने फ़ोन में ही ऑनलाइन मोबाइल एप्प के माध्यम से भी preparation कर सकते है। 

Best Books for UPSC preparation

No.Books NameAuthor
1.Indian Polity for Civil Services Examinations M. Laxmikanth
2.Indian EconomyRamesh singh
3.Constitution of IndiaDD basu
4.World GeographyMajid Hussain
5.Ethics, Integrity & Aptitude Subba Rao and PN Rao Chaudhry
6.Central Physical and Human Geography GC Leong

इन्हें भी पढ़ें 

UPSC परीक्षा को पास करने के लिए मुख्य इन बातों का ध्यान रखना चाहिए

UPSC के पुराने प्रश्न पत्रों को हल करें! इससे आपका रिवीजन भी होगा और कई बार प्रश्न रिपीट होकर आते रहते हैं जिसमें आपको बहुत आसानी होगी! 

जिस विषय पर भी आप अपनी परीक्षा दे रहे हैं! सबसे पहले उसके ढांचे को समझें! परीक्षा के पैटर्न को समझना आपके लिए बहुत ही आवशयक है! 

जानकारों का मानना है कि इस परीक्षा को पास करने में NCERT की Books आपका साथ दे सकती हैं! NCERT की किताबों को पढ़ें! इस परीक्षा को पास करने में Hard Work के साथ Soft Work करने की भी सोचे!

आप इंटरनेट की सहायता ले सकते हैं! बड़े अधिकारीयों के Interview सुनें! सरकारी विभागों के बारे में जानकारियां जुटाएं! Daily News Paper को पढ़ें! इससे General Knowledge बढ़ेगा और आप Update रहेंगे! 

सामाजिक मुद्दों पर डिबेट करें और सरकारी नीतियों का ब्यौरा समाजिक गतिविधियों या समाज के लॉगो से जानने की कोशिश करें! 

निष्कर्ष – Conclusion

आपको एक बात ध्यान रखने की जरुरत है कि UPSC की परीक्षा कुछ दिनों की तैयारी करने के बाद ही clear नहीं की जा सकती है! कुछ लोग इस तरह की परीक्षा पास करने के लिए सालों लगा देते हैं! 

तो आज के Full Form of UPSC in Hindi – यूपीएससी क्या है इस पोस्ट में हमने जाना UPSC kya Hai in Hindi यूपीएससी का फुल फॉर्म क्या है Full Form of UPSC in Hindi इसका हिंदी में मीनिंग क्या है Hindi Meaning of UPSC और यूपीएससी का इतिहास क्या है History of UPSC यूपीएससी का सचिव कौन है UPSC ke sachiv kaun hai.

साथ में हमने जाना UPSC सिविल सेवा परीक्षा क्या है UPSC Civil Services Exam kya Hai यूपीएससी परीक्षा की तैयारी UPSC ki taiyari kaise kare यूपीएसई क्या कार्य करती है Works of UPSC in Hindi और इसके लिए हमें किन मुख्य बातों का ध्यान रखना चाहिए!

मैं आशा करता हूँ आज के इस पोस्ट से आपको बहुत कुछ जानने को मिला होगा! Full Form of UPSC in Hindi यूपीएससी क्या है इस पोस्ट को अपने दोस्तों और रिश्तेदारों को Share अवश्य करें! 

आप हमारे इस हिंदी ब्लॉग को Subscribe भी अवश्य कर लें! ताकि कोई भी नई जानकारी हम अपने ब्लॉग पर शेयर करेंगे तो उसका Notifaction सबसे पहले आपके पास पहुंचेगा! 

आपका बहुत बहुत धन्यवाद!

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here