नमस्कार दोस्तों, क्या आपको PGDM Full Form, पीजीडीएम कोर्स क्या है? और पीजीडीएम कोर्स कैसे करे? पता है? पीजीडीएम बिज़नेस, मार्केट और मैनेजमेंट के क्षेत्र में किया जाने वाला एक डिप्लोमा कोर्स है! इससे पिछले में हमने MBA कैसे करें? के बारे में बताया था! आज के इस हिंदी लेख में हम PGDM Course Kya hai, इग्नू से पीजीडीएम कोर्स कैसे करें? साथ ही PGDM Course Fees और सैलरी के बारे में विस्तार से बताने वाले है!

यदि आप अभी 12वी के छात्र है या फिर आप 12वी पास कर चुके है और साथ ही आप बिज़नेस, मार्केटिंग और प्रबंधन यानी की मैनेजमेंट के क्षेत्र में रूचि रखते है तो आपके लिए पीजीडीएम कोर्स बहुत ही फायदेमंद होने वाला है! 

PGDM कोर्स में आपको वित्तीय, व्यवसाय और मैनेजमेंट के सभी विषयों का अध्ययन विस्तार से कराया जाता है! इसके साथ ही इस कोर्स के पाठ्यक्रम को छात्रों में वैश्विक स्तर के कौशल और क्षमताओं को ध्यान में रखकर तैयार किया जाता है! 

तो चलिए इस पोस्ट को आगे बढ़ाते है और PGDM Full Form, पीजीडीएम कोर्स क्या है? (PGDM Course Kya hai) और इग्नू से पीजीडीएम कोर्स कैसे करें? के बारे में विस्तार पूर्वक जानते है!

PGDM Full Form Hindi

विषय - सूची

पीजीडीएम का फुल फॉर्म क्या है – PGDM Full Form

PGDM Full Form: पीजीडीएम का फुल फॉर्म Postgraduate Diploma in Management होता है! यह AICTE (All India Council for Technical Education) द्वारा एक मान्यता प्राप्त डिप्लोमा कोर्स होता है!

PGDM Full Form in Hindi: पीजीडीएम का हिंदी में फुल फॉर्म यानि की अर्थ प्रबंधन में स्नाकोत्तर डिप्लोमा होता है!

पीजीडीएम कोर्स क्या है? – PGDM Course Kya Hai

PGDM Course Kya Hai: पीजीडीएम प्रबंधन के क्षेत्र में किया जाने वाला स्नाकोत्तर डिप्लोमा कोर्स होता है! जिसके अंतर्गत व्यवसायिक प्रबंधन से संबंधित पाठ्यक्रम (व्यापार, मानव संसाधन, वित्त, अर्थव्यवस्था और संचार प्रबंधन आदि)का अध्ययन कराया जाता है! 

पोस्ट ग्रेजुएट पाठ्यक्रमों को PGDM कहे जाने का यह तात्पर्य होता है कि जब कोई संस्थान एक स्वायत्त निकाय यानि की किसी विश्वविद्यालय से संबद्ध नहीं हो और प्रबंधन पाठ्यक्रम उपलब्ध करता है तो ऐसे संस्थान एमबीए की डिग्री प्रदान नहीं कर सकते हैं!

स्वायत्त संस्थान विश्वविद्यालय के पाठ्यक्रम का पालन करने के बजाय अपना स्वयं का पाठ्यक्रम तैयार करते हैं!

पीजीडीएम कोर्स के अंतर्गत टीम वर्क, कम्युनिकेशन स्किल्स, योजना रणनीति आदि पहलुओं पर फोकस किया जाता है! 

पीजीडीएम कोर्स शैक्षिक योग्यता – PGDM course qualification

PGDM course को करने के लिए आवश्यक शैक्षिक योग्यता इस प्रकार है!

  • छात्र का किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से स्नातक उत्तीर्ण किया गया हो!
  • पीजीडीएम कोर्स में एडमिशन प्राप्त करने हेतु ग्रेजुएशन में 50% मार्क्स प्राप्त किये गए हो!
  • यह कोर्स को करने के लिए किसी भी प्रकार की आयु सिमा निर्धारित नहीं की गयी है!
  • SC/ST श्रेणी के छात्र को पीजीडीएम कोर्स में प्रवेश के लिए स्नातक 45% मार्क्स के साथ उत्तीर्ण करना होता है! 
  • ग्रेजुएशन के अंतिम वर्ष में छात्र पीजीडीएम कोर्स के लिए आवेदन कर सकते है!

पीजीडीएम कोर्स में एडमिशन कैसे लें – PGDM Course Admission Process

PGDM प्रोग्राम में प्रवेश करने के लिए छात्र को अपनी शैक्षिक योग्यता को कोर्स के Requirement के अनुसार क्रिएट करना होता है इसके बाद ही पीजीडीएम कोर्स के लिए आवेदन कर सकते है!

👉 बारहवीं कोई एक स्ट्रीम से उत्तीर्ण करें!

यदि आप पीजीडीएम कोर्स यानि की मेनेजमेंट के फील्ड में पोस्ट ग्रेजुएशन डिप्लोमा करना चाहते है! इसके लिए सबसे पहले आपको किसी एक स्ट्रीम से अपना बारहवीं करना होता है!

👉 ग्रेजुएशन की पढ़ाई पूरी की हो!

यह आवश्यक होता है की पीजीडीएम प्रोग्राम में एडमिशन के लिए कैंडिडेट्स को ग्रेजुएशन किसी भी स्ट्रीम के साथ पूरा करना होता है! आपको बता दे आप ग्रेजुएशन के अंत वर्ष में पीजीडीएम कोर्स के लिए आवेदन कर सकते है!

👉 पीजीडीएम प्रवेश परीक्षा के लिए आवेदन करें!

पोस्टग्रेजुएशन डिप्लोमा इन मेनेजमेंट कोर्स में प्रवेश के लिए पीजीडीएम एंट्रेंस एग्जाम के लिए आवेदन करना होता है! यह परीक्षाएं राष्ट्रीय और स्टेट लेवल पर आयोजित की जाती है! परीक्षा के लिए आवेदन ऑनलाइन कर सकते है! 

इस प्रकार आपको एंट्रेंस एग्जाम देना होता है और एग्जाम को क्लियर करना होता है! परीक्षा में प्राप्त किये गए रैंक के आधार पर आपको यूनिवर्सिटी उपलब्ध कराया जाता है!

👉 इंटरव्यू

आईआईएम यूनिवर्सिटी में एंट्रेंस एग्जाम क्लियर करने के बाद छात्र को ग्रुप डिस्कशन और लिखित क्षमता परीक्षण में भाग लेना होता है! इसके अलावा कैंडिडेट्स का इंटरव्यू लिया जाता है! इस प्रकार सभी स्कोर को काउंट किया जाता है! तब आईआईएम कॉलेज में एडमिशन दिया जाता है!

प्रत्येक पीजीडीएम यूनिवर्सिटी में एडमिशन प्रोसेस के रूल्स अलग अलग होते है!

पीजीडीएम कोर्स समय अवधि – PGDM course duration

यह 2 साल का पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा कोर्स होता है! इस समय अवधि में सेमेस्टर के आधार पर पाठ्यक्रम का अध्ययन किया जाता है!

पीजीडीएम कोर्स पाठ्यक्रम – PGDM Course Syllabus

PGDM course subjects: प्रबंधन में स्नातकोत्तर डिप्लोमा पाठ्यक्रम में कई अलग अलग विषयो का अध्ययन किया जाता है और उनमे से छात्र अपनी रूचि के अनुसार विषयो को चुन सकते है!

PGDM पाठ्यक्रम अनिवार्य विषयों और वैकल्पिक विषयों पर आधारित होता है! सेमेस्टर के आधार पर पीजीडीएम कोर्स पाठ्यक्रम इस प्रकार है!

पीजीडीएम पहला सेमेस्टर विषय – First Semester PGDM Course Subjects

  • प्रबंधन कार्य और व्यवहार (Management Functions & Behavior)
  • मानव संसाधन प्रबंधन (Human Resource Management)
  • आर्थिक और सामाजिक पर्यावरण (Economic and Social Environment)
  • सूचना प्रौद्योगिकी का परिचय (Introduction to Information Technology)

पीजीडीएम दूसरा सेमेस्टर विषय – Second Semester PGDM Course Subjects

  • संचालन प्रबंधन (Operations Management)
  • प्रबंधकीय अर्थशास्त्र (Managerial Economics)
  • विपणन प्रबंधन (Marketing Management)
  • प्रबंधकों के लिए मात्रात्मक तकनीक (Quantitative Techniques for Managers)
  • कूटनीतिक प्रबंधन (Strategic Management)

पीजीडीएम तीसरा सेमेस्टर विषय – Third Semester PGDM course subjects

  • विपणन प्रबंधन (Marketing Management)
  • मानव संसाधन प्रबंधन (Human Resource Management)
  • वित्तीय प्रबंधन (Financial Management)
  • संचालन प्रबंधन (Operations Management)
  • बीमा प्रबंधन (Insurance Management)
  • सूचना प्रणाली (Information System)
  • अंतरराष्ट्रीय व्यापार (International business)

पीजीडीएम चौथा सेमेस्टर विषय – Forth Semester PGDM Course Subjects

  • प्रबंधन सूचना प्रणाली (Management Information Systems)
  • व्यापार कानून और कॉर्पोरेट प्रशासन (Business Law and Corporate Governance)
  • अंतरराष्ट्रीय व्यापार (International business)
  • अनुसंधान क्रियाविधि (Research Methodology)
  • परियोजना कार्य (Project work)

पीजीडीएम कोर्स प्रवेश परीक्षा – PGDM Course Entrance Exams

पोस्टग्रेजुएट डिप्लोमा इन मेनेजमेंट कोर्स में प्रवेश हेतु देश में नेशनल और स्टेट और यूनिवर्सिटी स्तर पर कई अलग अलग एंट्रेंस एग्जाम का आयोजन किया जाता है! जो इस प्रकार है!

  1. CAT 
  2. XAT
  3. GMAT
  4. CMAT
  5. ATMA
  6. NMAT

👉 CAT

इसका फुल फॉर्म Common Admission test होता है! यह परीक्षा को भारतीय प्रबंधन संस्थान (आईआईएम) द्वारा आयोजित किया जाता है! 

CAT परीक्षा कंप्यूटर बेस्ड एग्जाम होता है! इसमें क्वांटिटेटिव एप्टीट्यूड, लॉजिकल रीजनिंग, वर्बल एबिलिटी और रीडिंग कॉम्प्रिहेंशन से संबंधित सवाल पूछे जाते है!

👉 XAT

इसका फुल फॉर्म Xavier Aptitude test होता है! यह एक टॉप नेशनल लेवल मेनेजमेंट एंट्रेंस एग्जाम होता है! XAT एग्जाम को जेवियर स्कूल ऑफ मैनेजमेंट द्वारा आयोजित किया जाता है! 

👉 GMAT

इसका फुल फॉर्म Graduate Management Aptitude Test होता है! यह परीक्षा को स्नातक प्रबंधन प्रवेश परिषद [जीएमएसी] द्वारा आयोजित किया जाता है! इस परीक्षा में विश्लेषणात्मक लेखन मूल्यांकन, मात्रात्मक, मौखिक सवाल पूछे जाते है!

👉 CMAT

इसका पूरा नाम Common Management Admission Test है! यह एग्जाम को नेशनल टेस्ट एजेंसी द्वारा आयोजित किया जाता है! 

अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद [एआईसीटीई] द्वारा प्रबंधन और व्यावसायिक संस्थानों में प्रवेश हेतु राष्ट्रीय स्तर के यह परीक्षा को स्वीकृत किया जाता है !

👉 ATMA

इसका फुल फॉर्म AIMS Test for Management Admissions होता है! यह परीक्षा मानव संसधान विकास मंत्रालय द्वारा मान्यता प्राप्त है और ATMA एग्जाम को  एसोसिएशन ऑफ इंडियन मैनेजमेंट स्कूल द्वारा प्रबंधन कार्यक्रमों में प्रवेश हेतु आयोजित किया जाता है! 

👉NMAT

सका फुल फॉर्म NMIMS Management Aptitude Test होता है! यह एग्जाम को नरसी मोंजी इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट साइंसेज [एनएमआईएमएस] द्वारा आयोजित किया जाता है! NMAT एग्जाम प्रबंधन कोर्स में एडमिशन के लिए राष्ट्रीय स्तर पर संचालित की जाती है!

पीजीडीएम कोर्स फीस – PGDM Course Fees

पीजीडीएम कोर्स की फीस लगभग सालाना 3 से 12 लाख हो सकती है! यह फीस अलग अलग यूनिवर्सिटी में अलग अलग होती है! 

एमबीए और पीजीडीएम में अंतर – Difference Between MBA and PGDM Course

तो चलिए अब पीजीडीएम और एमबीए के बीच का अंतर जान लेते है!

S.No MBA Course PGDM Course
1.एमबीए का पूरा नाम मास्टर ऑफ़ बिज़नेस एडमिनिस्ट्रेशन होता है!पीजीडीएम का पूरा नाम पोस्टग्रेजुएट डिप्लोमा इन मेनेजमेंट होता है! 
2.MBA तीन वर्ष की समय अवधि की पूर्णकालिक स्नातक डिग्री होती है!PGDM दो वर्ष का डिप्लोमा कोर्स होता है! 
3.एमबीए विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) द्वारा मान्यता प्राप्त कोर्स होता है! पीजीडीएम अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद (एआईसीटीई) द्वारा एक मान्यता प्राप्त कोर्स होता है! 
4.एमबीए पाठ्यक्रम पाठ्यक्रम विश्वविद्यालय द्वारा डिजाइन किया जाता है! MBA अधिक सैद्धांतिक है! पीजीडीएम पाठ्यक्रम व्यक्तिगत संस्थान द्वारा निर्धारित किए जाते हैं! PGDM अधिक व्यावहारिक है!
5.MBA कोर्स को करने की फीस सालाना लगभग 20 हजार से 4 लाख तक हो सकती है! यह कोर्स कम लागत में भी कर सकते है!
MBA की तुलना में PGDM कोर्स की फीस अधिक होती है जो 3 लाख से 12 लाख प्रति वर्ष हो सकती है!
6.एमबीए कोर्स के पाठ्यकर्म में वित्तीय प्रबंधन, मानव संसाधन प्रबंधन, ग्राहक संबंध प्रबंधन, विपणन अनुसंधान, संचालन प्रबंधन, आदि विषयो का अध्ययन कराया जाता है!
पीजीडीएम कोर्स के पाठ्यक्रम के अंतर्गत वित्तीय लेखांकन, व्यावसायिक अर्थशास्त्र, गणित और सांख्यिकी की मूल बातें, विपणन प्रबंधन, व्यवसाय संचार, मानव संसाधन प्रबंधन, अंतरराष्ट्रीय व्यापार आदि विषयो को पढ़ाया  जाता है!

पीजीडीएम कोर्स के बाद नौकरी – Job Profile after PGDM Course

मैनेजमेंट में पोस्टग्रेजुएट डिप्लोमा करने के बाद कैंडिडेट्स को एक अच्छे पद पर नौकरी करने का अवसर प्राप्त हो सकता है! आप निजी और सार्वनजिक क्षेत्रों में कार्य कर सकते है!

पीजीडीएम के बाद आप मैनेजर, सलाहकार और प्रबंधक के तौर पर आप कार्य कर सकते है! आपको बता दे एक अच्छी जॉब और इनकम आपके अनुभवों, कौशल पर निर्भर करता है! पीजीडीएम कोर्स करने के बाद आप निम्न पदों पर जॉब प्राप्त कर सकते है!

  • प्रशासनिक अधिकारी (Administrative Officer)
  • व्यापार सलाहकार (Business Consultant)
  • वित्त प्रबंधक (Finance Manager)
  • मानव संसाधन प्रबंधक (Human Resource Manager)
  • जनसंपर्क अधिकारी (Public Relations Officer)
  • विपणन कार्यकारी (Marketing Executive)
  • प्रबंधन सलाहकार (Management Consultant)
  • परियोजना प्रबंधक (Project manager)

भारत के टॉप पीजीडीएम कॉलेज – Top PGDM Collage in India

  • एक्सएलआरआई-जेवियर स्कूल ऑफ मैनेजमेंट, झारखंड
  • एसपीजेआईएमआर, मुंबई
  • नरसी मोंजी इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट स्टडीज, मुंबई
  • प्रबंधन विकास संस्थान, गुड़गांव
  • एम्स संस्थान, बैंगलोर
  • भारतीय समाज कल्याण और व्यवसाय प्रबंधन संस्थान, कोलकाता
  • जेवियर इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट एंड एंटरप्रेन्योरशिप, बैंगलोर
  • बालाजी इंस्टीट्यूट ऑफ मॉडर्न मैनेजमेंट, पुणे
  • सिम्बायोसिस इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट स्टडीज, पुणे
  • इंजीनियरिंग और प्रबंधन संस्थान, कोलकाता

पीजीडीएम कोर्स इग्नू से कैसे करें – PGDM Course from Ignue

भारत का टॉप और लोकप्रिय कॉलेज इग्नू यानी की इंदिरा गाँधी मुक्त विश्वविद्यालय दूरस्थ शिक्षा प्रणाली के लिए प्रसिद्ध है! इग्नू से छात्र दूरस्थ शिक्षा के माध्यम से ग्रेजुएशन, पोस्टग्रेजुएशन, डिप्लोमा, मास्टर डिग्री और डॉक्टरेट डिग्री कोर्स कर सकते है! 

आप चाहे तो यह पीजीडीएम कोर्स के लिए आवेदन इग्नू से कर सकते है! यदि आप किसी वजह से रेगुलर यूनिवर्सिटी उपस्थित नहीं हो पाते है इसमें आपको  चिंता करने की कोई आवश्यकता नहीं है! आप इग्नू से भी कोर्स कर सकते है!

इग्नू से पीजीडीएम कोर्स करने के लिए कैंडिडेट्स की शैक्षिक योग्यता – 50 % मार्क्स के साथ ग्रेजुएशन उत्तीर्ण किया हो और कोई एक पीजीडीएम प्रतियोगी परीक्षा पास किया हो!

PGDM Distance Education Colleges in India

PGDM Distance Education Colleges in India: चलिए जान लेते है भारत में इग्नू के अलावा दूरस्थ शिक्षा यानि की Distance education उपलब्ध कराने वाले यूनिवर्सिटी के नाम निम्न है!

  • इग्नू (इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मुक्त विश्वविद्यालय), नई दिल्ली
  • एसएमयू (सिक्किम मणिपाल विश्वविद्यालय पूर्वी), सिक्किम
  • एसआईयू (सिम्बायोसिस इंटरनेशनल यूनिवर्सिटी), पुणे
  • आईबीएस (आईसीएफएआई बिजनेस स्कूल), हैदराबाद
  • बीयू (भारतीदासन विश्वविद्यालय), तिरुचिरापल्ली
  • एमिटी विश्वविद्यालय, दूरस्थ और ऑनलाइन शिक्षा
  • एमआईटी स्कूल ऑफ डिस्टेंस एजुकेशन, पुणे

निष्कर्षConclusion

आज के इस हिंदी आर्टिकल में हमने PGDM Full Form, पीजीडीएम कोर्स क्या है? (PGDM Course Kya hai) और इग्नू से पीजीडीएम कोर्स कैसे करें? के बारे में जाना! इसके साथ ही पीजीडीएम कोर्स शैक्षिक योग्यता, कोर्स समय अवधि, PGDM Course Fees और सैलरी के बारे में विस्तार से जाना!

उम्मीद करते है आपको हमारी यह जानकारी पसंद आयी होगी! फिर भी आपको हमारी यह पोस्ट कैसी लगी, हमें कमेंट सेशन में जरूर बताये! पोस्ट को अपना एक लाइक जरूर दें! और इस पोस्ट को अपने Social Side (Facebook, Instagram और WhatsApp) में Share जरूर करें!

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here