क्या आपको पता है CA का फुल फॉर्म (Full Form of CA) क्या होता है! अक्सर Account में रूचि रखने वाले छात्रों से पूछने पर अधिकतर छात्र CA बनना पसंद करते है! तो आखिर CA क्या है (CA Kya Hai). असल में CA की जॉब को एक बहुत ही उच्च, सम्मानीय और बहुत ज्यादा वेतन प्राप्त करने वाला Career Option माना जाता है! 12वी कक्षा पास करने के बाद छात्रों के लिए CA की पढ़ाई करके CA बनने का रास्ता खुल जाता है!

यदि आप 12वी में कॉमर्स के छात्र है तो वाकई CA को Profession के रूप में चुनना आपके लिये बेहतर Decision साबित होगा लेकिन यदि आप Science या फिर Arts के छात्र है और Accounts में रूचि रखते है तो आप भी CA Entrance Exam को Clear करके CA की पढ़ाई कर सकते है और एक Successful Charted Accountant बन सकते है!

काफी छात्र बचपन से ही Account जैसे फाइनेंस,टैक्स और मेनेजमेंट में बहुत तेज़ दिमाग के होते है! और CA बनने की चाह रखते है बहुत बार ठीक प्रकार से Course संबंधित जानकारी के अभाव के कारण छात्र अपने Career को एक सही दिशा नहीं दे पाते है!

Full Form of CA in Hindi
Full Form of CA in Hindi

CA कोर्स Account के क्षेत्र में एक बहुत ही चर्चित और Reputed Course माना जाता है! यदि आप भी CA बनना चाहते है तो आज का यह Article आपके लिए बहुत जरुरी होने वाला है इस Hindi Article में हम आपको CA क्या है (CA Kya Hai), CA का फुल फॉर्म (CA Ka Full Form) के साथ साथ CA कोर्स के बारे में पूरी जानकारी विस्तार से बताने वाले है! तो बने रहिये हमारे इस Hindi Article में! 

सीए फुल फॉर्म (Full Form of CA in Hindi)

CA का Full form Chartered accountant होता है! मुख्य रूप से Chartered accountants Businesses और फाइनेंस के सभी क्षेत्रों में कार्य करने का एक प्रतिष्ठित पेशा है!

सीए का मतलब (CA Meaning in Hindi)

हिंदी मे सीए का मतलब सनदी लेखाकार होता है! सनदी लेखाकार का कार्य क्षेत्र किसी निजि या सरकाई संस्थाओं के Accounting और taxation से संबंधित है!

सीए क्या है (CA Kya Hai in Hindi)

CA (Chartered accountant) Accounting के क्षेत्र व्यवसायिक लेखाशास्त्र संस्था या संघ के सदस्यों द्वारा प्रयोग की जाने वाली उपाधि है! दरअसल CA का कोर्स पुरे 5 साल का होता है।इस कोर्स के अंतर्गत वित्तीय मामलों फाइनेंस मैनजमेंट, फाइनेंस ऑडिटिंग, टैक्सेशन, अकॉउंट एनालिसिस और कानून संबंधित अध्ययन कराया जाता है!

भारत देश में Chartered Accountant Professional को देश के ICAI (Institute of Chartered accountant In India) द्वारा Regulate किया जाता है! ICAI इंडिया में एक प्रोफेशनल एकाउंटिंग संस्था है जिसकी स्थापना संसद द्वारा Chartered accountant Act 1949 के तहत एक सांविधिक निकाय के रूप की गयी। 

सीए कोर्स के लिए शैक्षिक योग्यता (Eligibility for CA Course in Hindi) 

CA कोर्स करने के लिए सरकार द्वारा निर्धारित की गयी शैक्षिक योग्यता इस प्रकार निम्न है:

  • आप 10th उत्तीर्ण करने के बाद CPT Entrance exam के लिए आवेदन कर सकते है! और CPT एग्जाम की तैयारी शुरू कर सकते है!
  • लेकिन आपको केवल 12th complete करने के बाद ही CPT एग्जाम देना होता है!
  • अर्थात CPT एग्जाम के लिए 12th किसी भी स्ट्रीम (आर्ट, कॉमर्स, साइंस) से पास किया हो!
  • 12th में 50% मार्क्स प्राप्त किये हो! और यदि आप ग्रेजुएशन के बाद CA करना चाहते है इसके लिए ग्रेजुएशन कॉमर्स से 60% मार्क्स के साथ पास किया हो!

सीए का कोर्स कैसे करें (CA ka Course Kaise Kare)

यदि आप CA का Course करना चाहते है तो इसके लिए आपको 12th उत्तीर्ण करने के बाद First Level Entrance Exam जिसे CPT कहा जाता है, देना होता है! CPT Exam पास करने के बाद Next Level CA प्रवेश परीक्षा के लिए आवेदन (Registration) करना होता है!

इसके बाद आपको Final Level CA प्रवेश परीक्षा को Clear करना होता है! आइये जान लेते है की किस प्रकार से आपको CA Entry Level के सभी Exams को पास करना होता है! जिसके बाद आप CA Course में प्रवेश कर सकते है!

सीए प्रवेश परीक्षा – CA Entrance exam  

सीए की परीक्षा को The Institute of Chartered Accountants of India द्वारा आयोजित किया जाता है! CA बनने के लिए आपको तीन प्रकार की परीक्षाओ को Clear करना होता है तब जाके आप CA Course में एडमिशन प्राप्त कर सकते है यह प्रवेश परीक्षा निम्नलिखित है:

  1. CPT
  2. IPCC
  3. Final Exam

1. CPT (Foundation Course)

इसका पूरा नाम Common Proficiency Test होता है। यह एक Entry Level Exam होता है। जो की CA Course में प्रवेश हेतु आयोजित किया जाने वाला First Level Exam होता है! आप CPT की तैयारी 10th पास करने के बाद से शुरू कर सकते है लेकिन यह Exam 12th पास करने के बाद देना होता है!

CPT Exam Syllabus

मुख्यतः CPT Exam के पाठ्यक्रम (Syllabus) को 2 Section में रखा गया है!

Section 1: Fundamentals of Accounting (60 marks), Mercantile Laws (40 marks)

Section 2: Quantitative Aptitude (50 marks), General Economics (50 marks)

2. IPCC Exam (Second Level Exam)

IPCC का पूरा नाम Integrated Professional Competency Course होता है! एक बार CPT एग्जाम पास करने के बाद आपको IPCC (Integrated Professional Competency Course) के लिए पंजीकरण कराना होता है! IPCC Exam के लिए उमीदवार को 12th पास के साथ साथ CPT Exam Clear किया होना जरुरी है! 

लेकिन यदि उमीदवार, ग्रेजुएशन में 50% मार्क्स या इससे अधिक अंको के साथ कॉमर्स से उत्तीर्ण किया हो तो वह बिना CPT एग्जाम Clear किये सीधे आईपीसीसी के लिए नामांकन कर सकता हैं। और इसके बाद उम्मीदवार को 9 महीने की आर्टिकल ट्रेनिंग पूरी करनी होती है!

IPCC Exam Syllabus

IPCC (Integrated Professional Competency Course) Exam मुख्यता दो Group में होता है! इसमें आपको 8 Exam Paper देने होते है जिसमे प्रत्येक Exam में 40% Marks लाना अनिवार्य होता है!

IPCC Group I Exam Syllabus  

Group I Exam को पास करने के बाद आप CA Practicing के लिए Apprentice शुरू कर सकते है! यह Apprentice को आर्टिकल ट्रेनिंग के नाम से भी जाना जाता है! 

IPCC Group I में आपको 4 Exam Paper देने होते है!

  • Paper 1.  Accounting (100 Marks)
  • Paper 2. Business Laws, Company Law, Ethics and Communication (100 Marks)
  • Paper 3. Cost and Management Accounting (100 Marks)
  • Paper 4. Taxation (Income Tax, Indirect Laws) (100 Marks)

IPCC Group II Exam Syllabus  

IPCC Group II Exam को आप आर्टिकल ट्रेनिंग के दौरान या इसके बाद भी दे सकते है! इसमें आपको 4 Exam Paper Clear करने होते है!

  • Paper 5. Advance accounting (100 Marks)
  • Paper 6. Auditing and Assurance (100 Marks)
  • Paper 7. Information Technology (50 marks) & Strategic Management (50 marks)
  • Paper 8. Financial Management (60 Marks) & Economics for Finance (40 Marks)   

सीए कोर्स के लिए फाइनल परीक्षा (Final Exam For CA Course)

IPCC All exams Clear करने के बाद उम्मीदवार फाइनल परीक्षा के लिए आवेदन कर सकते है लेकिन इससे पहले उम्मीदवार को 3 साल तक CA की प्रैक्टिस के लिए Apprentice Training करना होता है!

उम्मीदवार, ट्रेनिंग के complete होने से 6 महीने पहले – पहले फाइनल एग्जाम के लिए आवेदन कर सकते है। जब एक बार उम्मीदवार अपना फाइनल एग्जाम को क्लियर कर देता है उसके बाद वह ICAI (Institute of Chartered Accountants in India) का Member चुना जाता है!

Final Exams Syllabus

Final Exam में भी आपको 40% के साथ 8 Exam Paper Clear करने होते है!

  • Paper 1. Financial Reporting & Accounting
  • Paper 2. Finance & Financial Management
  • paper 3. Advanced Auditing and Professional Ethics
  • Paper 4. Corporate Laws & Allied Laws
  • Paper 5. Advanced Management Accounting
  • Paper 6. Information Systems Control and Audit
  • Paper 7. Direct Tax Laws
  • Paper 8. Indirect Tax Laws

सीए कोर्स फीस (CA Course Fees in Hindi)

जब कोई उम्मीदवार CA (Chartered Accountant) का Course करता है तो इसके लिए उम्मीदवार को शुरुआत में Foundation Course के लिए 9200 रुपए फीस जमा करनी होती है! 

उसके बाद Intermediate Course के लिए 18000 फीस pay करनी होती है और फिर फाइनल लेवल पर 22000 रुपये तक की फीस जमा करनी होती है! इसके साथ ही रजिस्ट्रशन फीस 1000 से अधिक होती है! 

Complete CA Course की फीस 2 लाख से 5 लाख तक पहुंच जाती है! आपको बता दे गवर्नमेंट संस्थानों में प्राइवेट की तुलना में फीस कुछ कम होती है! और अलग अलग कॉलेजो में भी CA Course Fees अलग अलग तरह से सुनिश्चित की जाती है!

सीए के बाद जॉब प्रोफाइल (Job Profile After CA)

देश विदेश में चार्टेड अकाउंटेंट की मांग दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है! CA की पढ़ाई पूरी करने के बाद आप किसी भी Company में आसानी से अच्छे पदों पर जैसे- अकाउंट्स मैनेजर, स्पेशल ऑडिट्स सहित चेयरमैन, मैनेजिंग डायरेक्टर, सीईओ, फाइनेंस डायरेक्टर, फाइनेंशियल कंट्रोलर, चीफ अकाउंटेंट, चीफ इंटरनल ऑडिटर जॉब प्राप्त कर सकते है!

आपको बता दे आप CA Course पूरा करके किसी भी कंपनी में निम्नलिखित महत्वपूर्ण पदों पर काम कर सकते हैं!

  • Accounting & Financing (लेखांकन और वित्त पोषण)
  • Accounts clerk (लेखा लिपिक)
  • Taxation Advisory (कराधान सलाहकार)
  • Internal Auditing (इंटरनल ऑडिटिंग)
  • Tax Auditing (टैक्स ऑडिटिंग)
  • Chief Executive Officer (CEO) (मुख्य कार्यकारी अधिकारी)
  • Chief Finance Officer (CFO) (मुख्य वित्त अधिकारी)
  • Forensic Auditing (फोरेंसिक ऑडिटिंग)
  • Cost Accountants (लागत लेखाकार)
  • Business Services Accountant (व्यापार सेवाएँ लेखाकार)

इसके अलावा आप खुद अपने Clients बनाकर उन्हें फाइनेंशियल सर्विसेज दे सकते है! और अपनी खुद CA Practice कर सकते है!

सीए करने के बाद रोजगार के क्षेत्र (Areas of Employment After CA)

CA कोर्स करने के आप गवर्नमेंट और प्राइवेट Banks, Industries और Companies पर बहुत अच्छे पदों में नौकरी कर सकते है।

  • Finance Companies
  • Private and Public Sector Banks
  • Pvt Limited Companies
  • Patent Firms
  • Legal Firms
  • Auditing Firms
  • Investment Houses
  • Stockbroking Management
  • Portfolio Management Companies

भारत में चार्टर्ड अकाउंटेंट का वेतन (CA Salary in India)

CA की पढ़ाई पूरी करने के बाद आपके लिए एकाउंटिंग के क्षेत्र में बेहतर करियर हेतु बहुत अधिक संभावनाएं उत्पन्न हो जाती है! भारत में एक चार्टेट अकाउंटेंट की अनुमानित वेतन सालाना लाखो में होती है! इसके अलावा आप विदेश में भी CA की जॉब प्राप्त कर सकते है!

Job ProfileStarting Salary (प्रति वर्ष वेतन शुरू)Senior Level Salary (वरिष्ठ स्तर का वेतन प्रति वर्ष)
Accounts ClerkRs.2,50,000Rs.5,00,000
Taxation/Internal AdvisoryRs.3,50,000Rs.5,50,000
Forensic AuditingRs.3,00,000Rs.6,00,000
CEO (Chief Executive Officer)Rs.5,00,000Rs.12,00,000 – 25 Lakh or Above
CFO (Chief Finance Officer)Rs.5,00,000Rs.10,00,000 – 15 Lakh or Above
CA Salary in India

नोट: उपरोक्त आंकड़े एक अनुमान मात्र हैं! कंपनी से कंपनी में भिन्न हो सकते हैं!

भारत में सीए के लिए सर्वश्रेष्ठ कॉलेज (Best College for CA in India)

  • Shree Ram College Of Commerce(Delhi)
  • Loyola College (Chennai)
  • St. Xavier’s College (Mumbai)
  • Christ University (Bangalore)
  • Narsee Monjee College of Commerce and Economics (Maharashtra)
  • Hansraj College (Delhi)
  • Lady Shree ram College for Woman (New Delhi)
  • Hindu College University (New Delhi)
  • Madras Christian College (Chennai)
  • Stella Maris College (Chennai)

सीए एक्सपर्ट क्या कहते है (What do CA Experts Say!)

रोहित राय (CA)

जैसा की CA एक बहुत ज्यादा प्रतिष्ठा और जिम्मेदारी का जॉब प्रोफाइल है! इसलिए CA की पढ़ाई पूरी करने के लिये आपको ज़्यादा मेहनत करने की जरुरत होती है! अर्थात मेहनत करने से ना घबराये! सफलता आपके साथ होगी!

रूबी शर्मा (चार्टेट अकाउंटेंट )

CA प्रवेश परीक्षा के लिए अच्छी कोचिंग की आवश्यकता होती है! इसलिए कोचिंग जरूर लेना चाहिये! साथ ही अच्छा गाइडेंस भी हो! चार्टेड अकाउंटेंट की पढ़ाई में एक लम्बा समय लगता है इसलिए संयम से काम ले! नेगेटिविटी से दूर रहे!

निष्कर्ष (Conclusion)

आज के इस पोस्ट में हमने CA क्या है (CA Kya Hai), CA का फुल फॉर्म (Full Form of CA) क्या होता है जाना और CA कोर्स के बारे में पूरी जानकारी विस्तार प्राप्त की! CA की पढ़ाई पूरी करने के बाद आपके उज्वल भविष्य लिए अनेक अवसर पैदा हो जाते है! और सबसे ज्यादा पैसे भी!

आपको यह पोस्ट (Full Form of CA – सीए कैसे बनते है? – पूरी जानकारी) कैसे लगी हमें Comment Box में जाकर जरूर बताएं! हमें उम्मीद है आज के इस हिंदी लेख में आपको बहुत कुछ जानने  और सिखने को मिला होगा! आप हमारे इस पोस्ट को Facebook, Twitter, WhatsApp में शेयर जरूर करें!

पूरा पोस्ट पढ़ने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद! 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here