5/5 - (1 vote)

OTT Full Form in Hindi – नमस्कार दोस्तों, क्या आप ओटीटी क्या है? OTT Kya Hai ओटीटी प्लेटफॉर्म क्या है? और यह ओटीटी कैसे काम करता है? जानते हैं! आज के समय में बड़ी बड़ी और एक से बड़कर एक वेब सीरीज OTT प्लेटफॉर्म में रिलीज़ हो रही है और करोड़ों का धंधा कर रही हैं! तो आख़िर क्या हैं ये OTT और OTT प्लेटफॉर्म आज के इस हिन्दी लेख में हम विस्तार से जानने वाले हैं!

OTT full form in hindi

विषय - सूची

OTT का अर्थ क्या है? OTT Full Form in Hindi

वैसे तो हर एक दशक में मनोरंजन की दुनिया में बदलाव होते ही रहते हैं जैसे हम ब्लैक एंड व्हाइट टीवी से कलर टीवी तक पहुंचे! और अब कलर टीवी के बाद मोबाइल ने हमें एंटरटेन करने की जिम्मेदारी ले ली है! उसी तरह फिल्में और वेब सीरीज के लिए आजकल एक शब्द यानी कि OTT बहुत ट्रेंड में है!

OTT का फुल फॉर्म Over-The-Top होता है! OTT इन्टरनेट पर टीवी और फिल्मों के कंटेंट प्रोवाइड कराने का एक माध्यम है! यह उपभोक्ताओं की जरूरतों के अनुसार काम करता है!

और over-the-top का मतलब ही यही है कि एक कंटेंट प्रोवाइडर या प्लेटफॉर्म जो प्रेजेंट टाइम में इंटरनेट पर सर्विस देने में सबसे ऊपर है, टॉप पर हैं!

ओटीटी क्या है? OTT Kya Hai

ओटीटी एक ऐसा डिजिटल प्लेटफॉर्म है जहां यूजर अपने डिमांड और अपनी सुविधा के अनुसार कभी भी कहीं भी इसका उपयोग कर सकते हैं! केवल इंटरनेट और डिवाइस की मदद से वे कहीं भी बैठकर वेब सीरीज फिल्में और सीरियल का मजा ले सकते हैं!

जहां टीवी पर आपको अपनी पसंद का कंटेंट देखने के लिए इंतजार करना पड़ता है वहीं ओटीटी प्लेटफॉर्म्स पर आप अपने मूड के हिसाब से कंटेंट प्ले कर सकते हैं! ओटीटी प्लेटफॉर्म्स अपने खुद के कंटेंट भी रिलीज करती है, जिससे उनकी डिमांड और ज्यादा बढ़ गई है!

फोटोशॉप पर फोटो कैसे बनाते हैं? Photoshop क्या है? इसकी विशेषताएं?

ओटीटी ऐप क्या है ? | OTT Apps Meaning in Hindi

ओटीटी एप्स के जरिए कंटेंट को दर्शको तक पहुंचाया जाता है! कई ऐसे प्लेटफार्म है जो अपनी वेब सीरीज के लिए काफी मशहूर है! कई बार फिल्मों को थिएटर में न रिलीज करके ओटीटी पर ही रिलीज कर दिया जाता है, क्योंकि इसका अपना एक बहुत बड़ा दर्शक वर्ग है!

इंटरनेट पर आप प्ले स्टोर से कोई भी ओटीटी ऐप डाउनलोड कर सकते हैं! कई बार इन प्लेटफॉर्म्स पर आपको कंटेंट देखने के लिए Payment करनी पड़ती है तो कई बार यह फ्री में भी आपको कंटेंट प्रोवाइड कराते हैं! प्रमुख ओटीटी एप्स हुलु ,नेटफ्लिक्स, अमेजॉन प्राइम, डिजनी प्लस हॉटस्टार , एम एक्स प्लेयर , इरॉस नाउ इत्यादि है!

ott kya hai

Over-The-Top (OTT) सर्विस के फायदे

वैसे तो  अगर हमें कोई भी फिल्म या सीरियल देखना होता है तो उसके लिए हमें टीवी पर केबल कनेक्शन या डीटीएच कनेक्शन कराना पड़ता है! लेकिन बात करें ओटीटी के सर्विस की तो इसके लिए यूजर को केवल मजबूत इंटरनेट कनेक्टिविटी और एक अच्छे रिलायबल हार्डवेयर डिवाइस की जरूरत होती है!

ओटीटी पर ओरिजनल कंटेंट वेब सीरीज या डॉक्यूमेंट्री भी उपलब्ध होते हैं जो आपको किसी और प्लेटफार्म पर नहीं मिलेंगे! यह काफी सुविधाजनक होता है इसे आप मोबाइल, लैपटॉप, टेबलेट या स्मार्ट टीवी जैसे किसी भी डिवाइस का उपयोग करके देख सकते हैं!

Over-The-Top (OTT) प्लेटफॉर्म्स के नुकसान

जहां हमने आपको ओटीटी के इतने फायदे बताएं वही इन सर्विस के कुछ नुकसान भी होते हैं!

इन प्लेटफॉर्म्स की सर्विस लेने के लिए आपको हाई स्पीड इंटरनेट की जरूरत होती है कम स्पीड वाले इंटरनेट पर आप सर्विस को ठीक से प्राप्त नहीं कर सकते हैं!

कई बार इन प्लेटफार्म के सब्सक्रिप्शन काफी महंगे होते हैं! इसलिए यदि ओटीटी प्लैटफ़ार्म का Subscription लेने के बाद अगर आपको पसंद का कंटेंट ना मिले तो पैसे बर्बाद चले जा सकते हैं!

हर एक प्लेटफार्म के लिए आपको अलग-अलग सब्सक्रिप्शन लेना पड़ता है! कई बार यूजर्स को इनकी लत लग जाती है जिसे छुड़ा पाना काफी मुश्किल होता है! क्योंकि यह हर एक स्थिति में सोते हुए खाते हुए कभी भी इसका उपयोग किया जा सकता है!

जो कि सेहत के लिए काफी नुकसानदायक होता है!

Filmyzilla com Bollywood Movie Download 720p, 1080p 480p – Filmyzilla1 Latest Online Movies

ओटीटी सर्विस के प्रकार | Types of OTT Services in Hindi

  1. TVOD
  2. SVOD
  3. AVOD

1. TVOD ( Transactional Video on demand )

यह सर्विस का एक ऐसा टाइप होता है जहां यूजर् को कोई फिल्म या सीरीज एक बार देखने के लिए दिया जाता है! कंटेंट रेंटेड होता है यानी किराए की तरह पेमेंट करके यूजर इसे लेकर एक बार देख कर सकता है! इस तरह की सर्विस में Apple iTunes एक उदाहरण के रूप में मौजूद हैं!

2. SVOD ( Subscription Video on Demand)

इस तरह की सर्विस में मंथली या ईयरली पेमेंट होती है! इन प्लेटफॉर्म्स के सब्सक्रिप्शन लेकर लंबे समय तक कंटेंट देख सकते हैं! नेटफ्लिक्स और अमेजॉन प्राइम इस तरह की सर्विस का सबसे अच्छा उदाहरण है!

3. AVOD (Advertising Video on Demand)

यह एक ऐसी सर्विस होती है जिसमें काफी सारी एडवरटाइजिंग होती हैं हालांकि इसमें किसी तरह की कोई पेमेंट नहीं करनी होती है! लेकिन फ्री कंटेंट देखने के लिए यूजर्स को खूब सारे विज्ञापन देखने पड़ते हैं! इस तरह की सर्विस के लिए मार्केट यूट्यूब और एमएक्स प्लेयर उपलब्ध है!

भारत में कौन कौन से ओटीटी प्लेटफॉर्म्स मौजूद है?

वैसे तो भारत में कई तरह के ओटीटी प्लेटफॉर्म है जो यूजर्स को वेब सीरीज, स्पोर्ट्स, टीवी शोज, मूवीज उपलब्ध कराते हैं!

पेड सब्सक्रिप्शन या मेंबरशिप के बेस पर भी आप इन प्लेटफार्म से सर्विस प्राप्त कर सकते हैं! कुछ फ्री प्लेटफॉर्म्स भी मौजूद है जिनमें ऐड दिखाया जाता है आप इन प्लेटफॉर्म्स का भी उपयोग कर सकते हैं!

ott in Hindi

नेटफ्लिक्स , अमेजन प्राइम, सोनी लिव, डिजनी प्लस हॉटस्टार,जी5, वूट भारत के सबसे लोकप्रिय ओटीटी प्लेटफॉर्म्स है!

आज हर एक टीवी चैनल भी ओटीटी की तरफ बढ़ रहा है! टीवी पर आने वाले सभी चैनल्स के पास अपने ओटीटी प्लेटफॉर्म्स होते है!

उदाहरण के लिए स्टार प्लस का हॉटस्टार प्लेटफार्म, कलर्स का वूट प्लेटफार्म , जी टीवी का जी5 प्लेटफार्म इत्यादि!

GenYoutube क्या है? GenYoutube से विडियो डाउनलोड कैसे करें?

ओटीटी कंटेंट कितने टाइप के होते है ?

मुख्य रूप से ओटीटी के कंटेंट 3 तरह के होते हैं!

  1. ओटीटी टेलीविजन
  2. ओटीटी मैसेजिंग
  3. ओटीटी वॉइस कॉलिंग

1. ओटीटी टेलिविजन

ओटीटी टेलिविजन को स्ट्रीमिंग भी कह सकते हैं, ओटीटी कंटेंट में यह सबसे लोकप्रिय होते है! यूजर्स इसमें वीडियो और ऑडियो की स्ट्रीमिंग कर सकते हैं!

प्लस हॉटस्टार पर एक ही समय में 18.6 मिलियन यूजर्स के स्ट्रीमिंग का रिकॉर्ड बना हुआ है जो अभी तक कायम है!

2. ओटीटी मैसेजिंग

ओटीटी मैसेजिंग की सुविधा में व्हाट्सएप, वीचैट ,स्काइप, टेलीग्राम सबसे टॉप पर होते हैं! इंसटेंट मैसेज डिलीवर करने के लिए इन प्लेटफार्म का उपयोग किया जाता है!

गूगल ने गूगल आलो नामक एक इंसटेंट मैसेजिंग प्लेटफॉर्म बनाया है जिसका उपयोग मैसेजिंग के लिए किया जाता है!

3. ओटीटी वॉइस कॉलिंग

OTT वॉइस कॉलिंग में वॉइस कॉल की सुविधा भी उपलब्ध है! व्हाट्सएप और वी – चैट जैसी कंपनियां हैं जो मैसेज के साथ-साथ वॉइस कॉलिंग की सुविधाएं भी देती हैं!

ओटीटी प्लेटफॉर्म क्या होता है?

OTT Platform को Over The Top प्लैटफ़ार्म भी कहते हैं! यह प्लैटफ़ार्म इंटरनेट के माध्यम से Videos, Movies और Web Seriese तथा अन्य मीडिया कंटैंट को प्रसारित और दिखाने का करता है!

साधारण शब्दों में कहें तो OTT प्लैटफ़ार्म एक तरह के website और Application होते है! आपको इन websites और Apps पर मूवी और वेब सीरीज़ देखने के लिए इनका subscription लेना जरूरी होता है!

शुरुआत मे अमेरिका जैसे विकसित देशो मे OTT प्लैटफ़ार्म की लोकप्रियता बड़ी! और अब भारत मे भी कई विदेशी तो कई भारतीय कंपनियों ने OTT प्लैटफ़ार्म की सर्विस देना शुरू कर दिया है!

आज के समय मे स्मार्ट फोन की वजह से प्रत्येक लोगो के लिए इन OTT प्लैटफ़ार्म के माध्यम से नई नई movies को देखना बहुत आसान हो गया है!

ओटीटी प्लेटफॉर्म कैसे काम करता है?

कोविड के समय में जब सभी थिएटर बंद हो चुके थे तब ओटीटी ने काफी लोकप्रियता हासिल की! जब कोरोना महामारी की वजह से बाहर आना जाना सब कुछ बंद हो चुका था, तब ओटीटी ही मात्र एक ऐसा साधन था दर्शकों का मनोरंजन कर रहा था!

लॉक डाउन के दौरान कई फिल्में और सीरीज ओटीटी पर ही रिलीज कर दी गई थी!

इसका काम लगभग एक वेबसाइट के जैसा ही होता है, उदाहरण के लिए यूट्यूब पर लाखों करोड़ों Videos मौजूद है!

यूजर अपनी जरूरत के अनुसार ही कंटेंट प्ले करता है! कंटेंट डिलीवरी नेटवर्क का इस्तेमाल करके यह प्लेटफॉर्म बड़ी ही आसानी से यूजर्स तक पहुंच जाते हैं!

यह प्लेटफॉर्म्स अपने खुद के सीरीज बनाकर रिलीज करते हैं या फिर फिल्मों के राइट्स खरीद कर उन्हें दर्शकों तक पहुंचाते हैं!

यूट्यूब तो एक ऐसा प्लेटफार्म है जहां पर हर एक यूजर कंटेंट प्रोवाइडर बन सकता है!

एप्स के माध्यम से ओटीटी प्लेटफॉर्म को अपने डिवाइस में डाउनलोड किया जाता है!

डाउनलोड करने के बाद साइन अप करके आगे वहां पर मौजूद सभी कंटेंट देखे जा सकते हैं!

जो फिल्में ओटीटी प्लेटफॉर्म पर प्रदर्शित की जाती हैं उनकी कमाई कैसे होती है?

ओटीटी सब्सक्रिप्शंस के माध्यम से पैसे कमाते हैं, यूजर्स को कंटेंट देखने के लिए इन प्लेटफॉर्म्स पर पेमेंट करना होता है!

जैसे नेटफ्लिक्स और अमेजॉन पर कुछ भी देखने के लिए आपको पेड सब्सक्रिप्शन चाहिए!

जिन प्लेटफार्म पर सर्विस फ्री में दी जाती है वहां यूजर्स को ऐड देखने पड़ते हैं कि ऐड के जरिए यह ओटीटी प्लेटफॉर्म्स कमाई करती हैं!

ओटीटी प्लेटफॉर्म पर कंटेंट कैसे उपलब्ध कराया जाता है?

किसी भी प्लेटफार्म पर फिल्में रिलीज करने के लिए उनके राइट्स का होना जरूरी होता है! यह ओटीटी प्लेटफॉर्म्स फिल्मी रिलीज करने के लिए उनके मेकर्स से मिलकर राइट्स खरीदती है और तब जाकर फिल्में इन प्लेटफार्म पर आती है!

बात करें वेब सीरीज की तो यह ओटीटी प्लेटफार्म्स कई डायरेक्टर से संपर्क करती है, यह सभी लोग साथ में मिलकर कंटेंट बनाते हैं!

यूजर्स का ध्यान अपनी ओर आकर्षित करने के लिए यह प्लेटफार्म्स अपने अपने प्रोडक्शन हाउस भी चलाती हैं ताकि समय समय पर यूजर्स को उनकी इच्छा के अनुसार कंटेंट प्रोवाइड कराया जा सके!

ओटीटी प्लेटफार्म्स के बिजनेस पर्पज से आप क्या समझते हैं?

ओटीटी एक ऐसा सेक्टर है जो पूरी दुनिया में काफी तेजी से आगे बढ़ रहा है! हर दिन इन प्लेटफार्म्स को करोड़ों की संख्या में लोग सब्सक्राइब करते हैं!

लॉकडाउन के बाद इस क्षेत्र में सबसे ज्यादा तेजी आई है! Netflix एक ऐसा प्लेटफॉर्म है जो केवल अमेरिका ही नहीं बल्कि दुनिया का सबसे बड़ा ओटीटी कंटेंट प्रोवाइडर प्लेटफॉर्म बन चुका हैं!

इंडिया में सबसे बड़ा ओटीटी प्लेटफॉर्म डिजनी प्लस हॉटस्टार है, तो वही सेकंड नंबर पर अमेजॉन प्राइम अपनी जगह पर कायम है!

दुनिया भर में 100 से भी ज्यादा ओटीटी प्लेटफॉर्म अच्छी तरह से रन कर रहे हैं! भविष्य में इनके और ज्यादा ग्रो करने की काफी चांसेस हैं!

People Also Ask – OTT Full Form in Hindi

Q 1. OTT का मतलब क्या है? 

Ans. OTT का हिंदी मिंनिंग ओवर डी टॉप होता है! यह एक ऐसा ऑनलाइन प्लेटफॉर्म है जो आपको एक शृंखला में आपके मोबाइल में ही आपको फ़िल्में, सीरीज या फिर अन्य वीडियो देखने के सुविधा प्रदान करता है! इस प्लेटफॉर्म में आपको अलग अलग तरह के तमाम कंटेट देखने को मिल जाते हैं! 

Q 2. भारत में कौन सा OTT प्लेटफॉर्म लोकप्रिय है? 

Ans. भारत में Jio Cinema, Mx Player, Hot star, TVF Play जैसे कई OTT प्लेटफॉर्म हैं जो भारत में लोकप्रिय है! 

Q 3. क्या यूट्यूब OTT प्लेटफॉर्म है? 

Ans. भारत में Netflix, Amazon Prime, यूट्यूब इत्यादि सभी प्रसिद्ध प्लेटफॉर्म हैं!  

Q 4. भारत में कितने OTT प्लेटफॉर्म हैं? 

Ans. आज के समय में भारत में 50 से अधिक OTT प्लेटफॉर्म हैं जिनमें यूजर को ऑरिजनल कंटेट मिलता है! 

Q 5. OTT प्लेटफॉर्म कितने प्रकार के होते हैं? 

Ans. मुख्यतः OTT प्लेटफॉर्म तीन प्रकार के होते हैं

Subscription Video On Demand

Ad Supported Video On Demand 

Transactional Video On Demand 

इन्हें भी पढ़ें

फिल्म डायरेक्टर कैसे बन सकते है?
स्ट्रीमिंग क्या होती है? स्ट्रीमिंग कैसे की जाती है?
5G तकनीक क्या है? कैसे काम करती है? 5G की Speed कितनी है?
मुंबई में बॉलीवुड एक्टर कैसे बने सम्पूर्ण जानकारी

निष्कर्ष – Conclusion

तो दोस्तों, आज के हमारे इस हिन्दी लेख मे हमने OTT Full Form in Hindi ओटीटी क्या है? OTT Kya Hai ओटीटी प्लेटफॉर्म क्या है? और यह OTT कैसे काम करता है? के बारे मे विस्तार से जानकारी प्राप्त किया!

अतः हम उम्मीद करते है की आपको हमारे द्वारा ओटीटी के बारे में OTT in Hindi दी गई सम्पूर्ण जानकारी जरूर पसंद आई होगी! यदि आपको यह आर्टिकल पसंद आए तो इसे लाइक, Share जरूर कीजिएगा! इसके साथ ही 5 Star ⭐ देकर हमारे मनोबल को जरूर बढ़ाये ताकि हम हर दिन आपके लिए नई नई जानकारी ला सकें!

इस OTT Full Form in Hindi लेख से संबधित किसी भी तरह के सवाल या फिर अपने सुझाव को हमे नीचे कमेंट सेक्शन मे कमेंट करके जरूर बताये!

हमारे इस लेख को अंत तक पढ़ने के लिए दिल से शुक्रिया!

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here