अक्सर अधिकतर लोगों को मार्केट की ज्यादा जानकारी नहीं होती है क्योंकि उन्हें उनके Brokers ज्यादा जानकारी नहीं देते हैं! किन्तु आप अगर Demat Account kya hai के बारे में नहीं जानते हैं तो आप बिलकुल सही जगह पर आये हैं! जब भी शेयर खरीदे जाते हैं या बेचे जाते हैं तो अलग तरह के Accounts का उपयोग किया जाता है! यहां पर कोई भी Saving Account या Current Account का उपयोग नहीं किया जाता है बिना Demat Account को open किये आप Share Market से कोई भी Share को Buy या Sale नहीं कर सकते हैं!

ये वो Accounts हैं जिन्हे Demat Account और Treading Account कहा जाता है! जी हाँ हम आज जानने वाले हैं डीमैट अकाउंट क्या होता है Demat Account kya hota hai, Demat का Full Form क्या है (Full Form of Demat). Demat Account किस काम में आता है इसमें क्या Demat Account Charges लगते हैं! कहाँ से आप डीमैट अकाउंट खुलवा सकते हैं और इसके क्या फायदे हैं (Benefits of Demat Account).

तो चलिए आगे बढ़ते हैं और जानते हैं! Demat Account Full Form और Demat Account kya hota hai in hindi

Demat Account kya hai
Demat Account kya hai

आज के समय में मोबाईल से Demat Account को ऑपरेट किया जा सकता है! आपको किसी भी Computer की भी जरूरत नहीं होती है! इसमें Transaction Password की जरूरत होती है! 

[ डीमैट अकाउंट क्या होता है – Demat Account kya hota hai in Hindi ]

डीमैट अकाउंट फुल फॉर्म – Demat Account Full Form in Hindi

Demat Account का Full name De-materialized Account होता है! विशेष रूप से किसी भी Share या Securities को रखने की प्रकिया को Departmentalization कहते है! और इन Shares और Securities को इसमें इलेक्ट्रॉनिक रूप में रखा जाता है! 

Demat Account Full Form in Hindi: डीमैट अकाउंट का हिंदी में फुल फॉर्म विभागीयकरण होता है!

डीमैट अकाउंट क्या है – Demat Account kya hai in Hindi

Demat Account kya hai: यह एक विशेष प्रकार का Account होता है! जिसे Share Market में Shares और Securities को खरीदने और बेचने के लिए उपयोग किया जाता है! Demat Account एक बैंक खाते की तरह ही काम करता है!

जिस तरह लोग अपना पैसा रखने के लिए Saving Account या Current Account का इस्तेमाल करते हैं! उसी तरह Share Market में शेयर्स को रखने के लिए Demat Account का प्रयोग किया जाता है!

किसी भी Demat Account के द्वारा NSE (National Stock Exchange) और BSE ( Bombay Stock Exchange) Shares को खरीदा या बेचा जा सकता है! Demat Account को Saving Account से link किया जाता है! 

अगर आप किसी भी Share Market में Investment शुरू करना चाहते है! या करने की सोच रहें है तो निवेश से पहले आपके पास Demat Account का होना बहुत ही जरूरी है!

पहले समय में शेयर खरीदे या बेचे जाते थे तो इनकी Treading दस्तावेजों में होती थी! उस वक्त जब कोई भी Share खरीदा या बेचा जाता था तो दस्तावेज डाक से दफ्तर या घर के पते पर भेजे जाते थे!

फिर यह देखा जाता था की Share किस रेट पर खरीदा या बेचा जा रहा है! तो इस प्रक्रिया में कम से कम 6 महीने का समय लग जाता था! किन्तु आज के समय में डीमैट अकाउंट के उपयोग से यह सारा काम कुछ ही समय में हो जाता है! Share के खरीदने या बेचने के कुछ समय बाद ही डीमैट अकाउंट में शेयर की एंट्री भी हो जाती है!

डीमैट अकाउंट कौन खोलता है – Who Opens a Demat Account

भारत में Demat Account खोलने के लिए दो प्रमुख संस्थाएं कार्य करती हैं!

  • NSDL – National Security Deposit Limited 
  • CDSL – Central Depository Services Limited 

भारत में इन दोनों संस्थानों की करीब 500 से ज्यादा वित्तीय संस्थाएं है जिन्हें Depository Participants भी कहा जाता है!

ये वित्तीय संस्थाएं Zirodha, Angel Broking, Upstocks, Sharekhan Broking, Oswal Broking ect. के अलावा कई वित्तीय संस्थाओं के लिए भी Demat Account खोलती है! कोई भी निवेशक इन संस्थाओं में Demat Account खुलवा सकते हैं! 

इन्हें भी पढ़ें:

डीमैट अकाउंट खोलने के लिए जरुरी दस्तावेज – Documents for Demat Account Opening

Documents for Demat Account Opening: किसी भी चयनित ब्रोकर के पास Demat Account open करने के लिए आपको निम्नलिखित दस्तावेजों की जरुरत होती है!

  • Pan Card पैन कार्ड 
  • Address Proof  पते का प्रमाण पत्र 
  • Adhaar Card आधार कार्ड 
  • Driving Licence ड्राइविंग लाइसेंस 
  • Voter Card वोटर आईडी 
  • Passport पासपोर्ट 
  • Bank passbook  बैंक पासबुक 
  • Passport Size Photograph पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ 
  • Cancel Check कैंसिल चेक 
  • Income Tax Return Proof  इनकम टैक्स रिटर्न प्रूफ 

डीमैट अकाउंट कितने रुपयों से खोला जाता है in Hindi

अक्सर बहुत सारे लोगो द्वारा यह पूछा जाता है की डीमैट अकाउंट कितने रुपयों से खोला जा सकता है तो आपको बताना चाहूंगा की डीमैट Account खोलने के लिए बहुत ज्यादा रुपयों की जरूरत नहीं होती है! आप शुरआत में मात्र 300 से लेकर 700 तक की राशि से Demat Account खोल सकते है!

डीमैट अकाउंट चार्जेज क्या है – Demat Account Charges in Hindi

Demat Account Charges in Hindi: अभी तक आप अच्छे से समझ चुके है की Demat Account Kya Hai और अब हम इस अकाउंट में लगने वाले कुछ Charges अर्थात शुल्क भी जान लेते है! 

दरअसल जब आप Demat Account किसी स्टॉक ब्रोकर से खुलवाते है! तो आपसे दलाली शुल्क के आलावा निम्नलिखित शुल्क आपसे लिए जा सकते है!

  • Account Opening Fees – खाता खोलने का शुल्क!
  • Safety Charges -आपके Shares Certificates की safety का शुल्क!
  • Yearly Maintenance Changes – आपके Demat Account के सालाना Maintenance करने का शुल्क!
  • Online Treading Platform Charges  – Online Treading करने के लिए प्रदान किये गए Platform का शुल्क!
  • Transaction Charges – आपके द्वारा होने वाले Transaction का भी शुल्क लिया जा सकता है!

Zerodha में Online डीमैट अकाउंट कैसे खोले – Online Demat Account Kaise open kare

How to open Demat Account in Zerodha

  • Zerodha में Demat Account खोलने के लिए सबसे पहले Zerodha की Official Website में जाना होगा!
  • उसके बाद आपको Open Account पर Click करना है!
  • आपको Account खोलने के लिए कुछ जरुरी जानकारी भरनी होगी जैसे – पूरा नाम, मोबाईल नंबर, ईमेल, पूरा पता उसके बाद “Call Me” पर Click करें!
  • आगे आपको नजदीकी Zerodha Agent से Call आ जाएगी! सभी दस्तावेज के साथ आपको उनसे मिलने का एक सही समय लेना होगा!
  • Open Demat Account Fees आपको Pay करना होगा! 5 से 7 दिन के भीतर Demat Account खुल जायेगा!
  • आप किसी भी Brooking Mobile App से भी अपना Demat Account कुछ ही समय में खोल सकते हैं! जैसे Upstox या अन्य कोई Share Market से सम्बंधित Mobile App से यह काम कर सकते है!

ध्यान देने की बात ये है कि कोई भी निवेश से पहले शेयर बाजार की जानकारी जुटा लेना काफी फायदेमंद साबित होता है!

इन्हें भी पढ़ें:

डीमैट अकाउंट के क्या फायदे हैं – Benefits of Demat Account

Benefits of Demat Account: जैसे कि मैंने आपको बताया Demat Account पूरी तरह Online है! जिससे इसके फायदे बहुत ज्यादा बड़ जाते है जो निम्नलिखित है!

  • सबसे बड़ा फायदा Demat Account से हमें यह होता है कि हमें कोई भी कागजी कार्यवाही करने की जरुरत नहीं है!
  • इस Account से बहुत कम समय में Shares, Securities, Bonds, ETAF को De-materialized Form में बनाकर रखना आसान हो जाता है!
  • इस Account में Shares, Securities, Bonds को आसानी से Transfer किया जा सकता है!
  • डीमैट अकाउंट में Odd Load समस्या से छुटकारा मिल जाता है आप 1 शेयर भी खरीद या बेच सकते हैं!
  • अब Demat Account में खाता धारक की Death के बाद इसको Account Transfer करने की सुविधा भी Demat Account में मौजूद है!
  • डीमैट अकाउंट में शेयरों की चोरी या किसी भी प्रकार की धोखाधड़ी नहीं की जा सकती है! यह Accounts पूरी तरह सुरक्षित होते हैं! 

आज हमने क्या सीखा और जाना 

आज के इस पोस्ट में हमने जाना डीमैट अकाउंट क्या है Demat Account kya hai हम कैसे इसे खोल सकते हैं Online Demat Account Kaise open kare इसमें क्या चार्जेज होते है What is Demat Account Charges और साथ में हमने जाना डीमैट अकाउंट कौन खोलता है Demat Account के क्या फायदे हैं Benefits of Demat Account और डीमैट अकाउंट के लिए किन दस्तावेजों की जरुरत होती है Documents Open for Demat Account हमारी यही कोशिश रहती है कि प्रत्येक विषय पर Readers तक सही और पूरी जानकारी पहुंचे! 

आशा करता हूँ आपको Demat Account kya hota hai in Hindi पोस्ट से महतवपूर्ण जानकारियां प्राप्त हुई होंगी! इस articles को लेकर आपके मन में कोई भी सुझाव हो तो आप comment box में जाकर जरूर बतायें!

पूरा पोस्ट पढ़ने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद!  

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here