क्या आप जानते हैं NSE kya hai एनएसई का Full Form क्या है Full Form of NSE यह हमारे लिए फायदेमंद क्यों है? दरअसल लोग Share Market में निवेश तो करते हैं! लेकिन उन्हें Share Market की पूरी जानकारी नहीं मिलती है! यह जानकारी न ही उनके Stock Broker देते हैं क्योंकि उन्हें तो Brokerage charges लेने होते है इसलिए अगर कुछ बातें आप पहले से जानते हैं तो हो सकता है आप अपना कुछ नुकसान होने से बचा लें।

इससे पहले ब्लॉग में हमने BSE (Bombay Stock Exchange) के बारे में बताया था! और जाना था की BSE क्या होता है!

आज इस ब्लॉग के माध्यम से हम जानेंगे की Stock Market में NSE क्या है NSE kya hai साथ ही साथ हम जानेंगे NSE का Benchmark क्या है Benchmark of NSE जानेंगे एनएसई का Full Form क्या है Full Form of NSE in Hindi भारतीय पूंजी बाजारों में NSE के उपयोग को  भी जानेंगे।

फुल फॉर्म ऑफ एनएसई – Full Form of NSE

Full Form of NSE: NSE का Full Form National Stock Exchange of India हैं। इसमें कई प्रकार के Securities को सूचीबद्ध किया जाता है!

फुल मीनिंग ऑफ एनएसई इन हिंदी – Full Form of NSE in Hindi

Full Form of NSE in Hindi – NSE का Hindi में Full Form राष्ट्रीय स्टॉक एक्सचेंज मार्किट ऑफ इंडिया है! यह भारत में Stock Treading System प्रदान करने वाला पहला स्टॉक बाजार है।

आइये जानते हैं NSE क्या है NSE kya hai in Hindi

एनएसई क्या है – NSE kya hai in Hindi

NSE भारत का सबसे बड़ा और तकनीकी सुविधाओं से लैस Stock Exchange है! एनएसई की स्थापना भी BSE की तरह मुंबई में ही 1992 में हुई! NSE दुनिया के तमाम बड़े बाजारों में तीसरा सबसे बड़ा Stock Exchange है।

भारत की आर्थिक पूँजी में जितना योगदान BSE का है। उससे कई ज्यादा NSE का भी है! भारत की वैश्विक पूँजीवाद के विस्तार में अगर BSE ने खून देने का काम किया है! वहीं NSE ने नई जान देने का काम किया है!

NSE में 2000 से ज्यादा कंपनियां सूचित हैं। कोई भी कंपनी NSE से सीधे Treading नहीं कर सकती है! कंपनी को सबसे पहले Brokers के माध्यम से खुद को SEBI में Registration करना होता है!

एनएसई का मार्केट कैपिटलाइजेशन कितना है – NSE ka Market Capitalization Value kitna Hai

NSE का Market capitalization Value- 1.80 ट्रिलियन अमेरिकी डॉलर यानि 110 लाख करोड़ से भी ज्यादा का है! 2018 में यह मूल्य 1.41 ट्रिलियन यानि 90 लाख करोड़ अमेरिकी डॉलर था!

SEBI के आने के बाद Stock Exchange में काफी बदलाव होने लगे। NSE में सब Online होने लगा! Brokers की Treading भी बढ़ने लगी!इससे पहले शेयर दस्तावेजों के माध्यम से बेचे और खरीदे जाते थे। शेयर के दस्तावेज डाक के माध्यम से भेजे जाते थे, जिसमें लगभग 6 महीने तक का समय लग जाता था।

एनएसई के बाद नया क्या हुआ – NSE ke Baad naya kya Hua

गौरतलब है! कि NSE की शुरूआत एक प्राइवेट लिस्टेड कंपनी के तौर पर शुरू की गयी थी! 1992 में शेयर बाजार में धोखाधड़ी जैसे मामले सामने आने लगे! इसलिये भारत सरकार ने फिर SEBI (SECURITIES AND EXCHANGE BOARD OF INDIA) की नींव रखी, SEBI को शेयर बाजार पर निगरानी के लिए बनाया गया! अमेरिका के शेयर बाजारों के नियमों को अपनाया गया!

लेकिन BSE के निवेशकों को यह रास नहीं आया। फिर उसके बाद्‌ NSE Stock Exchange बनाया गया! इसमें सारा काम Computer से होने लगा। दस्तावेज का काम खत्म कर दिया गया! धीरे-धीरे Trading ज्यादा बढ़ने लगी! लेकिन फिर भी BSE ने SEBI को नहीं अपनाया। आखिरकार 1995 में BSE को अपनी कंपनियां SEBI में लिस्टेड करवानी ही पड़ी!

एनएसई का मुख्य उद्देश्य क्या है – What is Goal of NSE

NSE का मुख्य उद्देश्य भारत में शेयर की Trading को बढ़ावा देना है। जितना ज्यादा कम्पनियों को ट्रेडिंग बढ़ेगी! उतना ज्यादा देश में रोजगार खुलने के आसार भी बढ़ेंगे। और Income earning के स्त्रोत खुलेंगे!

हालाँकि आज के समय में BSE से ज्यादा NSE में ट्रेडिंग अधिक हो रही है! क्योंकि इसमें निवेश ज्यादातर Trading Account के जरिये होता है!

एनएसई का बेंचमार्क क्या है Benchmark of NSE in Hindi

एनएसई (National Stock Exchange) का बेंचमार्क Nifty है। और यह एक तरह का सूचकांक है. NSE में Nifty की शुरुवात 1996 से हुई थी! इसमें NSE की 50 शीर्ष कम्पनियों को शामिल किया जाता है। इसलिये इसको Nifty -50 भी कहा जाता है।

एनएसई में निवेश करना महत्वपूर्ण क्यों है

दोस्तों NSE में निवेश करना BSE से ज्यादा आसान है। यहाँ पर कोई भी निवेश पेपर वर्क में नहीं होता है! NSE शेयर बाजार में SEBI (SECURITIES AND EXCHANGE BOARD OF INDIA) द्वारा मान्यता प्राप्त Stack Exchange बाजार है! एनएसई की ग्लोबल रैंक 11वीं है। साथ ही Stock Market में इसका प्रदर्शन बहुत अच्छा रहा है।

आज के समय में NSE में निवेश करना इसलिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि इसमें बिना Paper Based Work के काम होता है! साथ ही शेयरों का डिजिटलिजेशन के रूप संग्रह भी होता है!

इन्हें भी पढ़ें –

Conclusion [ निष्कर्ष ]

आज के इस हिंदी ब्लॉग के इस पोस्ट में हमने जाना NSE क्या है NSE kya hai in Hindi एनएसई का Full Form क्या है NSE full form in Hindi हमने जाना एनएसई हमारे लिए क्यों महत्वपूर्ण है! साथ ही यह जाना भी Stock Market में NSE का प्रदर्शन कैसा रहा है।

आशा करता हूँ आपको हमारे इस ब्लॉग के माध्यम कई जानकारियां प्राप्त हुई होंगी! आप हमारे इस पोस्ट को अपने दोस्तों,रिश्तेदारों के साथ शेयर अवश्य करें! ताकि उन्हें भी ऐसी जानकरियां प्राप्त हो सके।

हमारे इस ब्लॉग को आप Subscribe भी करें! हमें आपके सहयोग की आवश्यकता है ताकि भविष्य में हम इस तरह की अनेकों जानकारियां लाते रहें!

6 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here