Full Form of Mouse in Hindi – माउस क्या है? माउस कितने प्रकार के होते है?

Rate this post

आज के इस हिंदी लेख में हम Computer Mouse Kya Hai in Hindi, माउस कितने प्रकार के होते हैं? और माउस के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी के बारे में जानने वाले है!आज के समय में हर कोई कम्प्यूटर के बारे में जानता है! लगभग हर जगह कंप्यूटर देखने को मिल जाता है! आप घर, दफ्तर या फिर स्कूल में कंप्यूटर का Use किया होगा! 

तो अपने देखा होगा की कंप्यूटर में एक छोटा सा पॉइंटिंग डिवाइस लगा होता है! इस पॉइंटिंग डिवाइस को ही आमतौर पर माउस कहते है! जिस तरह एक कंप्यूटर में मॉनिटर, कीबोर्ड और CPU इत्यादि अन्य उपकरण जरूरी होते है उसी प्रकार से कंप्यूटर को Operate और कंप्यूटर में इनपुट देने के लिए माउस का उपयोग किया जाता है!

Mouse एक ऐसा इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस है जिसका कंप्यूटर को चलाने में असबसे हमरोल होता है! एक कंप्यूटर में की जाने वाली विभिन्न गतिविधियों को इसी छोटे से माउस के द्वारा नियंत्रित किया जाता है!

वैसे आमतौर पर हम लोग कंप्यूटर चलाते समय कीबोर्ड, मॉनिटर और माउस का इस्तेमाल करते है! लेकिन हमे अच्छे से इन उपकरणों के बारे में पता नहीं होता है! इसलिए आज के इस ब्लॉग में हम माउस के बारे मे अच्छे से जान जायेंगे!

आज पूरी दुनिया में Technology का जाल बिछ गया और यदि मैं कहूं की कंप्यूटर टेक्नोलोजी द्वारा निर्मित की गई सबसे बहुमूल्य चीज है तो यह कहना गलत नही होगा! इसी कंप्यूटर को एक छोटे से माउस द्वारा ही control किया जाता है!

चलिए फिर आज इस माउस के बारे में जानते है! इस लेख में आगे आपको जानने को मिलेगा की Computer Mouse Kya Hai माउस कितने प्रकार के होते हैं (Mouse kitne prakar ke hote hai)

Mouse kitne prakar ke hote hai

इसके साथ ही माउस का इस्तेमाल कैसे करते है? पूरी Information के लिए इस आर्टिकल को पूरा जरूर पढ़िएगा ताकि आपको सारी बाते अच्छे से समझ आ जाएं!

विषय - सूची

माउस का पूरा नाम क्या है? Mouse Full Form in Hindi

Mouse का पूरा नाम “Manually Operated User Selection Equipment” होता है! माउस का हिंदी में पूरा नाम “मैन्युअल रूप से संचालित उपयोगकर्ता चयन उपकरण” होता है!

माउस क्या है? Mouse kya Hai in Hindi

Mouse एक तरह का छोटा सा Input डिवाइस है जिसका इस्तेमाल कंप्यूटर के मोनिटर पर होने वाली विभिन्न गतिविधियों को Control करने के लिए किया जाता हैं!

माउस का उपयोग कंप्यूटर स्क्रीन पर items को select करने,किसी फाइल या फोल्डर को open या close करने के लिए और तथा computer को निर्देश देने के लिए किया जाता है!

जिस तरह से कीबोर्ड को डाटा और निर्देश देने के लिए उपयोग में लाया जाता है उसी प्रकार माउस का भी उपयोग किया जाता है!

माउस को pointer के नाम से भी जाता है! एक माउस के कई सारे उपयोग होते है! माउस के left और right में दो कंट्रोल बटन और बीच में एक scroll wheel होता है जिनको अलग–अलग operation के Use किया जाता है!

CSC Center कैसे खोले? सीएससी क्या होता है? CSC Online registration कैसे करें?

माउस का आविष्कार किसने किया था?

माउस का आविष्कार Douglas Carl Engelbart द्वारा 1963 में किया गया था! इनका जन्म सन 1925 में हुआ था और इसकी मृत्यु 2013 में हुई थी!

Douglus एक अमेरिकी इंजीनियर और एक निवेशक थे! जब ये Xerox Parc Corporation में कार्य करते थे तब इन्होंने mouse को बनाया था!

शुरुआत के दिनों में जब माउस को बनाया गया था तब लोगों द्वारा इसका ज्यादा इस्तेमाल नही किया जाता था!

लेकिन सन 1984 के बाद से माउस कम्प्यूटर के साथ इस्तेमाल होने एक महत्वपूर्ण input device बन गया है और आज आप देखिए की माउस का आविष्कार सफल हो चुका है!

माउस कितने प्रकार के होते हैं? (Mouse kitne prakar ke hote hai)

क्या आप जानते है की माउस कौन–कौन से Types के होते है? बहुत से लोग कंप्यूटर के साथ माउस का इस्तेमाल करते है लेकिन शायद उनमें से केवल कुछ लोगों को ही माउस के विभिन्न प्रकारों के बारे में पता होगा!

चलिए जान लेते है कंप्यूटर में माउस के प्रकार जो की इस प्रकार निम्नलिखित है!

  1. Corded Mouse
  2. Cordless / Wireless Mouse
  3. Mechanical Mouse
  4. Optical Mouse

1).  कॉर्डेड माउस (Corded Mouse)

Corded Mouse ऐसे माउस होते है जिनको सीधा ही USB cable की मदद से Laptop या फिर computer से connect किया जाता है!

इस माउस को operate होने के power सीधा ही इसके connected device से मिल जाती है!

ये माउस reliable होते है क्योंकि इनके खराब होने का chances बहुत कम होते हैं!

2). कॉर्डलैस / वायरलैस माउस (Cordless/Wireless Mouse)

जैसा की इसमें नाम से ही समझ आ रहा है की यह ऐसे mouse होते है जिनको PC या laptop से कनेक्ट करने के लिए किसी cable की जररूत नही होती है!

यह wireless networking के जरिए कनेक्ट किए जा सकते है! इनको पावर batteries से मिलती है साथ ही आप इसे चार्ज भी कर सकते हो!

3). मैकेनिकल माउस (Mechanical Mouse)

इसे Ball Mouse के नाम से भी जाना जाता है खिली इसमें movements को detect करने के लिए बहुत से rubber ball लगे होते है!

जब माउस को pad पर रखकर इधर–उधर move किया जाता है इसके अंदर में लगे हुए सेंसर माउस की movements को catch करते है!

Pen Drive क्या है इन हिंदी | पेन ड्राइव के उपयोग, प्रकार और फ़ायदे क्या है?

इनका इस्तेमाल काफी समय पहले किया जाता था! इस माउस का आविष्कार Bill English द्वारा 1972 में किया जाता हैं!

4). ऑप्टिकल माउस (Optical Mouse)

आज के समय इसी तरह के माउस का ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है! इस माउस में किसी तरह का कोई बाल लगा होता है बल्कि एक छोटा सा बल्ब लगा होता है जो माउस के movements को detect करता हैं!

Optical Mouse में LED और DSP technology का उपयोग किया जाता हैं! ये माउस USB port द्वारा कनेक्ट किए जाते है!

5). स्टाइलस माउस (Stylus mouse)

यह एक प्रकार का पेन की तरह स्टाइलस होता होता जिसका इस्तेमाल एक माऊस के रूप में कीया जाता है!

जिस प्रकार कुछ स्मार्टफोन्स, टैबलेट और आईपेड में आपको एक स्टाइलस दिया जाता है! उसी प्रकार का माउस भी होता है!
यह एक प्रकार के वायरलेस माउस के तरह काम करते है! टच स्क्रीन वाले लैपटॉप और कुछ कंप्यूटर में स्टाइलस माउस का प्रयोग किया जाता है!

6). ट्रैकबॉल माउस (Trackball mouse) 

यह माउस में दिखने में नार्मल माउस की तरह होता है लेकिन ट्रैकबॉल एक उल्टा माउस है जो एक सॉकेट के भीतर जगह में घूमता है!

इसमें एक ट्रैक बॉल लगा होता है जिसका इस्तेमाल कौर्सर को मूव करने के लिए किया जाता है! ट्रैक बॉल को फिंगर की मदद से ऑपरेट किया जाता है!
सामान्य तौर इस प्रकार के माउस का इस्तेमाल नहीं करते है कुछ आवश्यक और प्रोफेशनल कार्यों में ट्रैकबॉल माउस का इस्तेमाल किया जाता है!

माउस कैसे चलाते है? How to Use Mouse in Hindi

माउस को इस्तेमाल करने के लिए आपको उसके लेफ्ट/राइट और scroll wheel के बारे में पता होना चाहिए! चलिए मैं आपको बताता हूं की mouse का इस्तेमाल कैसे किया जाता है!

पॉइंटर (Pointer)

जब माउस के cursor को कंप्यूटर स्क्रीन पर किसी item पर ले जाया जाता है तो उस प्रोसेस को pointer कहते है! Cursor एक तरह की आकृति होती है जो pointer प्रोसेस के समय mouse द्वारा बनती है!

सेलेक्ट (Select)

यदि आप किसी भी फाइल, फोल्डर,text या फिर पैराग्राफ आदि जैसे item को सेलेक्ट करना चाहते हो तो इसके लिए आपको माउस के Left Button को एक बार press करना होगा!

क्लिक (Click)

माउस के किसी भी बटन को एक बार दबाने के बाद छोड़ देना Click कहलाता है! Click प्रक्रिया दो तरह के होते हैं!

लेफ्ट क्लिक (Left Click)

जब माउस के लेफ्ट साइड के बटन को दबाया जाता है तो उसे left click कहा जाता है! Left Click निम्न प्रकार के होते है

1. Single Click

जब माउस के बटन को एक बार ही press करके छोड़ दिया जाता है तो उसे single click कहते है! Single Click से item को select किया जाता हैं!

Menu को open किया जाता है और webpage link आदि को भी open किया जा सकता है!

RAM का Full Form: रैम क्या होता है? रैम के कार्य? RAM कितने प्रकार की होती है?

2. Double Click

जब माउस के लेफ्ट बटन को दो बार जल्दी–जल्दी press किया जाता है तो उसे Double Click कहते है! डबल क्लीक से किसी item, file, program को open किया जा सकता है! साथ ही text को सेलेक्ट करें के लिए भी इसे उपयोग करते है!

3. Triple Click

Tripple Click का मतलब है माउस के लेफ्ट बटन को तीन बार जल्दी–जल्दी दबाना! इसका उपयोग बहुत कम किया जाता है! इससे आप किसी भी पैराग्राफ को सिलेक्ट कर सकते हो!

राइट क्लिक (Right Click)

माउस के राइट साइड के बटन को दबाना राइट क्लिक कहलाता है! Right Click जब किसी item पर किया जाता है तो एक list कंप्यूटर स्क्रीन पर open हो जाती है जिसमे उस के साथ की जाने वाली क्रियाएं बताई गई होती है जैसे cut,copy,paste,move आदि!

स्क्रॉल (Scroll)

माउस के left और right बटन के बीच में एक छोटा सा wheel होता है जिसे सामान्य रूप से Scrolling Wheel कहा जाता है!

इससे किसी भी doucument और webpage को Up या Down यानी की ऊपर नीचे करने के लिए use किया जाता है!

ड्रग और ड्रॉप (Drag & Drop)

Mouse की मदद से आप किसी भी item को computer screen पर एक जगह से दूसरी जगह लेकर का सकते हो!

इसके लिए आपको left button से आइटम को सिलेक्ट करके hold करना है और जहां भी आपको उस आइटम को ले जाना है वहा ले जाके button को छोड़ दे!इस पूरी प्रोसेस को drag & drop कहते हैं!

माउस खराब हो जाये तो क्या करें? 

कई लोग सजेस्ट करते हैं की कंप्यूटर का यूज करते समय माउस का इस्तेमाल कम से कम करना चाहिए क्योंकि ऐसा करके समय बचता हैं और आप कंप्यूटर में अधिक काम कर पाते हो! 

माउस खराब हो जाने पर आप कीबोर्ड का इस्तेमाल करके भी कंप्यूटर में काम कर सकते हैं! आप अपने सिस्टम में Neat Mouse टूल का इस्तेमाल करके आसानी से कीबोर्ड से काम कर सकते हैं!

यह टूल कीबोर्ड से माउस का काम करने में मदद करता हैं! अब मार्केट में माउस सस्ते आने लगे हैं! 120 से लेकर 200 के बीच में आपको अच्छी कंपनी का माउस मार्केट में मिल जायेगा!   

FAQs – People Also Asks

Q 1. माउस का पूरा नाम क्या है? 

Ans. Mouse का पूरा नाम Manually operated user selection equipment है! MOUSE एक हार्डवेयर डिवाइस है जिसका उपयोग कंप्यूटर सिस्टम में किया जाता है! इसका यूज आप लैपटॉप में भी कर सकते हैं जिसे कनेक्ट करने के लिए माउस में एक वायर भी दी जाती है! 

Q 2. माउस की खोज कब हुई? 

Ans. माउस की खोज डग एलेजबर्ट और रेने सोमर ने की थी! 

Q 3. माउस की खोज कब हुई थी? 

Ans. माउस का खोज डगलस कार्ल एंजेलबर्ट ने 1960 के दशक में!  शुरू में जब माउस का आविष्कार हुआ तो उस समय इसका नाम ‘पॉइंटर डिवाइस’ रखा गया था!

Q 4. माउस के कितने नाम हैं? 

यांत्रिक माउस 

ऑप्टिकल माउस 

वायर्ड माउस 

तार रहित माउस 

Q 5. माउस के बटन को क्या कहते हैं? 

Ans. माउस में मुख्यतः दो बटन होते हैं! एक लेफ्ट साइड की ओर यानि बायीं तरफ होता हैं दूसरा दायीं तरफ बना होता है! 

निष्कर्ष – Conclusion

तो आज के इस लेख में हमने Computer Mouse Kya Hai in Hindi, माउस कितने प्रकार के होते हैं उनके नाम (Mouse kitne prakar ke hote hai) और माउस का इस्तेमाल कैसे करें! के बारे में विस्तार से जाना!

हमें  यकींन है की आपको हमारा आज का यह ब्लॉग Mouse Kya Hai in Hindi पसंद आया होगा! आप हमारे इस पोस्ट को शेयर जरूर करें!अगर आपके पास इस आर्टिकल से जुड़े कोई भी सुझाव हों तो आप हमें हमारे कमेंट सेंशन में जाकर जरूर अवगत कराएं!

हमारी यह पोस्ट को पढ़ने के लिए आपको बहुत बहुत धन्यवाद!

Leave a Comment

error: Content is protected !!