नमस्कार दोस्तों क्या आपको पता है की Pen Drive क्या है? पेन ड्राइव कैसे काम करता है? और पेन ड्राइव के फ़ायदे क्या है? आज के इस ब्लॉग में हम इस छोटे से डिवाइस यानी की पेन ड्राइव के बारे में बताने वाले है!

पेन ड्राइव का इस्तेमाल टेक्नोलोजी की इस दुनिया में लगभग हर एक इंसान के द्वारा किया जाता है! यह छोटा सा डिवाइस हमारे कागजातों को कंप्यूटर में ट्रासंफर करने और स्टोर करने के काम आता है!

क्या आपने भी pen drive का इस्तेमाल किया है? क्या आप जानते हो की आखिर पेन ड्राइव का उपयोग और लाभ क्या है? आज के इस ब्लॉग पोस्ट से आपको इन्ही सभी सवालों के जवाब मिलने वाले है।

आपसे में ज्यादातर लोगों ने pen drive इस्तेमाल किया होगा और पेन ड्राइव क्या है? (Pen Drive Kya Hai) जानते भी होंगे! और कुछ ऐसे भी लोग हो सकते है जिन्होंने शायद नाम ही सुना होगा! 

मैं आपको बताना चाहूंगा की पेन ड्राइव का इस्तेमाल प्रायः फाइल्स ट्रांसफर करने और डाटा स्टोर करने के लिए किया जाता हैं! 

तो चलिये बिना किसी देरी के इस पोस्ट को शुरू करते है और Pen Drive क्या है? पेन ड्राइव कैसे काम करता है? और पेन ड्राइव के फ़ायदे क्या है? के बारे में विस्तार से जानते है!

pen drive kya hota hai

पेन ड्राइव क्या है – Pen Drive Kya Hai

Pen Drive in Hindi: पेन ड्राइव को USB Flash Drive भी कहा जाता है! यह एक छोटा सा इलेक्ट्रॉनिक उपकरण होता है, जिसका इस्तेमाल मुख्य रूप से डिजिटल डाक्यूमेंट्स, फाइल्स, वीडियो और ऑडियो फाइल्स जैसे डाटा को सुरक्षित रखने के लिए किया जाता है!

इसके साथ ही पेन ड्राइव का उपयोग एक इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस से दूसरे इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस जैसे की कंप्यूटर, लैपटॉप और मोबाइल में डाटा ट्रांसफर करने के लिए भी किया जाता है!

पेन ड्राइव में USB का क्या मतलब होता है?

USB का पूरा फुल फॉर्म Universal Serial Bus होता है! यह आपके कंप्यूटर में एक inbuilt पोर्ट होता है जिसके जरिए Pen Drive को कंप्यूटर से connect किया जाता है! 

सामान्यतः एक कंप्यूटर में एक से अधिक USB पोर्ट उपलदब्ध होते है!

एक समय था जब pen drive नही थे और तब डाटा ट्रांसफर करने तथा स्टोर करने के लिए Floppy Disk और CD’s का इस्तेमाल किया जाता था!

लेकिन Floppy Disk साइज में काफी बड़े हुआ करते थे साथ ही इनकी Storage Capacity बहुत ही कम होती थी!

इसलिये डाटा स्टोरेज के लिए पेन ड्राइव के आने के बाद CD और Floppy Disk पूरी तरह से रिप्लेस हो चुके हैं!

क्योंकि पेन ड्राइव की स्टोरेज क्षमता काफी ज्यादा होती है और साथ ही किसी भी तरह के फाइल्स,डॉक्यूमेंट्स को पेन ड्राइव बहुत तेजी से ट्रांसफर कर सकता है!

सबसे बड़ी बात जो पेन ड्राइव को और भी खास बनाती है वो ये है की इसका साइज इतना छोटा होता है जो इसे पोर्टेबल बनाता है और आप इसे अपनी pocket में भी रख सकते है!

RAM Full Form: रैम क्या होता है? रैम के कार्य? RAM कितने प्रकार की होती है?

क्या पेन ड्राइव एक USB होता है? Is Pendrive a USB in Hindi

तो सवाल क्या पेन ड्राइव एक USB होता है? का जवाब है बिलकुल नहीं, पेन ड्राइव और USB दोनों अलग अलग टेक्नोलॉजी है!

जहा पेन ड्राइव एक डाटा स्टोरेज डिवाइस है वही USB एक डाटा ट्रांसफर टेक्नोलॉजी होती है! 

लगभग सभी प्रकार की पेन ड्राइव को आसानी से कंप्यूटर या फिर लैपटॉप से जोड़ने के लिए USB स्टिक का प्रयोग किया जाता है!

इसका नाम Pen Drive क्यों रखा गया?

इसका नाम Pen Drive इसलिए रखा गया था क्योंकि यह दिखने में कुछ pencil जैसा नजर आता है! Pen Drive को USB flash drive के नाम से भी जाना जाता है!

वैसे तो आज के समय में बहुत सारे cloud storage drive जैसे की Google Drive, Microsoft OneDrive, DigiBoxx और  Dropbox आदि उपलदब्ध है जिसके द्वारा आप अपने डाटा को क्लाउड में स्टोर कर सकते है!

लेकिन इनके इस्तेमाल के लिए आपको इंटरनेट की जरुरत होती है! वही एक pen drive को Internet connection के बगैर भी इस्तेमाल किया जा सकता है! पेन ड्राइव को इंटरनेट की कोई जरूर नही होती है!

इसको सिर्फ electric power की जरूरत होती है जो इसे computer और laptop से connect होने पर मिल जाती हैं! 

एक पेन ड्राइव की सामान्य स्टोरेज क्षमता 2 GB से लेकर 128 हो सकती है! लेकिन अब कई पेन ड्राइव 1 TB की स्टोरेज के साथ भी आने शुरू हो गये है!

पेन ड्राइव का आविष्कार कब हुआ – Pen Drive Ka Aviskar

क्या आप जानते है की Pen drive पहली बार अस्तित्व में कब आया था? चलिए इसके बारे में भी जानते हैं!

पेन ड्राइव का आविष्कार 1999 में इजराल की एक कंपनी M–System द्वारा बनाया गया था! इस pen drive को बनाने का credit पूरा Dov Maron को जाता है जो उसी कंपनी में काम करते थे!

इस पेन ड्राइव का पेटेंट IBM Company द्वारा किया गया था! शुरुआत में इसे डिस्गो कहा जाता था जो अलग अलग स्टोरेज क्षमता के साथ आते थे!

बाद में मलेशिया के K.S. Pua Khein Seng द्वारा इस पेन ड्राइव का advance version बनाया गया था!

साइबर अपराध क्या है? Cyber Crime करने पर IPC की कौन सी धाराएं लगती है?

पेन ड्राइव कैसे काम करता है – Pen Drive Kaise Kaam karta Hai

पेन ड्राइव में ASCII जो की एक प्रकार का करैक्टर एन्कोडिंग स्टैण्डर्ड होता है का उपयोग इलेक्ट्रॉनिक कम्युनिकेशन यानी की दो इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस के बिच डाटा को पढ़ने, समझने और स्टोर करने लिए उपयोग किया जाता है!

इस प्रकार के character encoding standard में सुचना को  0 और 1 कि भाषा में प्रोग्राम करके स्टोर किया जाता है!

किसी भी USB Flash drive में डाटा स्टोरेज के लिए स्विच लगाया जाता है स्विच के ऑन होने पर 1 तो ऑफ होने पर 0 प्रदर्शित होता है!

डाटा को 0 और 1 के फॉर्मेट में स्टोर किया जाता है ताकि कंप्यूटर इसे प्रोसेस करके वास्तविक रूप में परिवर्तित कर सके!

पेन ड्राइव के फायदे क्या है – Advantages of Pen Drive in Hindi

पेन ड्राइव के बोहोत से फायदे है जिसकी वजह से आज के समय में इसकी उपयोगिता बढ़ गई है। पेन ड्राइव के फायदे के बारे में बताया गया है!

  • Pen Drive का साइज काफी छोटा है और यह प्लास्टिक या मेटल से बने होते हैं जिसकी वजह से आसानी से कही भी ले जाया सकता है!
  • Pen Drive ज्यादा महंगे नही होते है।यह मार्केट में सस्ते प्राइज में मिल जाते है!
  • पेन ड्राइव की स्टोरेज क्षमता 64 mb से 128 gb तक हो सकती है। अब तो 1 tb तक के स्टोरेज वाले पेन ड्राइव उपलब्ध हैं!
  • Pen ड्राइव पुराने DC और फ्लॉपी डिस्क के मुकाबले अधिक तेज है!
  • पेन ड्राइव का इस्तेमाल बिना इंटरनेट के किया जा सकता है!
  • इसे ऑपरेट होने के लिए किसी तरह के पावर सोर्स की जरूरत नही पड़ती है!
  • पेन ड्राइव से फाइल्स और डाटा को अधिक तेजी से दूसरे डिवाइस में ट्रांसफर किया जा सकता है!
  • इसको कनेक्ट करने के लिए किसी तरह के cable या wire की जरूरत नही पड़ती हैं!

पेन ड्राइव के उपयोग क्या है – Use of Pen Drive in Hindi

तो चलिए अब पेन ड्राइव के उपयोग जान लेते है!

  1. Data Transfer
  2. Portable
  3. Data Backup

1. डाटा ट्रांसफर करने में पेन ड्राइव का उपयोग – Data Transfer

पेन ड्राइव का सबसे अधिक उपयोग किसी भी फाइल, वीडियो या फिर डिजिटल डाटा को एक डिवाइस से दूसरे डिवाइस में ट्रांसफर करने के लिए किया जाता है! 

आप पेन ड्राइव से बहुत जल्दी किसी भी डाटा को बिना इंटरनेट की मदद से अपने एक कंप्यूटर से दूसरे कंप्यूटर में ट्रांसफर कर सकते है!

2. पेन ड्राइव में डाटा आप कही भी ले जा सकते है – Portable

पेन ड्राइव प्लास्टिक का बना हुआ और एक पेन्सिल के आकर जैसा होता है! और यह बहुत छोटा तथा काफी हल्का होता है, इसलिए आप इसे अपने बैग और अपनी जेब में ले जा सकते है!

अपने इसी पोर्टेबिलिटी फीचर के कारण आप पेन ड्राइव में डाटा स्टोर करके कही भी डाटा को ले जा सकते है!

यानी की 100 से 200 GB का डाटा आप अपने पॉकेट में ले जा सकते है! और जब मन करे किसी भी कंप्यूटर से कनेक्ट करके उस डाटा को एक्सेस भी कर सकते है!

3. पेन ड्राइव में डाटा का बैकअप ले सकते है – Data Backup

सबसे खास बात यह है की आप अपने पेन ड्राइव में अपने महत्वपूर्ण डाटा जैसे की अपने गोपनीय पासवर्ड, दस्तावेज, घर की जानकारी, मेडिकल पेपर, फोटो अथवा वीडियो इत्यादि का बैकअप बना सकते हैं!

पेन ड्राइव के मुख्य भाग कौन–कौन से है – Parts of Pen Drive in Hindi

हालांकि पेन ड्राइव एक छोटा सा उपकरण है लेकिन इसके कई सारे parts भी है जो इसको खास बनाते है!

पेन ड्राइव के पार्ट्स के बारे में नीचे explain किया गया है!

  • USB Connector :– पेन ड्राइव का सबसे आगे वाला भाग जिसकी help से इसे कम्प्यूटर के यूएसबी port से जोड़ा जाता है।
  • Controller Chip :– पेन ड्राइव से इनफॉर्मेशन को retrieve करने का काम इसी चिप है।
  • Write Protect Chip :– इस चिप की मदद से pen drive के डाटा को secure रखा जाता हैं।
  • Second Flash Memory Chip :– यह एक slot होता है जिसमे memory card insert करके पेन ड्राइव की स्टोरेज क्षमता को बढ़ाता जाता है।
  • Crystal Oscillator :– Quartz Crystal का एक टुकड़ा जो एक frequency पर vibrate होता हैं।
  • Flash Memory Chip :– इसकी मदद से पेन ड्राइव में फाइल्स और डाटा को स्टोर करके रखा जाता है।आप चाहे तो डाटा को इसकी help से delete कर सकते हो।

निष्कर्ष – Conclusion

तो दोस्तों, आज के इस हिंदी लेख में हमने पेन ड्राइव क्या है इन हिंदी, Pen drive के प्रकार, पेन ड्राइव के उपयोग और फ़ायदे क्या है? के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त की इसके अतिरिक्त पेन ड्राइव को कब और किसके द्वारा बनाया गया था, इस बारे में भी इस लेख में बताया गया है!

उम्मीद करते है की आपको हमारा आज का यह ब्लॉग “पेन ड्राइव क्या है इन हिंदी” काफी पसंद आया होगा! यदि आपके पास इस लेख के बारे में कोई सुझाव और पेन ड्राइव के बारे में कोई प्रश्न हो तो कृपया निचे कमेंट सेक्शन में जाकर हमें जरूर बताये!

और आपको हमारी यह पोस्ट कैसी लगी, हमें कमेंट सेशन में जरूर बताये! पोस्ट को अपना एक लाइक जरूर दें! इस पोस्ट को अपने Social Side (FacebookInstagram और WhatsApp) में Share जरूर करें!

हमारी यह पोस्ट को पढ़ने के लिए आपको बहुत बहुत धन्यवाद!

स्वस्थ रहें, सुरक्षित रहें और अपनों का ख्याल रखें!

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here