5/5 - (1 vote)

Machine Learning in Hindi – नमस्कार दोस्तों, क्या आपको पता है की मशीन लर्निंग क्या है? और मशीन लर्निंग के प्रकार कौन से है? इसके साथ ही इस नयी Technology मशीन लर्निंग के उपयोग और Machine Learning कैसे काम करती है? तो मशीन लर्निंग के बारे में पूरी जानकारी जानने के लिए इस लेख को अंत तक जरूर पढ़ें!

High एडवांस टेक्नोलॉजी से सजी हुई आज की इस दुनिया में आप में से कई सारे लोगों ने Machine Learning और आर्टिफ़िश्यल इंटेलिजेंस का नाम तो जरूर सुना होगा! इससे पिछले ब्लॉग मे हमने Artificial Intelligence के बारे मे बताया था! और आज के इस ब्लॉग पोस्ट मे हम मशीन लर्निंग के बारे में जानकारी लेकर आए है!

यदि हमारा ऐसा सोचना सही हैं तो आपका इस ब्लॉग पर आना भी बिलकुल सही है! क्योंकि आज इस लेख के जरिए हम आपके साथ सरल शब्दों में विस्तारपूर्वक यह जानकारी शेयर करने जा रहे है की मशीन लर्निंग क्या (Machine Learning) है और मशीन लर्निंग कितने प्रकार की होती है?

बढ़ती Technology के बीच आज अर्थव्यवस्था के कई सारे क्षेत्र ऐसे है जहां पर Machine Learning का उपयोग हो रहा है! साथ ही यदि आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के बारे में जानना यदि आपको पसंद हैं या टेक्नोलॉजी के बारे में जानना पसंद है तब आपको तो जरूर इस लेख को जरूर एक बार पढ़ना चाहिए!

यह सम्पूर्ण आर्टिकल आज आपको जानने में मदद करेगा की मशीन लर्निंग क्या हैं? (What is Machine Learning in Hindi) मशीन लर्निंग कितने प्रकार के होते है? मशीन लर्निंग के उपयोग और Machine Learning कैसे काम करती है? आदि! इसके अलावा भी कुछ अन्य सवालों के जवाब इस लेख में दिए जायेंगे! आइए फिर Machine Learning के बारे जानकारी है!

machine learning in hindi

मशीन लर्निंग का अर्थ क्या हैं?

Machine Learning Meaning in Hindi: मशीन लर्निंग का अर्थ, मशीनों द्वारा अपने पुराने अनुभव से सीखना और जरूरत पढ़ने पर अपने पिछले अनुभव के आधार पर सही निर्णय लेना होता है!

अर्थात सरलतम शब्दों में कहें तो मशीन लर्निंग का अर्थ है एक मशीन में सोचने-समझने और निर्णय लेने की क्षमता का विकास करना होता है!

मशीन लर्निंग क्या है? What is Machine Learning in Hindi

Machine Learning in Hindi: मशीन लर्निंग सामान्य रूप से Artificial Intelligence का एक ऐसा हिस्सा होता है जो एक मशीन में सोचने-समझने और निर्णय लेने की काबिलियत प्रदान करता है, जिससे मशीन अपने काम खुद कर सके! और जरूरत पड़ने पर खुद को बेहतर बनाने के लिए जरूरी बदलाव करने की क्षमता रख सके!

साधारण शब्दो मे कहें तो मशीन लर्निंग, Artificial Intelligence का वह Application है जिसके द्वारा कृत्रिम बुद्धिमत्ता वाली मशीनों को ऐसी क्षमता प्रदान की जाती है! जिन क्षमताओं का उपयोग करके यदि एक मशीन ने भूतकाल में कोई कार्य संपन्न किया है! और उस कार्य से जो भी अनुभव प्राप्त किया है! उन अनुभव के आधार पर वह वर्तमान तथा भविष्य में खुद से नई चीजे करना सीख सकता है!

इसके साथ जरूरत के अनुसार कोई कार्य करते समय इन मशीनों से गलती हो जाए तो खुद से उन गलतियों को सुधार सकता है! इन मशीनों में किसी भी तरह का प्रोग्राम नही डाला जाता है जिससे की वह कुछ सीख सके! बल्कि अपने अनुभव के आधार पर ही यह नई नई चीजें सीखती है तथा उनमें सुधार करती है!

मशीन लर्निंग की सम्पूर्ण प्रक्रिया को संपन्न करने में Data अहम भूमिका निभाती है! यदि एक AI के पास अधिक मात्रा में भूतकाल से संबंधित Data है! तो वह अच्छे तरीके से उन डाटा का प्रयोग करके कुछ भी नया सीख सकती है!

उदाहरण के लिए यदि एक मशीन के द्वारा भविष्य में कोई कार्य किया जाना है! और उसी तरह का कार्य उसने पहले भी किया हो तो मशीन पहले से ही उन डाटा का खुद से Output तैयार कर लेती है!

मशीन लर्निंग कितने प्रकार के होते हैं? Types of Machine Learning in Hindi

मशीन लर्निंग का अर्थ क्या है यह तो हमने आपको अच्छे से समझा दिया है! अब आपको हम मशीन लर्निंग के मुख्य चार प्रकारों के बारे में संक्षिप्त रूप से जानकारी देने वाले है!

  1. Supervised Learning
  2. Unsupervised Learning
  3. Semi-Supervised Learning
  4. Reinforcement Learning

अपलिखित मशीन लर्निंग के चार प्रकारों को हमने नीचे Explain किया है!

1. Supervised Machine Learning in Hindi

सुपरवाईसड लर्निंग, मशीन लर्निंग का एक प्रकार है जिसमें Labeled Data का इस्तेमाल Supervised Learning प्रक्रिया में मशीन को प्रशिक्षण प्रदान करने के लिए किया जाता है!

Labeled Data का इस्तेमाल करके मशीन इस प्रक्रिया के अंतर्गत एक Model का निर्माण करती है जो मशीनों को Data Sets को समझने में मदद करती है!

मशीन के अंदर पहले से ही मौजूद डाटा को Labeled Data कहते है! आप इसको Input Data भी बोल सकते हो! Output Data की भविष्यवाणी मशीन अपने अंदर मौजूद Input Data के आधार पर ही करती है!

सरल शब्दों में व्याख्या की जाए तो Supervised Learning एक ऐसी प्रक्रिया है! इसके अंतर्गत मशीन यूजर्स को अपने अंदर पहले से मौजूद Input Data के आधार पर Output Data प्रदान करती है!

Supervised Learning प्रक्रिया सम्पूर्ण से निगरानी पर आधारित एक सुरक्षित लर्निंग प्रक्रिया होती है!

उदाहरण के तौर पर बच्चों पर नजर रखने वाला एक अध्यापक! Risk Assessment, Image Classification, Fraud Detection और Spam Filtering जैसी प्रक्रियाओं को पूरा करने के लिए Supervised Learning का उपयोग किया जाता है!

Supervised Learning के प्रकार

सुपरवाईसड लर्निंग के मुख्य रूप से दो प्रकार होते हैं!

1. Regression supervised learning

रिग्रेशन सुपरवाईसड लर्निंग एक ऐसी Technology होती है जिसका प्रयोग मशीन लर्निंग में Predictive Modelling की तकनीकी के रुप मे किया जाता है! इसके साथ ही Independent और Dependent के बीच के रिलेशनशिप का पता लगाने के लिए भी Regression का उपयोग किया जाता है!

इसके अलावा Regression का उपयोग मशीन लर्निंग में Predictive Modelling की विधि के रूप में किया जाता है।

Regression भी कई प्रकार के होते है!

  • Linear Regression
  • Non-Linear Regression
  • Polynomial Regression
  • Bayesian Linear Regression
  • Regression Trees
2. Classification supervised learning

Classification एक ऐसा एल्गोरिथ्म होता है जिसका उपयोग डेटा को categories में organize करने के लिए किया जाता है! इसके साथ ही क्लासिफिकेशन का प्रयोग डेटा को क्लास और ग्रुप में classify करने के लिए भी किया जाता है!

डेटा को classify करने के लिए Classification में, गणितीय तकनीक जैसे की decision trees, linear programming, और neural network इत्यादि का उपयोग किया जाता है!

2. Unsupervised Machine Learning in Hindi

Unsupervised Learning प्रक्रिया पूर्ण रूप से Supervised Learning प्रक्रिया के विपरित होती है! मशीन लर्निंग मे Unlabeled Data का उपयोग मशीन को प्रशिक्षण प्रदान करने के लिए किया जाता है!

अनसुपरवाईसड लर्निंग की समस्त प्रक्रिया में मशीन बिना किसी निगरानी के कई सारी चीजें करना सीख जाती हैं! Data के Insights को अधिक मात्रा में प्राप्त करने के Unsupervised Learning प्रक्रिया का इस्तेमाल किया जाता है!

इसके साथ ही मशिन लर्निंग के इस प्रकार यानी की Unsupervised Learning Model मे मनुष्यों की भांति सोचने समझने, मनुष्य की तरह व्यवहार करने और कार्य करने की क्षमता होती है!

3. Semi-Supervised Machine Learning in Hindi

Semi Supervised Learning मशिन लर्निंग का तीसरा प्रकार है! इसका निर्माण Supervised Learning और Unsupervised Learning के मेल से होता है!

इस लर्निंग प्रक्रिया में किसी भी मशीन को प्रशिक्षण देने के लिए Labeled Data का कम मात्रा में तथा Unlabeled Data का अधिक मात्रा में इस्तेमाल किया जाता है!

4. Reinforcement Machine Learning in Hindi

Reinforcement Learning प्रक्रिया के अंतर्गत यदि एजेंट द्वारा कोई अच्छा कार्य किया जाता है तो उस कार्य के बदले उसे Reward दिया जाता है! और गलत कार्य करने पर सजा के तौर पर Penalty दी जाती है!

आपको बता दे की Reinforcement Learning प्रक्रिया Feedback के ऊपर आधारित होती है! Agent कई सारी चीजे सीखता है और Feedback के आधार पर और जरूरत के अनुसार खुद में सुधार भी कर लेता है! आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस रोबोट इस Reinforcement Learning प्रक्रिया का एक उदाहरण है!

मशीन लर्निंग के उपयोग बताइए क्या है?

उम्मीद है की आपको मशीन लर्निंग के इन मुख्य 4 प्रकारों की व्याख्या से बहुत कुछ समझ मे आया होगा! अब आगे हम आपको मशीन लर्निंग के उपयोगों की जानकारी देने जा रहे है! आइए फिर जानते है की आखिर Machine Learning का उपयोग कहां कहां होता है!

  • वस्तुओं, चित्रों, स्थानों और व्यक्तियों की पहचान करने के लिए मशीन लर्निंग का उपयोग किया जाता हैं! Face Detection मशीन लर्निंग का उदाहरण है जिसका उपयोग सुरक्षा के दृष्टिकोण से किया जाता हैं!
  • किसी भी स्थान की दिशा और उस जगह पर मौजूद ट्रैफिक की स्थिति का पता लगाने के लिए कोई भी व्यक्ति Google Map का उपयोग करता है! और गूगल मैप मशीन लर्निंग पर आधारित है!
  • गूगल और कई सारे ऐप्स में Voice Search का विकल्प दिया गया होता है! यह आप जानते होंगे जिसकी मदद से हम सिर्फ बोलकर कई सारी चीजे सर्च कर सकते हैं! अतः Voice Search की यह तकनीक Machine Learning प्रक्रिया पर कार्य करती है!
  • Amazon Prime, Netflix, Amazon और Flipkart जैसी e-Commerce और Entertainment कंपनियों द्वारा भी मशीन लर्निंग तकनीक का उपयोग किया जाता है! 
  • स्वास्थ्य संबधित बीमारियों का पता लगाने के लिए भी मशीन लर्निंग तकनीक का उपयोग होने लगा है!
  • वर्तमान समय में ऑनलाइन लेन देन काफी ज्यादा होने लगा है जहां पर कई सारे Fraud भी देखने को मिलते है! ऐसे मे मशीन लर्निंग यहां भी सहायक है क्योंकि मशीन लर्निंग तकनीक के द्वारा नकली खातों का पता लगाया जा सकता है जो ऑनलाइन गैरकानूनी लेन देन के संबंध में Scam करते है
  • Stock Market में भी मशीन लर्निंग तकनीक का भरपूर उपयोग होता है! क्योंकि यहां पर शेयर से संबधित पुराने डाटा का उपयोग करके मशीन लर्निंग की सहायता से भविष्य में कौन से शेयर की कीमत में वृद्धि होगी और कौन से शेयर की कीमत में कमी होगी इसका अनुमान लगाया जाता है!

हालांकि यह बिल्कुल सही हो इसकी पुष्टि कर पाना सम्भव नहीं हैं! पर यह अनुमान निवेशकों को यह आइडिया प्रदान कर देता है की कैसे निवेश किया जाए!

उपलीखित कुछ ऐसे क्षेत्र थे जहां पर मशीन लर्निंग का इस्तेमाल भरपूर रूप से किया जाता हैं! इन सभी क्षेत्रों के अलावा भी कई सारी जगहों पर मशीन लर्निंग का उपयोग किया जाता हैं!

मशीन लर्निंग क्या है? FAQs

Q. मशीन लर्निंग सरल शब्दों में क्या है?

Ans: मशीन लर्निंग, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के अंतर्गत आने वाली एक ऐसी तकनीक है जिसके उपयोग से एक मशीन को ऐसी क्षमता प्राप्त हो जाती है! इस तकनीक के उपयोग से मशीन अपने Past Work Experience से वर्तमान तथा भविष्य में खुद से नई चीजें करना सीख सकती है तथा आने वाली घटनाओं को Predict कर सकती है!

Q. क्या आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस मनुष्य मस्तिस्क से भी तेज हैं?

Ans: इस प्रश्न का जवाब थोड़ा कठिन है क्योंकि एक तरफ आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस वाली मशीन मनुष्य की भांति कई सारे कार्य तेजी और सरलता से कर सकती है! लेकिन वही मनुष्य अपनी 100 प्रतिशत बुद्धिमत्ता का उपयोग नही करते है!

परंतु वर्तमान की परिस्थितियों को देखते हुए यह कह सकते है की आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस मनुष्य मस्तिस्क पर भारी पड़ रही है!

Q. मशीन लर्निंग कितने प्रकार के होते है?

Ans: मशीन लर्निंग के मुख्य चार प्रकार निम्नलिखित है – 1. Supervised  2. Unsupervised 3. Semi–Supervised  4. Reinforcement

Q. मशीन लर्निंग का उद्देश्य क्या होता है?

Ans: मशीन लर्निंग तकनीक का उद्देश्य मशीनों को ऐसी क्षमता देनी है जिससे मशीन अपने भूतकाल में किए कार्यों से प्राप्त अनुभव से खुद से ही मानवीय क्रियाएं करना सीख जाए तथा भविष्य में आने वाली बाधाओं को सुलझा सके बिना किसी मानवीय हस्तक्षेप के!

Q. मशीन लर्निंग का उपयोग कैसे किया जाता है?

Ans: इंटरनेट पर मौजूद सर्च इंजन में, फोन में आने वाले स्पैम मेल को छांटने के लिए, गैरकानूनी लेन देन की जांच करने के लिए और स्मार्टफोन में मौजूद ऐप में आवाज के द्वारा रिजल्ट प्राप्त करने के लिए मशीन लर्निंग का उपयोग किया जाता है! इसके अतिरिक्त भी मशीन लर्निंग के कई सारे अन्य उपयोग है!

सारांश – Conclusion

तो दोस्तों, आज के इस हिन्दी लेख मे हमने मशीन लर्निंग क्या हैं? (What is Machine Learning in Hindi) मशीन लर्निंग कितने प्रकार के होते है? मशीन लर्निंग के उपयोग और Machine Learning कैसे काम करती है? के बारे मे विस्तारपूर्वक जानकारी प्रदान की है! और हमे पूरी आशा है की आज के इस आर्टिक्ल से आपको बहुत कुछ सीखने को मिला होगा!

मशीन लर्निंग का अर्थ क्या है? Machine Learning के कितने प्रकार होते है? मशीन लर्निंग का उद्देश्य क्या है? और मशीन लर्निंग के उपयोग क्या है? इत्यादि प्रश्नो के उत्तर के साथ आज का हमारा यह लेख यही पर समाप्त होता है!

और हम आशा करते है की यह लेख आपको पसंद आया होगा! यदि यह लेख आपको लाभदायक लगे तो इसे एक Like और इस ब्लॉग को जरूर subscribe करें! साथी ही अपने social मीडिया ग्रुप मे share अवश्य करें! इसके अलावा लेख से जुड़े कोई भी सवाल और सुझाव आपके मन मे हो तो आप नीचे कमेंट सेक्शन मे कमेंट करके हमे जरूर अवगत कराएं!

इस लेख को अंत तक पढ़ने के लिए बहुत बहुत धन्यवाद!

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here