नमस्कार दोस्तों, क्या आप फैशन डिज़ाइनिंग का कोर्स करना चाहते है? या फिर यदि आप फैशन डिज़ाइनिंग के बारे में जानना चाहते है? तो आप बिलकुल सही जगह पहुंचे है! आज के इस हिंदी ब्लॉग में हम आपको एक बेहतरीन फैशन डिज़ाइनिंग कोर्स BFD क्या है? BDF Full Form, फैशन डिज़ाइनिंग कोर्स कैसे करें? और Fashion Designing Course Fees के बारे में बताने वाले है!

दरअसल सोशल मीडिया ऍप्लिकेशन्स जैसे की फेसबुक, इंस्टाग्राम और टकाटक की पॉपुलैरिटी के कारण भी आज फैशन डिज़ाइनिंग कोर्स की डिमांड लगातार बढ़ रही है! इस वजह से फैशन डिज़ाइनिंग अभी सबसे अधिक पसंदीदा करियर विकल्प बना हुआ है!

आज के समय में फैशन डिज़ाइनिंग युवाओं के लिए एक आकर्षण का केंद्र बना हुवा है! और आपको बता दे की यदि आप 12 वी में पढ़ाई कर रहे है या फिर 12 वी कक्षा पास हो चुके है और आपकी फैशन डिज़ाइनिंग में रूचि है तो फैशन डिज़ाइनिंग आपके लिए एक सुनहरा करियर विकल्प हो सकता है!

इसलिए आज के इस आर्टिकल में हम, आपके उज्जवल भविष्य के लिए एक और बेहतरीन करियर विकल्प फैशन डिज़ाइनिंग कोर्स BFD क्या है? BDF Full Form, फैशन डिज़ाइनिंग कोर्स कैसे करें? और Fashion Designing Course Fees के बारे में विस्तार से बताने वाले ह!

Fashion Designing Course in Hindi

विषय - सूची

बीएफडी फुल फॉर्म – BFD Full Form

BFD Full Form: बीएफडी का फुल फॉर्म Bachelor of Fashion Designing होता है जिसका हिंदी में अर्थ फैशन डिजाइनिंग में स्नातक होता है! 

बीएफडी कोर्स क्या है – BFD Course Kya Hai

BFD Kya Hai: बीएफडी यानी की बैचलर ऑफ़ फैशन डिज़ाइनिंग एक फैशन डिज़ाइनिंग के क्षेत्र में किया जाने वाला एक Professional undergraduate course होता है! यह एक स्नातक शैक्षणिक डिग्री होती है! इस Fashion Designing Course अंतर्गत फैशन और डिज़ाइनिंग से संबंधित पाठ्यक्रम जैसे कॉस्टूयम डिज़ाइनिंग, स्टिचिंग, फैशन तकनीक, ट्रेंड और बिज़नेस कम्युनिकेशन इत्यादि के बारे में अध्ययन कराया जाता है!

फैशन डिज़ाइनिंग कोर्स भारत और अन्य देशो में एक लोकप्रिय कोर्स माना जाता है! यह एक प्रकार की कला होती  है! जिसमे Trending फैशन के आधार पर डिज़ाइनर कॉस्टूयम, Accessories, Jewellery और Footwear’s, आदि तैयार करने की Technique के बारे में अध्ययन कराया जाता है! 

गौरतलब है की समय के अनुसार फैशन का ट्रेंड बदलता रहता है! हर कोई Trending Fashion के हिसाब से ही शॉपिंग करना पसंद करते है! या फैशन कलेक्शन करते है! जो छात्र इस फील्ड में अपना करियर बनाना चाहते है यह एक बेस्ट करियर ऑप्शन है! और एक प्रोफेशनल आर्टिस्ट बन सकते है! 

फैशन डिज़ाइनिंग कोर्स के लिए शैक्षिक योग्यता – Qualification For Fashion Designing Course

बैचलर ऑफ़ फैशन डिज़ाइनिंग कोर्स में प्रवेश लेने के लिए कैंडिडेट्स की शैक्षिक योग्यता इस प्रकार होनी चाहिए!

  • Bachelor of Fashion Designing में एडमिशन के लिए कैंडिडेट्स 10 + 2 उत्तीर्ण किया हो! 
  • छात्र द्वारा बारहवीं में 45 – 50% मार्क्स प्राप्त किये हो!
  • फैशन डिज़ाइनिंग कोर्स में एडमिशन के लिए छात्र को कम से कम इंटरमीडिएट उत्तीर्ण होना अनिवार्य होता है इसके साथ ही इस फील्ड में रूचि हो और आपको थोड़ा बहुत Drawing, Scratching का ज्ञान और Creative mind होना चाहिए!

फैशन डिज़ाइनिंग कोर्स समय अवधि Fashion Designing Course Duration in Hindi

Bachelor of Fashion Designing Course को करने की समय अवधि 3 – 4 साल की होती ह! इसमें कोर्स के पाठ्यक्रम को सेमेस्टर के आधार पर रखा जाता है! इस समय अवधि में थ्योरी के साथ साथ प्रैक्टिकल कार्य पर अधिक ध्यान दिया जाता है!

फैशन डिज़ाइनिंग कोर्स कैसे करें – Fashion Designing Course in Hindi

सबसे पहले यह फैशन डिज़ाइनिंग कोर्स को करने के लिए आपको अपना 12th उत्तीर्ण करना होता है! बैचलर ऑफ़ फैशन डिज़ाइनिंग कोर्स यदि आप टॉप और अच्छे कॉलेजो से करना चाहते है तो इसके लिए आपको Entrance exam उत्तीर्ण करना होता है! यह exams राष्ट्रिय और राज्य  स्तर पर आयोजित किये जाते है!

मुख्यतः आप इस कोर्स में एडमिशन दो प्रकार से ले सकते है!

  1. मेरिट आधारित प्रवेश (Merit Based Admission)
  2. प्रवेश परीक्षा आधारित प्रवेश (Entrance exam Based Admission)

1. मेरिट आधारित प्रवेश – Merit Based Admission

कई प्राइवेट कॉलेजो द्वारा मेरिट के आधार पर एडमिशन कराये जाते है इसका मतलब है की कैंडिडेट्स के 12th में प्राप्त किये गए मार्क्स के हिसाब से मेरिट स्कोर देखा जाता है! और कोर्स के लिए Required marks की गणना की जाती है! इसके बाद आप कोर्स में एडमिशन कर अपनी पढाई शुरू कर सकते है!

2. प्रवेश परीक्षा आधारित प्रवेश – Entrance Exam Based Admission 

इंडिया में लगभग कॉलेज Entrance exam के base पर ही एडमिशन कराते है! सरकारी कॉलेजो में किसी भी कोर्स को करने के लिए स्टेट और नेशनल लेवल पर आयोजित किये जाने वाले एग्जाम को देना अनिवार्य होता है! कैंडिडेट्स को entrance exam के लिए आवेदन करना होता है! और कुछ समय बाद Exam admit card आपको उपलब्ध कराया जाता है एडमिट कार्ड में आपको एग्जाम सेंटर और एग्जाम डेट की details दी जाती है!

Exam center में जाकर आपको अपना एग्जाम देना होता है  Entrance exam को पास करने के बाद रैंक के आधार पर कैंडिडेट्स को कॉलेज प्रोवाइड किया जाता है! जहां से स्टूडेंट्स अपना डिज़ाइनिंग का कोर्स कर सकते है!

फैशन डिजाइनिंग कोर्स की प्रवेश परीक्षाएं – Fashion Designing Course Exams

आइये जान लेते है कुछ Entrance Exams जो Fashion Designing Course में प्रवेश हेतु आयोजित किये जाते है! जो इस प्रकार है! 

  • IIAD
  • DAT
  • UCEED
  • AIEED

1. IIAD Exam 

इसका पूरा नाम Indian institute of Art & design होता है! यह एग्जाम बैचलर कोर्स जैसे फैशन डिज़ाइनिंग, कम्युनिकेशन डिज़ाइनिंग आदि में एडमिशन के लिए Indian institute of Art & design द्वारा आयोजित कराया जाता है! और यह परीक्षा एक साल में दो बार आयोजित की जाती है!

2. DAT Exam

DAT का पूरा नाम Design AptitudeTest होता है! यह एग्जाम इंडिया में कुछ टॉप प्राइवेट कॉलेजो National Institute of Design, GD Goenka University द्वारा कराया जाता है! 

3. UCEED Exam

इसका पूरा नाम Undergraduate Common entrance exam For design होता है! जो फैशन डिज़ाइनिंग के बैचलर कोर्स में प्रवेश हेतु आयोजित किया जाता है! IIT बॉम्बे द्वारा यह entrance exam को organize किया जाता है!

4. AIEED Exam

इसका पूरा नाम All India Entrance Examination for Design होता है! डिज़ाइनिंग संबंधी कोर्स में एडमिशन के लिए यह परीक्षा organize की जाती है! इसमें छात्र की creativity, analytical ability, और fashion sensitivity का टेस्ट किया जाता है! यह एग्जाम Qualify करने के बाद कैंडिडेट्स ARCH अकेडमी ऑफ़ डिज़ाइन में एडमिशन ले सकते है!

फैशन डिज़ाइनिंग कोर्स पाठ्यक्रम – Fashion Designing Course Subjects in Hindi 

👉 पहला साल बीएफडी कोर्स सब्जेक्ट्स – First Year BFD Course Subjects in Hindi

  • पैटर्न बनाने और ड्रापिंग का परिचय (Introduction to Pattern Making and Draping)
  • फैशन तकनीक का परिचय (Introduction to fashion technology)
  • वस्त्र का परिचय I (Introduction to Textiles I)
  • प्रबंधन -I (Management -I)
  • फैशन सिद्धांत (fashion Theory)
  • फैशन का इतिहास (History of Fashion)
  • सामाजिक विज्ञान- I (social Science- I)
  • सामाजिक विज्ञान – II (Social Science – II)
  • फैशन स्केचिंग और चित्रण का परिचय (Introduction to Fashion Sketching & illustration)
  • परिधान विकास I (Apparel development I)
  • वर्तमान रुझान और कास्टिंग के लिए (Current Trends and for Casting)
  • कंप्यूटर एडेड डिजाईन- I (Computer aided Design- I)

👉 दूसरा साल बीएफडी कोर्स सब्जेक्ट्स – Second Year BFD Course Subjects in Hindi

  • परिधान विकास- II (Apparel development- II)
  • फैशन चित्रण (Fashion illustration)
  • बच्चों के वस्त्र डिजाइन (Children’s wear design)
  • वस्त्र का परिचय – II (Introduction to Textiles II)
  • डिजाइन प्रक्रिया – I (Design process – I)
  • इंटर्नशिप – I (Internship – I)
  • फैशन के लिए निटवेअर डिजाइन (Knitwear Design for Fashion)
  • पुरुषों के वस्त्र डिजाइन (Men’s Wear Design)
  • उन्नत ड्रेपिंग (Advanced Draping)
  • मॉडल और प्रोटोटाइप डी विकास(Model & Prototype D Envelopment)
  • कंप्यूटर एडेड डिजाइन – II (Computer aided Design – II)

👉 तीसरा साल बीएफडी कोर्स सब्जेक्ट्स – Third Year BFD Course Subjects in Hindi

  • डिजाइन II (Design II)
  • उन्नत ड्रेपिंग II (Advanced Draping II)
  • प्रबंधन II (Management II)
  • इंटर्नशिप – II (Internship – II)
  • डिजाइन लघु संगोष्ठी अनुसंधान एवं संचार (Design Minor seminar Research & Communication)
  • डिजाइन माइनर स्टूडियो (Design Minor studio) Graduation
  • कला का इतिहास (History of Art)

👉 चौथा साल बीएफडी कोर्स सब्जेक्ट्स – Fourth Year BFD Course Subjects in Hindi

  • रंग और डिजाइन का तत्व (Element of Color & Design)
  • फैशन मॉडल ड्राइंग (Fashion Model Drawing)
  • फैशन एक्सेसरी (Fashion Accessory)
  • कला की प्रशंसा (Art Appreciation)
  • फैशन डिजाइन थीसिस स्टूडियो (Fashion Design Thesis Studio)

फैशन डिज़ाइनिंग कोर्स फीस – Fashion Designing Course Fees in Hindi

फैशन डिज़ाइनिंग कोर्स में ग्रेजुएशन करने में लगभग सालाना 20,000 – 40,000 फीस भरनी होती है यह अनुमानित फीस सभी सरकारी कॉलेजो में एक समान हो सकती है लेकिन प्राइवेट कॉलेजो में फीस अलग अलग हो सकती है! 

ग्रेजुएशन के बाद फैशन डिजाइनिंग कोर्स – Fashion Designing Course after Graduation

जब आप फैशन डिज़ाइनिंग के क्षेत्र में बहुत रूचि रखते हो और इसमें अधिक से अधिक knowledge प्राप्त करना चाहते हो ग्रेजुएशन करने के बाद fashion Designing में Master Course कर सकते है! आप इस फील्ड में Expert बन सकते है! बैचलर ऑफ़ फैशन डिज़ाइनिंग कोर्स के बाद आप निम्न मास्टर कोर्स कर सकते है!

  • फैशन डिजाइनिंग के मास्टर (Master of Fashion Designing)
  • फैशन डिजाइनिंग में एमएससी (MSc in Fashion Designing)
  • फैशन डिजाइनिंग में एमबीए (MBA in Fashion Designing)

1. फैशन डिजाइनिंग के मास्टर (Master of Fashion Designing)

यह फैशन डिज़ाइनिंग के क्षेत्र में एक पोस्ट ग्रेजुएशन कोर्स है! डिज़ाइनिंग के फील्ड में High Skills डेवेलोप करने के लिए आप अपना ग्रेजुएशन पूरा करने के बाद मास्टर कोर्स में एडमिशन ले सकते है! इस कोर्स के अंतर्गत आपको फैशन डिज़ाइनिंग संबंधी विषयो का Deep knowledge दिया जाता है! यह कोर्स रिसर्च पर आधारित होता है! 

2. फैशन डिजाइनिंग में एमएससी (MSc in Fashion Designing)

यह भी एक मास्टर कोर्स है यानि की Fashion Designing के फील्ड में Post Graduation Degree है! जब आप अपना फैशन डिज़ाइनिंग का बैचलर कोर्स पूरा कर देते है उसके बाद आप इस फील्ड में यदि आगे स्टडी करना चाहते है तो आप आसानी से यह कोर्स के लिए आवेदन कर सकते है! यह कोर्स 2 साल का होता है!

3. फैशन डिजाइनिंग में एमबीए (MBA in Fashion Designing)

फैशन डिज़ाइनिंग के फील्ड में यदि आप बहुत रूचि रखते है और आपको मैनेजमेंट के फील्ड का थोड़ा बहुत क्नोलाज हो तो आप फैशन डिज़ाइनिंग के क्षेत्र में MBA कोर्स कर सकते है यह डिग्री को आप 2 साल की अवधि में प्राप्त कर सकते है! इस फील्ड में आप बहुत सारे Career Opportunities मिल जाती है!

बीएफडी कोर्स के बाद जॉब – Job after Fashion Designing Course

  • कॉस्ट्यूम डिजाइनर (Costume Designer )
  • फैशन सलाहकार (Fashion Consultant)
  • उत्पाद विकासकर्ता (Product Developer)
  • फैशन स्टाइलिस्ट (Fashion Stylist)
  • उत्पादन प्रबंधक (Production Manager )
  • गुणवत्ता नियंत्रण प्रबंधक (Quality Control Manager )
  • फैशन समन्वयक (Fashion Coordinator)
  • दृश्य विक्रेता (Visual Merchandiser )
  • फैशन एंटरप्राइज मैनेजर (Fashion Enterprise Manager )
  • ट्रेंड फोरकास्टर (Trend Forecaster)

बीएफडी कोर्स के बाद रोजगार के क्षेत्र – Career in Fashion Designing

  • फैशन मीडिया हाउस (Fashion Media Houses)
  • निर्यात घर (Export Houses)
  • फैशन शो प्रबंधन केंद्र (Fashion Show Management Centers)
  • फैशन हाउस फ्रीलांसिंग (Fashion Houses Freelancing)
  • गारमेंट स्टोर चेन (Garment Store Chains)
  • ज्वैलरी हाउस (Jewellery Houses)
  • मीडिया हाउस (Media Houses)
  • गुणवत्ता नियंत्रण केंद्र (Quality Control Centers)
  • कपड़े की मिल (Textile Mills)

फैशन डिज़ाइनर सैलरी इन इंडिया – Fashion designer salary in India

भारत में एक फैशन डिज़ाइनर के शुरुवात में तनख्वाह प्रति माह 20 से 30 प्रति माह हजार रूपये तक हो सकती है! सैलरी कंपनी और व्यक्ति के क्वालिफिकेशन पर भी निर्भर करता है और इस फील्ड में आप लाखो में सैलरी प्राप्त कर सकते है!आप चाहे तो अपना खुद का फैशन डिज़ाइनिंग स्टूडियो शुरू कर सकते है जिसमे अच्छा खासा पैसा कमाया जा सकता है!

भारत के टॉप फैशन डिज़ाइनिंग कॉलेज – TOP Fashion Designing Collages in India

  • राष्ट्रीय फैशन प्रौद्योगिकी संस्थान (दिल्ली) National Institute of Fashion Technology (Delhi)
  • आर्मी इंस्टीट्यूट ऑफ फैशन एंड डिजाइन (बैंगलोर) Army Institute of Fashion and Design (Bangalore)
  • नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ डिजाइन (अहमदाबाद) National Institute of Design (Ahmedabad)
  • वोग इंस्टीट्यूट ऑफ आर्ट एंड डिज़ाइन (बैंगलोर) Vogue Institute of Art and Design (Bangalore)
  • इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ फैशन डिजाइन (नवी मुंबई) International Institute of Fashion Design (Navi Mumbai)
  • एमिटी इंस्टीट्यूट ऑफ फैशन टेक्नोलॉजी (नोएडा) Amity Institute of Fashion Technology (Noida)
  • पर्ल अकादमी (दिल्ली) Pearl Academy (Delhi)
  • राष्ट्रीय फैशन प्रौद्योगिकी संस्थान (मुंबई) National Institute of Fashion Technology (Mumbai)
  • आर्क एकेडमी ऑफ डिजाइन (जयपुर) Arch Academy of Design (Jaipur)

भारत के टॉप 10 बेस्ट फैशन डिज़ाइनर – Top 10 best fashion designer in India

  • मसाबा गुप्ता!
  • तरुण तहिलियानी!
  • मनीष मल्होत्रा! 
  • सब्यसाची मुखर्जी!
  • ऋतू कुमार!
  • रोहित बाल!  
  • मनीष अरोरा!
  • नीता लुल्ला!

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल – Frequently asked question

Q1. फैशन डिज़ाइनिंग कोर्स कितने प्रकार के होते है!

Ans. फैशन डिज़ाइनिंग कोर्स निम्न के होते है!

  • बीए इन फैशन डिज़ाइनिंग
  • बीएससी इन फैशन डिज़ाइनिंग
  • डिप्लोमा इन फैशन डिज़ाइनिंग
  • पोस्ट ग्रेजुएशन डिप्लोमा इन फैशन डिज़ाइनिंग
  • एडवांस डिप्लोमा इन फैशन डिजाइनिंग एंड मेनेजमेंट 
  • एमएससी इन फैशन डिज़ाइनिंग 

Q2. फैशन डिजाइनर का मतलब क्या होता है?

Ans. फैशन डिज़ाइनर वह होता है जो Fashion Designing के क्षेत्र में कपड़े, जूते, आभूषणों आदि को डिज़ाइन करते है नई फैशन तकनीक के आधार पर नई नई फैशन डिज़ाइनिंग करते है!

Q3. फैशन डिज़ाइनिंग का बैचलर कोर्स कितने साल का होता है?

Ans. यह कोर्स की समय अवधि 3 – 4 साल की होती है जिसमे कोर्स के पाठ्यक्रम को सेमेस्टर के बेस पर पढ़ाया जाता है!

Q4. फैशन डिज़ाइनिंग का बैचलर कोर्स में कौन कौन से विषय पढ़ाये जाते है?

Ans. इस कोर्स में फैशन का इतिहास, फैशन तकनीक का परिचय, सामाजिक विज्ञान, कंप्यूटर एडेड डिजाईन, बच्चों के वस्त्र डिजाइन, प्रबंधन आदि विषय पढ़ाये जाते है!

निष्कर्षConclusion

आज के इस हिंदी लेख में हमने फैशन डिज़ाइनिंग कोर्स BFD क्या है? BDF Full Form, फैशन डिज़ाइनिंग कोर्स कैसे करें? और Fashion Designing Course Fees के बारे में और इसके अलावा बीएफडी कोर्स शैक्षिक योग्यता, बीएफडी कोर्स पाठ्यक्रम, Course fees और रोजगार के क्षेत्र की पूरी जानकारी हमने आपके के साथ शेयर की है! एक ऐसा कोर्स जिसकी मांग आज के समय में दिनप्रतिदिन बढ़ती जा रही है!

हम उम्मीद करते है इस आर्टिकल को पढ़कर आपको फैशन डिज़ाइनिंग कोर्स के बारे में बहुत कुछ जानने को मिला होगा! आपको हमारी यह जानकारी पसंद आयी होगी! फिर भी आपको हमारी यह पोस्ट कैसी लगी, हमें कमेंट सेशन में जरूर बताये! पोस्ट को अपना एक लाइक जरूर दें! और इस पोस्ट को अपने Social Side (Facebook, Instagram और WhatsApp) में Share जरूर करें! 

हमारी यह पोस्ट को पढ़ने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद!

स्वस्थ रहें, सुरक्षित रहें और अपनों का ख्याल रखें!

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here