क्या आप जानते हैं CVV Code kya hai यह क्यों जरुरी है इसकी जानकारी रखना आपके लिए क्यों आवश्यक है! आजकल Online Transaction के दौर में लोगो के पास डेबिट कार्ड और क्रेडिट कार्ड होते है जिसमें लोगो को पेमेंट करने में बहुत आसानी होती है लोगो को जेब में cash नहीं रखना पड़ता है और चोरी या फिर किसी और चीज का कोई भी डर नहीं रहता है!

हम कोई Online Payment करते है तो हमें Debit Card Number उसकी वैधता के साथ एक और number की जरूरत होती है जिसे हम CVV number या फिर सीवीवी कोड CVV Number kya hai कहते हैं अक्सर इस code के बारे में लोग कम ही जानते हैं! लोगों को यह तो मालूम होता है यह सीवीवी कोड कहाँ पर होता है किन्तु CVV Code क्या होता है! इसकी जानकारी कम ही होती है तो आज के इस पोस्ट में हम यही सब कुछ जानेंगे! 

cvv number kya hai
cvv number kya hai

इससे पिछले पोस्ट में हमने जाना था MICR code क्या होता है आज हम जानेंगे CVV Code क्या है CVV Code kya hai हमारे डेबिट कार्ड या फिर क्रेडिट कार्ड में यह क्यों print किया जाता है! तो चलिए आगे बढ़ते हैं!

फुल फॉर्म ऑफ सीवीवी कोड – Full Form of CVV Code 

CVV का Full Form “Code Vitrifaction Value” होता है! बिना CVV कोड के आपकी Online Payment अधूरी रह जाती है!

फुल मीनिंग ऑफ सीवीवी कोड इन हिंदी – Full meaning of CVV Code in Hindi 

CVV code का हिंदी में फुल मीनिंग “कार्ड जाँच का मूल्य” होता है! यह code कार्ड नंबर का हिस्सा नहीं है जबकि यह एक सुरक्षा देने वाला कोड है!

आइये आगे जानते हैं CVV Number kya hai

सीवीवी कोड क्या है – What is CVV Code in Hindi 

हमारे डेबिट कार्ड या क्रेडिट कार्ड में कुछ कोड ऐसे होते हैं जिन्हे CSE code (Card Security Code) कहते हैं! ये सिकियॉरिटी कोड होते हैं ! ये कोड हमारे डेबिट कार्ड या क्रेडिट कार्ड को सुरक्षित रखते हैं! इन्हीं कोड में सीवीवी कोड भी आता है जिसे Vitrifaction code भी कहा जाता है! 

CVV code एक ऐसा कोड है जो Online Transaction के लिए use होता है! यह डेबिट और क्रेडिट कार्ड दोनों में होता है! इसका उपयोग कार्ड नंबर के साथ किया जाता है! यह कार्ड नंबर से हटकर होता है! फ्रॉड होने से बचने के लिए सीवीवी कोड एक तरह का Protection देता है! CVV कोड की मदद से card holder की पहचान हो जाती है! मालूम चल जाता है की right card holder ही इस कार्ड का उपयोग कर रहा है!

सीवीवी कोड की खास बात यह है की यह किसी भी Payment website में save नहीं होता है! उपभोक्ता जितनी बार कार्ड का उपयोग करेंगे उतनी बार उन्हें यह Code डालना पड़ता है इससे हमारा कार्ड सिक्योर हो जाता है!

इस कोड की शुरआत कब और किसने की – CVV Code ki Shuruwaat kab aur kisne ki

अक्सर सीवीवी कोड को CVC code (Card Verification Code) भी कहा जाता है! इसकी शुरआत 1995 में हुई थी! इसे UK के माइकल स्टोन द्वारा शुरू किया गया! शुरआत में यह कोड कुल 11 अंकों का होता था जिसका उद्देश्य आपके डेबिट कार्ड या क्रेडिट कार्ड को सुरक्षित रखना था किन्तु बाद में इसके उपयोग को बढ़ा दिया गया!

सीवीवी कोड आपके कार्ड में कहाँ पर होता है – CVV Code Card men kahna par Hota Hai

अक्सर लोग नहीं समझ पाते हैं की CVV number हमारे कार्ड में कहाँ है! अक्सर लोग यह सवाल अवश्य पूछते हैं!  ज्यादातर लोग IFSC Code को ही जानते हैं क्योंकि Internet Banking अधिक उपयोग किया जाता है यह आपके डेबिट कार्ड या क्रेडिट कार्ड के पीछे की तरफ प्रिंट होता है! यह 3 या 4 अंकों का होता है!

यह हमारे कार्ड को बहुत सुरक्षा प्रदान करता है! आपको Card number और CVV number की जानकारी होनी चाहिए! साथ ही आपको डेबिट कार्ड या क्रेडिट कार्ड की अंतिम तिथि भी याद होनी चहिये तो ऐसे में आप Online Transactioncomplete कर सकते हैं!

सीवीवी कोड का उपयोग कहाँ पर किया जाता है – CVV Code ka Use Kahna par Hota Hai

इस कोड का उपयोग अक्सर Online Truncation में किया जाता है! डेबिट कार्ड या क्रेडिट कार्ड के माध्यम से पेमेंट करने में मुख्यतः तीन चीजों की जरूरत पड़ती है! पहला front में प्रिंट कार्ड नंबर, कार्ड की अंतिम तिथि और डेबिट कार्ड या क्रेडिट कार्ड कार्ड के पिछले तरफ CVV code. यह तीन चीजों से ही ट्रांजक्शन पूरा होता है! 

सीवीवी कोड कुछ अलग अलग नामों से भी जाना जाता है जैसे Visa card को CVV2 कहा जाता है Master card को CVC2 के नाम से जाना जाता है! वही USA में इसे CID code के नाम से जाना जाता है!

सीवीवी कोड हमें फ्रॉड से कैसे बचाता है – CVV Code Hame Froud se kaise bachta Hai

यह एक तरह का Online Payment Getaway System का हिस्सा नहीं है! इसमें आपको Debit Card & CVV code की जरूरत नहीं होती है! यहां आप इंटरनेट बैंकिंग का इस्तेमाल कर सकते हैं! इसमें जानकारियां system में save हो जाती है!

अगर कोई फ्राड करने वाला फ्रॉड करने की कोशिश करता है या उसके पास आपका कार्ड नंबर तो है किन्तु बिना CVV number के वह आपके Account को access नहीं कर सकता है! इससे आपके डेबिट कार्ड या क्रेडिट कार्ड Protection Value बढ़ जाता है!

इन्हें भी पढ़ें

सीवीवी कोड में कमी क्या है – CVV Code mai Kami kya Hai

जैसे की मैंने आपको बताया CVV number की सहायता से हमारा डेबिट कार्ड या क्रेडिट कार्ड सुरक्षित तो है ही किन्तु इसमें कमी क्या है इसकी बात करें तो कमी यह है की अगर कभी हमारा कार्ड चोरी हो जाये या फिर कोई Duplicate Debit Card या Credit Card बना लें और उसमें Magnetic stripes भी प्रिंट हो जाए तो तब कोई भी Third person हमारा cvv code एक्सेस कर सकता है!

Conclusion [ निष्कर्ष ]

आज के इस पोस्ट में हमने जाना CVV code क्या होता है CVV Code kya hai in Hindi  हमारे डेबिट कार्ड या क्रेडिट कार्ड में यह कहाँ पर होता है! यह कोड कैसे हमारे डेबिट कार्ड व क्रेडिट को सुरक्षित रखता है! मुझे पूर्ण आशा है आपको cvv code क्या होता है समझ आ गया होगा!

आशा करता हूँ CVV Number kya hai इस पोस्ट से आपको बहुत कुछ जानने को मिला होगा! आप इसी तरह हमारा सहयोग कीजिये! CVV Number kya hai इस पोस्ट को शेयर जरूर कीजिये! हमारी हमेशा यही कोशिश रहती है UseHindi Website व हिंदी भाषा के माध्यम से आसान भाषा में तमाम जानकारियां आप तक पहुंचा सकें!

3 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here