क्या आप जानते हैं Satellite क्या होते हैं अंतरिक्ष में इन्हें क्यों भेजा जाता है! अंतरिक्ष में ये कैसे हवा में उड़ते रहते हैं! और बिना मानव के यह अपने आप कार्य कैसे करते हैं!

हमारे दैनिक जीवन में हर कोई काम जैसे आप किसी से फोन पर बात कर रहे हो, आप टीवी देखते हो, आप जीपीएस का इस्तेमाल करते हों या फिर कोई भी Technicial काम इन्हीं Satellite पर निभर होते हैं! 

अक्सर आपने उपग्रह का नाम तो सुना ही होगा इन्हें ही अंग्रेजी में सैटेलाइट कहा जाता है! इससे पिछले पोस्ट में हमने जाना था इसरो क्या है भारत में इसरो क्या कार्य करती है!

आज के इस पोस्ट में हम जानेंगे Satellite kya hai सैटेलाइट का हिंदी अर्थ क्या होता है Satellite meaning in Hindi हमारी जिंदगी में इन Satellites का क्या महत्व है! सैटेलाइट कितने प्रकार के होते हैं Types of Satellite in Hindi और रेडियो जाममिंग क्या है Redio Jamming Kya तो चलिए आगे बढ़ते हैं और जानते हैं 

Satellite kya hai in Hindi
Satellite kya hai in Hindi

सैटेलाइट मीनिंग इन हिंदी – Satellite meaning in Hindi 

Satellite का meaning Hindi में उपग्रह होता है! इन्हें कृत्रिम उपग्रह भी कहा जाता है! 

उपग्रह क्या होते हैं – Satellite kya hai in Hindi

अंतरिक्ष अध्यन के अनुसार Satellite या उपग्रह वस्तु (Object) के समान होते हैं! जिनको मनुष्य द्वारा निर्मित करके अंतरिक्ष कक्षा में रखा जाता है! ये Object अपने से बड़े प्राकृतिक उपग्रह के चक्कर लगाते हैं!

पृथ्वी के चारों ओर चक्कर लगाने वाला चन्द्रमा भी एक Satellite है किन्तु यह एक प्राकृतिक उपग्रह है! इसको इंसान द्वारा कंट्रोल नहीं किया जाता है!

मनुष्य द्वारा बनाये गए ये सैटेलाइट एक टीवी के आकार के होते हैं! लम्बाई चौड़ाई में ये एक ट्रक के बराबर होते हैं! सैटेलाइट का आकार इनके काम पर निर्भर करता है!

इनके दोनों तरफ बड़े आकार के सोलर पैनल लगे होते हैं! इन्हीं से सैटेलाइट को ऊर्जा और बिजली मिलती रहती है! 

सैटेलाइट में बड़े और छोटे आकार के ट्रांसमीटर होते हैं! जो Signal को भेजने और रिसीव करने का कार्य करते हैं! इनमें Cantroal Motar भी लगे होते हैं जिनसे इंसान इन्हें कंट्रोल कर सके!

इनमें कई कैमरे और स्कैनर भी लगे होते हैं! जिनके द्वारा इन्हें कक्षा में स्थापित करने के बाद इनकी फुटेज वैज्ञानिकों को प्राप्त होती है! इन फुटेज से पता चलता है की Satellite ठीक तरह से काम कर रहे हैं या नहीं! 

उपग्रह कितने प्रकार के होते हैं – Types of Satellite in Hindi 

मुख्यतः कई Types के Satellite होते हैं जैसे मौसम की निगरानी के लिए, पर्यावरण की जानकारी के लिए बनाये गए या फिर अंतरिक्ष की विभिन्न प्रकार की जानकारी के लिए बनाये गए Satellite उपग्रह!

Types of Satellite -अब आगे कुछ मुख्य उपग्रह के प्रकार के बारे में हम आगे जान लेते हैं- 

  • खगोलीय उपग्रह (Astronomicial Satellite) – ये वो उपग्रह होते हैं जिनका उपयोग बाहरी अंतरिक्ष पिंडों के लिए किया जाता है! दूर के ग्रहों के प्रेक्षण और आकाशगंगा के लिए भी खगोलीय उपग्रह का इस्तेमाल किया जाता है! 
  • किलर उपग्रह या विरोधी हथियार उपग्रह (Killer Satellite) – किलर उपग्रह वो होते हैं जो दुश्मन ग्रह युद्धों, उपग्रहों और अन्य अंतरिक्ष पूंजियों की खोज करने के लिए निर्मित किया जाते हैं!
  • इन उपग्रहों में कण के रूप में हथियार, ऊर्जा हथियार, तेज गति हथियार का एक विशेष संयोजन उपलब्ध होता है! 
  • जैवीय उपग्रह (Bio Satellite) –  ये उपग्रह मुख्यतः वैज्ञानिकों एक लिए बहुत अहम माने हैं! जैवीय उपग्रह का उपयोग अंतरिक्ष में जैवीय अवयवों को ले जाने में किया जाता है! 
  • नेविगेशनल उपग्रह (Navigational Satellite) – ये वो उपग्रह होते हैं जो रेडियों से संचरित संकेतों का उपयोग करते हैं! जमीन पर मौजूद उपग्रह दृष्टि की साफ़ दिशा, इलेक्ट्रॉनिक में सुधार, उपग्रह नेगिवेशन प्रणालियाँ, और कम दूरी पर वास्तविक सत्यता को मापने की अनुमति नेविगेशनल उपग्रह देता है!
  • छोटे उपग्रह (Miniaturzied Satellite) – ये उपग्रह काम वजन वाले और छोटे आकार के होते हैं! किसी भी उपग्रह को वर्गीकृत करने के लिए इनका उपयोग किया जाता है! 
  • संचार उपग्रह (Communactiouns Satellite) – ये उपग्रह दूर संचार की व्यवस्था के लिए अंतरिक्ष में प्रायोजित किये जाते हैं! आधुनिक संचार उपग्रह पृथ्वी की निचली कक्षाओं का प्रयोग करते हैं! 
  • मौसम उपग्रह (Weather Satellite) – मुख्य रूप से ये उपग्रह पृथ्वी के मौसम और जलवायु की निगरानी के लिए उपयोग में लाये जाते हैं! 
  • पृथ्वी अवलोकन उपग्रह (Earth Observation Satellite) –  ये वो उपग्रह होते हैं जिनका प्रयोग पर्यावरण, मौसम विज्ञानं, नक्शा बनाने में किया जाता है! 

रेडियो जाममिंग क्या है – Redio Jamming Kya Hai

उपग्रह प्रसारण के कम प्राप्त सिग्नल की शक्ति के कारण भूमि पर आधारित ट्रांसमीटरों से रेडियो जाममिंग की समस्या रहती है। इस तरह की जाममिंग समस्या ट्रांसमीटर की सीमा के भीतर भौगोलिक क्षेत्र में होती है! 

जीपीएस उपग्रह जाममिंग के लिए संभावित लक्ष्य हैं! लेकिन उपग्रह फोन और टेलीविजन के संकेतों को भी जाममिंग के लिए नियोजित कर दिया गया है!

कुछ प्रसिद्ध भारतीय उपग्रह – Indian Satellites in Hindi

आज के समय में अंतरिक्ष अभियान में इसरो अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है! भारत में इसरो द्वारा प्रक्षेपित Indian Satellites (भारतीय उपग्रह) –

उपग्रह             प्रक्षेपण यान   प्रक्षेपण तिथि 
आर्यभट्ट           इंटरकॉसमॉस 11अप्रैल 1974 
भास्कर -1        इंटरकॉसमॉस        7 जून 1979 
रोहिणी पैलोडSLV (Satellite Launch Vichle) 10 अगस्त 1979 
रोहिणी आर एस- 1SLV – 3   18 जुलाई 1981 
भास्कर -2इंटरकॉसमॉस 20 नवंबर 1981 
चंद्रयान – 1PSLV – C1122 अक्टूबर 2008 
चंद्रयान – 2   PSLV                     2019 में 
Indian Satellites in Hindi

उपग्रह प्रक्षेपित सक्षम देश – Satellite Launched Country in World

दुनिया में लगभग सारे देश कृत्रिम उपग्रहों का डिजाइन और निर्माण तो करते हैं! किन्तु उन्हें अंतरिक्ष में प्रक्षेपित करने में असमर्थ होते हैं! उन्हें विदेशी क्षमताओ पर निर्भर रहना पड़ता है!

यहां पर कुछ देशों के नाम दिए गए हैं जो उपग्रहों को प्रक्षेपित करने में समर्थ हैं! दक्षिण कोरिया, ईरान, पाकिस्तान, रोमानिया, कजाकस्तान और तुर्की सहित कई अन्य देश, अपने छोटे पैमाने पर लांचर क्षमताओं के विकास के विभिन्न चरणों में हैं!

देश                      प्रक्षेपण वर्ष   पहला उपग्रह
सोवियत संघ        1957   स्पूतनिक 1 
सयुक्त राज्य अमेरिका  1958     एक्स्प्लोरर – 1 
फ़्रांस                    1965     एसेटिरिक्स 
जापान                1970       ओसुमी 
चीन                    1970     डाँग फेंग हांग 
यूनाइटेड किंगडम   1971                 प्रोस्पेरो 
भारत                  1980                   रोहिणी 
इजराइल             1988                     ओफेक – 1 
Satellite Launched Country in World

क्या उपग्रहों पर भी आतंकी हमले होते हैं?

कुछ आतंकवादी संघठनों द्वारा किसी देश की संचार व्यवस्था को ठप करने और नुकसान पहुँचाने के लिए उपग्रहों पर ही हमले किये जाते हैं! उपग्रहों को तोड़ दिया जाता है!

जिससे आंतरिक नुकसान पहुंचे और पृथ्वी पर लोग एक दूसरे से जुड़ने से वंचित रह जाएं! 

कई बार पृथ्वी की निचली कक्षाओं में उपस्थित उपग्रहों को Destroy कर दिया जाता है! अमेरिकी नौसेना ने 2008 में एक मृत जासूस उपग्रह पर हमला करके उसे नष्ट कर दिया था!

इससे पहले 2007 में चीन ने भी एक मौसम उपग्रह पर हमला किया था!  

इन्हें भी पढ़ें 

निष्कर्ष – Conclusion

आज के इस पोस्ट में हमने जाना Satellite क्या होते हैं Satellite kya hai सैटेलाइट का हिंदी में क्या अर्थ होता है Satellite meaning in Hindi सैटेलाइट कितने प्रकार के होते हैं Types of Satellite in Hindi. 

मानव जीवन में ये किस काम में आते हैं! साथ में हमने जाना रेडियो जाममिंग क्या है Redio Jamming Kya Hai और सबसे पहले किन देशों ने अंतरिक्ष में उपग्रह प्रक्षेपण किये! 

हमें उम्मीद है आपको आज के Satellite Kya Hai पोस्ट से बहुत कुछ जानने को मिला होगा! आप हमारे इस हिंदी ब्लॉग को Subscribe करें और अन्य Social Side में share भी अवश्य करें!

हमें आशा है आपका सहयोग हमें इसी तरह भविष्य में भी मिलता रहे! 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here