क्या आपको मालूम है की प्रॉक्सी सर्वर क्या है (Proxy Server in Hindi) और यह कैसे काम करता है? प्रॉक्सी सर्वर कम्पनी की वेबसाइट और इंटरनेट के बिच में एक द्वार मतलब गेटवे की तरह लगाया जाता है ताकि इंटरनेट से आने वाला यूजर सीधे कंपनी की वेबसाइट में न जाकर प्रॉक्सी सर्वर में जाये! फिर यह प्रॉक्सी सर्वर यूजर की Request को Website को भेजता है! आज के इस हिंदी लेख में हम Proxy Server Kya Hai, यह क्यों इस्तेमाल किया जाता है (Why Proxy Server is Used), यह कितने प्रकार का होता है? और इसके फायदे के बारे में विस्तार से जानने वाले है!

आमतौर पर कम्पनी के पास उसके ग्राहकों की जरुरी जानकारी मौजूद रहती है! इसलिए ग्राहकों की महत्वपूर्ण जानकारी को सुरक्षित रखना कंपनी का दायित्व होता है! ऐसे में प्रॉक्सी सर्वर किसी भी कंपनी की सिक्योरिटी के लिए बहुत जरुरी होता है

दरअसल प्रॉक्सी सर्वर कंपनी की गोपनीयता के लिए और सुरक्षा में एक अलग स्तर प्रदान करता है!

प्रॉक्सी सर्वर क्या है – What is Proxy Server in Hindi

जैसे की Proxy Server मुखतः दो शब्दो से मिलकर बना है Proxy और Server! Proxy का अर्थ होता है किसी दूसरे की तरफ से कार्य करना या आप कह सकते है की किसी दूसरे को प्रस्तुत करना! और सर्वर तो आप जानते है यह एक कंप्यूटर डिवाइस होता है।

सामान्यतह Proxy को हम इस प्रकार भी समझ सकते है की यह indirectly सेवा प्रदान करने के लिए यूज़ होता हैं!

यदि किसी कंपनी के नेटवर्क में Proxy Server इस्तेमाल किया जा जाता है! उस कंपनी के Employees द्वारा जब कभी भी Internet में किसी जानकरी के लिए request की जाती है तो सबसे पहले Request प्रॉक्सी सर्वर के पास जाती है और फिर प्रॉक्सी सर्वर उस Web-request को एम्प्लॉय की तरफ से इंटरनेट को फॉरवर्ड कर देता हैं। और उसके बाद इंटरनेट से Traffic प्रॉक्सी सर्वर से होकर employ के पास आता है।

इस तरह से प्रॉक्सी सर्वर User और Internet के बिच में एक Gateway या Intermediate की तरह काम करता है!

प्रॉक्सी सर्वर क्यों इस्तेमाल किया जाता है – Why Proxy Server is Used in Hindi

Proxy Server को अलग-अलग Function के लिए Use किया जा सकता है. जैसे की Security के लिए या Privacy के लिए!

  1. Online Security (ऑनलाइन सुरक्षा के लिये)
  2. User Identity Protection (उपयोगकर्ता की पहचान को गुप्त रखने के लिये)
  3. Cyber ​​Security (साइबर सुरक्षा के लिये)
  4. Cache Server (प्रॉक्सी सर्वर एक कैशे सर्वर के रूप में)
  5. To Control Uses of the Internet (इंटरनेट के उपयोग को नियंत्रित करने के लिए)

1. Online Security (ऑनलाइन सुरक्षा)

आज वर्तमान के समय में सभी Companies का या बड़े-बड़े Business का सारा काम online होता है! चाहे वो पैसे से जुड़ा हो या Important Files का काम हो! हालाँकि आज हर कोई Company online Security को लेकर बहुत परेशान है! इसी कारण से वह अपना बहुत जयादा पैसा Online Security के लिए खर्च कर देते है।

इसलिए अगर Company के नेटवर्क में Proxy Server Use किया जाता है, तो सारे online होने वाली Web-Request प्रॉक्सी सर्वर से होकर Internet में जाती है! Proxy Server Company और Outside Internet के बिच में एक Security लेयर की तरह काम करता है.

2. User Identity Protection (उपयोगकर्ता की पहचान को गुप्त रखने के लिये)

अक्सर पुलिस और संवाददाताओं (रिपोर्ट्स) को कभी-कभी अपने काम में अपनी पहचान को छपाना पड़ता है! मतलब की उन्हें Identity Protection का बहुत ख्याल रखना होता है! ऐसे में Proxy Server की मदद से उनकी Identity को आसानी से प्रोटेक्ट किया जा सकता है!

3. Cyber ​​Security (साइबर सुरक्षा के लिये)

यदि कोई जासूस (Spy) या हैकर आपकी रिसर्च पर या आपके Company के काम पर चुपके – चुपके से नजर रखने की कोशिश कर रहा है! तो प्रॉक्सी सर्वर की मदद से आप उसे कामयाब होने से रोक सकते है! Proxy Server आपके मशीन के IP Address को छुपा देता है जिससे आपकी पहचान गुप्त रहती हैं! और जो भी सुचना (Information) आपकी Internet पर मिलती है वह असल में Proxy Server की होती हैं! और इस तरह हैकर्स आपके Actual Request of Source तक नहीं पहुँच पाते है!

4. Cache Server (प्रॉक्सी सर्वर एक कैशे सर्वर के रूप में)

प्रॉक्सी सर्वर Caching के लिए इस्तेमाल भी किया जाता है! मतलब की, यदि यूजर किसी जानकारी को access करता है तो प्रॉक्सी सर्वर उस सुचना को वेबसाइट से यूजर तक पहुंचाता हैं! और साथ ही साथ अपने पास भी कुछ निर्थारित समय के लिए सुरक्षित कर लेता है!

यदि यूजर दोबारा उसी जानकारी के लिये Request करता है तो प्रॉक्सी सर्वर एक्चुअल वेबसाइट से जानकारी लेने की बजाय अपने पास पहले से सुरक्षित जानकारी (Cached Information) को बहुत ही कम समय में यूजर को प्रदान कर देता है! इस वजह से यूजर को बहुत जल्दी आवश्यक जानकारी मिल जाती है और प्रॉक्सी सर्वर काफी समय बचता है!

5. To Control Uses of the Internet (इंटरनेट के उपयोग को नियंत्रित करने के लिए)

अक्सर सभी Companies अपने नेटवकर में Proxy Server का इस्तेमाल करती है! जिसकी सहायता से प्रत्येक employ को कंपनी नेटवकर में unsecured websites को access करने से रोका जाता है! प्रॉक्सी सर्वर वेबसाइट को ब्लॉक कर देता हैं यदि कंपनी किसी website का प्रयोग अपने नेटवर्क में नहीं करना चाहती तो वह इसे प्रॉक्सी सर्वर पर ही ब्लॉक कर दिया जाता हैं!

साथ ही सभी Companies अपने – अपने आवश्यकता अनुसार प्रॉक्सी सर्वर पर Policy बनती है! जो यह निर्धारित करता है की किस तरह की Websites कंपनी नेटवर्क में खुलनी चाहिए और किस तरह की नहीं!

निष्कर्ष [Conclusion ]

आज के इस हिंदी आर्टिकल से हमने Proxy Server Kya Hai, यह क्यों इस्तेमाल किया जाता है (Why Proxy Server is Used), यह कितने प्रकार का होता है? और इसके फायदे के बारे में जानकारी प्राप्त की!

उम्मीद है आपको प्रॉक्सी सर्वर क्या है? (Proxy Server in Hindi) आर्टिकल से Proxy Server के बारे में बहुत कुछ जानने को मिला होगा! अगर आपके पास इस पोस्ट से संबधित किसी प्रकार का कोई प्रश्न या सुझाव हो तो हमें कमेंट सेक्शन में कमेंट करके जरूर बताये! और पोस्ट को सोशल मिडिया (WhatsApp, Facebook, Instagram, twitter Etc.) पर जरूर शेयर कीजिये!

इस पोस्ट को पूरा पढ़ने हेतु आपका बहुत बहुत धन्यवाद!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here