क्या आप Linux Operating System को इस्तेमाल करना चाहते हैं! अर्थात Linux में Beginners हैं यदि हा तो आज इस ब्लॉग के माध्यम से में आपको Hindi में Linux के 25+ Basic Commands और ये क्यों इस्तेमाल किये जाते हैं के बारे में बताने वाला हूँ!

जब भी Linux की बात होती है तो ज्यादार लोग जो Beginners हैं, सोचते हैं की लिनक्स एक बहुत ही जटिल Complicated Operating System हैं! लेकिन सच बताऊ यह बहुत आसान और मजेदार Operating System हैं थोड़ी शुरुआत में सिखने की जरुरत हैं!

जैसा की हमने इससे पिछले ब्लॉग लिनक्स क्या हैं? Linux kya hai? में जाना की लिनक्स एक बिलकुल फ्री ओपन-सोर्स और मल्टी यूजर ऑपरेटिंग सिस्टम हैं! जिसे Linus Torwald ने Unix क्लोन से विकसित किया था!

आपको बता दू Linux Operating system लिनक्स कर्नेल पर आधारित होता हैं! अभी वर्तमान समय में आपको बहुत सारे लिनक्स ऑपरेटिंग सिस्टम मिल जायेंगे जिसमे – Redhat, Centos, Ubuntu, Fedora, Mint, Debian और Kali आदि प्रमुख हैं इन सभी को लिनक्स distributions भी कहा जाता हैं!

बिना किसी देरी के आगे बढ़ते है और जानते हैं Hindi में Beginners के लिए Linux Basic Commands.

Linux basic commands in Hindi
Linux Basic Commands for Beginners in Hindi

Beginners के लिए Hindi में Linux Basic Commands.

ये सारे ऑपरेटिंग सिस्टम जो Linux Kernel से बनाये गये हैं या भविष्य में Linux Kernel को मॉडिफाई करके बनाये जायेंगे सब Linux Kernel Based Operating Systems होते हैं क्योकि Linux Kernel बिलकुल फ्री और Opensource होता हैं जिसको Internet से कोई भी डाउनलोड कर सकता हैं Download करने के बाद उसे वह Free Opensource Foundation जिसे GNU के नाम से जाना जाता हैं के नियमो के आधार पर मॉडिफाई कर सकता है! और अपना नया Linux based Operating system बना सकता हैं!

Linux Basic Commands in Hindi For Beginners

S. NoLinux Basic Commands for Beginners
1PWD (Present Working Directory)
2cd (Change Directory)
3ls (List)
4cp (Copy)
5mv (Move)
6cat (concatenate)
7locate
8clear
9reset
10who
11cal (Callender)
12find
13touch
14mkdir (Make Directory)
15rmdir (Remove Directory)
16grep (Global regular expression print)
17du (Disk Uses)
18head
19tail
20kill
21last
22top
23free
24netstat (network statistics)
25uptime
Hindi में Linux Basic Commands

Hindi में Beginners के लिए Linux Basic Commands

यदि आप इस ब्लॉग के माध्यम से निचे दिए गए Beginners के लिए Hindi में 25+ Linux Basic Commands को जान लेते हैं तो आप बड़ी आसानी से Linux Operating System को इस्तेमाल कर सकते हैं!

1. pwd Command

इस कमांड का Full Form Present Working Directory होता हैं यह कमांड आपके Present Working Directory अर्थात जहा पर आप अभी काम कर रहे हैं का Path मतलब Location बताती हैं! उदाहरण के लिए यदि आप Linux OS में काम करते करते बीच में यह जानना चाहते हैं की आप किस Directory के अंदर हो तो आपको pdw Command इस्तेमाल करना होता हैं!

उदाहरण:

[[email protected] ~]# pwd
/root

2. cd Command

इस Command का Full Form Change Directory होता है इस कमांड का उपयोग आप किसी दूसरी Directory में जाने अर्थात अपनी Directory बदलने के लिए कर सकते हैं! यह Command DOS के cd कमांड के समान हैं!

यदि आपको अपनी Directory Change करनी हैं तो आपको cd उसके बाद उस डायरेक्टरी को लिखना हैं जिसमे आप जाना चाहते हो! उदाहरण के लिए निचे कोड देखे!

उदाहरण:

[[email protected] ~]# cd /home
[[email protected] home]#

3. ls Command

यह Basic Command Linux में एक Beginners को सबसे पहले बताया जाता हैं ls कमांड का Full form ‘list’ अर्थात Hindi में सूची हैं! इस Command का उपयोग Linux Server में Files और Directories को लिस्ट करने के लिए किया जाता हैं!

उदारहण के लिए यदि आप /root डायरेक्टरी में हैं और ls कमांड चलाते हैं तो आपको /root डायरेक्टरी के सभी फाइल्स की लिस्ट मिल जाती हैं!

उदाहरण:

[[email protected] ~]# ls
anaconda-ks.cfg  Desktop  Documents  Downloads  Music  Pictures  Public  Templates  Videos

4. cp Command

इस Command का उपयोग Linux मशीन में Files को Current Directory से किसी अलग Directory में कॉपी करने के लिए किया जाता हैं!

5. mv Command

इस कमांड का प्रयोग Linux based Operating System में Files को करंट डायरेक्टरी से किसी अलग डायरेक्टरी में Move करने के लिए किया जाता हैं आप इस Command की मदद से किसी फाइल या डायरेक्टरी का नाम भी rename कर सकते हैं!

Command syntax:

mv [ File ] [ Destination ]… 

उदाहरण:

[[email protected] ~]# mv hindi /tmp

6. cat Command

यह कमांड “concatenate” का शार्ट फॉर्म हैं! cat कमांड का प्रयोग Linux OS में नयी File को Create करने, किसी फाइल के Content को देखने, या उस Output को किसी फाइल में redirect करने के लिए किया जाता हैं!

Command syntax:

cat [ Option ] [ Files ]… 

उदाहरण:

[[email protected] ~]# cat hindi
 Hay Guy's,
 Your Welcome.
 this is just for testing of cat command.
 Thanks
[[email protected] ~]#

7. locate Command

इस कमांड की मदद से आप लिनक्स में किसी फाइल या डायरेक्टरी को सर्च कर सकते हैं यह विंडोज ऑपरेटिंग सिस्टम के सर्च कमांड के समान हैं 

Command syntax:

locate [ Option ] [ Files ]… 

अपने जरुरत के अनुसार कमांड के साथ आप निम्न Option इस्तेमाल कर सकते हैं!

  • -c (Count) यह Option लगाने पर आपको सर्च की जाने वाली फाइल्स की संख्या ज्ञात हो जाती हैं!
  • -i (case-insensitive) यदि आप उस फाइल का पूरा नाम नहीं जानते है तो आप -i Option का प्रयोग कर सकते हैं!

उदाहरण:

[[email protected] ~]# locate kiosk
/home/kiosk
/home/kiosk/.bash_logout
/home/kiosk/.bash_profile
/home/kiosk/.bashrc
/var/spool/mail/kiosk

8. clear Command

यह कमांड अपने Linux Terminal को साफ अर्थात Clean करने के लिए प्रयोग किया जाता हैं आपको केवल clear कमांड चलनी हैं और आपका Terminal बिलकुल साफ हो जाता हैं!

9. reset Command

यह कमांड भी clear की तरह अपने Linux Terminal को साफ अथवा क्लीन करने के लिए प्रयोग किया जाता हैं reset command चलाने से आपका Terminal बिलकुल साफ हो जायेगा!

10. who Command

जैसा की आप जानते हैं Linux एक मल्टी – यूजर Operating System हैं! अर्थात एक Computer में एक समय पर बहुत सारे User काम कर सकते हैं! इसलिए who Command का प्रयोग करके आप जान सकते हैं की वर्तमान में कौन – कौन से User Computer में काम कर रहे हैं!

[[email protected] ~]# who
root     :0           2020-06-03 16:50 (:0)
root     pts/2        2020-06-14 14:48 (192.168.81.1)
UseHindi pts/3        2020-06-14 17:53 (192.168.81.4)
ganesh   pts/0        2020-06-14 17:56 (192.168.81.1)

11. cal Command

इस Command की Help से आप अभी वर्तमान में चल रहे Month का कलेंडर प्राप्त कर सकते हैं

और यदि आपको पिछले Month और आने वाले Month का Calendar भी साथ में चाहिए तो cal command के साथ -3 Option यूज़ कीजिये!

उदाहरण:

[[email protected] ~]# cal
      June 2020
Su Mo Tu We Th Fr Sa
    1  2  3  4  5  6
 7  8  9 10 11 12 13
14 15 16 17 18 19 20
21 22 23 24 25 26 27
28 29 30
[[email protected] ~]# cal -3
      May 2020              June 2020             July 2020
Su Mo Tu We Th Fr Sa  Su Mo Tu We Th Fr Sa  Su Mo Tu We Th Fr Sa
                1  2      1  2  3  4  5  6            1  2  3  4
 3  4  5  6  7  8  9   7  8  9 10 11 12 13   5  6  7  8  9 10 11
10 11 12 13 14 15 16  14 15 16 17 18 19 20  12 13 14 15 16 17 18
17 18 19 20 21 22 23  21 22 23 24 25 26 27  19 20 21 22 23 24 25
24 25 26 27 28 29 30  28 29 30              26 27 28 29 30 31
31

12. find Command

यह Linux में प्रत्येक Beginners के लिए बहुत आवश्यक Command हैं इस Hindi पोस्ट Linux basic commands में find कमांड को जानना बहुत जरुरी हैं! इस Command की हेल्प से आप किसी भी Directory, File या  बहुत सारे Files को एक ही बार में ढूढ़ सकते हैं!

इसके साथ साथ अगर आप उन सबको इकट्ठा डिलीट करना चाहते हैं या उन सबकी Permission चेंज करना चाहते है या और बहुत कुछ, तो वो भी बहुत आसानी से कर सकते हैं!

Command syntax:

find [ location ] [ Comparison ] [Search Item]…

उदाहरण:

अगर आप किसी Directory को उसके नाम से सर्च करना चाहते हैं!

[[email protected] ~]# find / -type d -name usehindi
/root/usehindi

यदि आप किसी File को उसके नाम से सर्च करना चाहते हैं!

[[email protected]usehindi ~]# find / -type f -name hindi
/tmp/hindi

अगर आप सभी फाइल्स जिनका एक्सटेंशन .log हो को सर्च करना चाहते हैं

[[email protected] ~]# find / -type f -name "*.log"
/var/log/tuned/tuned.log
/var/log/audit/audit.log
/var/log/anaconda/anaconda.log
/var/log/anaconda/X.log
/var/log/anaconda/program.log
/var/log/anaconda/packaging.log
/var/log/anaconda/storage.log
/var/log/anaconda/ifcfg.log

इसे भी पढ़े: Linux क्या हैं? और Linux का इतिहास – What is Linux?

इसे भी पढ़े: Unix क्या हैं? और Unix का इतिहास – What is Unix?

13. touch Command

टच कमांड का प्रयोग करके आप नयी फाइल create कर सकते हैं और साथ ही पहले से मौजूद Files का timestamps चेंज भी कर सकते हैं!

Command syntax:

touch [ Option] [ file-name]…

  • -a  केवल access टाइम को बदलने के लिए
  • -d  access टाइम और modification टाइम को अपडेट करने के लिए
  • -c अगर फाइल पहले से मौजूद हैं तो नयी फाइल क्रिएट ना हो 
  • -m केवल modification टाइम को बदलने के लिए

उदाहरण:

अगर आप टच कमांड से नयी फाइल बनाना चाहते हैं!

[[email protected] ~]# touch india.txt

14. mkdir Command

इस Command का प्रयोग Linux Operating System Computer में नयी Directory को बनाने के लिए किया जाता हैं!

Command syntax:

mkdir [Option] [directory-name]…

उदाहरण:

[[email protected] ~]# mkdir Bharat

15. rmdir Command

Linux में एक Beginners के लिए यह Command बहुत रिस्की भी हो सकता हैं इस कमांड का प्रयोग लिनक्स ऑपरेटिंग सिस्टम में किसी भी डायरेक्टरी को डिलीट करने के लिए किया जाता हैं!

Command syntax:

mkdir [Option] [directory-name]…

उदाहरण:

[[email protected] ~]# rmdir Bharat

16. grep Command

यह Linux admin द्वारा इस्तेमाल की जाने वाली Linux basic commands in Hindi में सबसे ज्यादा Commands में एक हैं! यह एक पॉवरफुल Command है जो किसी फाइल में से हर उस लाइन को दिखता हैं जिसमे search किया जाने वाला Particular पैटर्न मौजूद होता हैं

इस कमांड का प्रयोग किसी फाइल के अंदर से किसी विशेष पैटर्न को सर्च करने के लिए किया जाता हैं! grep कमांड का इस्तेमाल लिनक्स ऑपरेटिंग सिस्टम में log फाइल्स में से मह्त्वपूर्ण पैटर्न जैसे – error, bug, access और failed आदि को सर्च करने के लिए किया जाता हैं!

grep कमांड का यूज़ करके आप यह पता कर सकते हो की कोई unique पैटर्न किसी file में कितनी बार हैं और कौन कौन से लाइन में हैं! इसके अलावा भी आप grep कमांड से कर सकते हैं!

Command syntax:

grep [Option] [विशेष पैटर्न] [file-name-with-path]…

उदाहरण:

[[email protected] ~]# grep kiosk /etc/passwd
kiosk:x:1000:1000:kiosk:/home/kiosk:/bin/bash

अपने जरुरत के अनुसार कमांड के साथ आप निम्न Option इस्तेमाल कर सकते हैं!

  • -i (–case-insensitive) यदि आप उस unique पैटर्न का पूरा नाम नहीं जानते है तो आप -i Option का प्रयोग कर सकते हैं!
[[email protected] ~]# grep -i useHindi /etc/passwd
UseHindi:x:1002:1002::/home/UseHindi:/bin/bash
  • -n (–line-number) यदि आप जानना चाहते है की फाइल में विशेष पैटर्न किस – किस लाइन में मौजूद हैं तो आप -n Option का प्रयोग कर सकते हैं!
[[email protected] ~]# grep -n bash /etc/passwd
1:root:x:0:0:root:/root:/bin/bash
19:kiosk:x:1000:1000:kiosk:/home/kiosk:/bin/bash
46:nginx:x:1001:1001::/home/nginx:/bin/bash
47:UseHindi:x:1002:1002::/home/UseHindi:/bin/bash
48:rohit:x:1003:1003::/home/rohit:/bin/bash
49:ganesh:x:1004:1004::/home/ganesh:/bin/bash

17. du Command

यह कमांड का फुल फॉर्म Disk Usage होता हैं! अर्थात du कमांड का प्रयोग आप किसी डायरेक्टरी का साइज ज्ञात करने के लिए कर सकते हैं! इसे भी लिनक्स एडमिन रोज के कार्यो में इस्तेमाल करते हैं उदहारण के लिए अगर किसी डायरेक्टरी का साइज फुल होने से बचाना हो और किसी यूजर की होम डायरेक्टरी में कितना डाटा हैं का पता करना हो आदि!

इस कमांड से बेहतर आउटपुट प्राप्त करने के लिए आपको इसके साथ option use करने होते हैं

Command syntax:

du [Option] [Directory-name-with-path]…

अपने जरुरत के अनुसार कमांड के साथ आप निम्न Option इस्तेमाल कर सकते हैं!

-h (–human-readable) -h Option का प्रयोग करके आपको आउटपुट ह्यूमन readable फॉर्म में दिखाई देता हैं जैसे यदि साइज mb में होगा तो M और यदि gb में होगा तो G!

-s (–summarize) -s Option आपको total डायरेक्टरी का साइज दिखता हैं!

उदाहरण:

[[email protected] ~]# du -sh /var
1.4G    /var

18. head Command

head Command का प्रयोग हम किसी file के सबसे पहले के 10 लाइन को देखने के लिए करते हैं! साथ ही यदि आप हेड कमांड के साथ Number of Line शामिल करते हैं तो यह आपको उतने Lines of Number दिखा देता हैं!

उदाहरण:

[[email protected] ~]# head /etc/passwd
root:x:0:0:root:/root:/bin/bash
bin:x:1:1:bin:/bin:/sbin/nologin
daemon:x:2:2:daemon:/sbin:/sbin/nologin
adm:x:3:4:adm:/var/adm:/sbin/nologin
lp:x:4:7:lp:/var/spool/lpd:/sbin/nologin
sync:x:5:0:sync:/sbin:/bin/sync
shutdown:x:6:0:shutdown:/sbin:/sbin/shutdown
halt:x:7:0:halt:/sbin:/sbin/halt
mail:x:8:12:mail:/var/spool/mail:/sbin/nologin
operator:x:11:0:operator:/root:/sbin/nologin

यदि आप किसी फाइल के पहले 20 लाइन्स देखना चाहते हैं!

[[email protected] ~]# head -20 /etc/passwd
root:x:0:0:root:/root:/bin/bash
bin:x:1:1:bin:/bin:/sbin/nologin
daemon:x:2:2:daemon:/sbin:/sbin/nologin
adm:x:3:4:adm:/var/adm:/sbin/nologin
lp:x:4:7:lp:/var/spool/lpd:/sbin/nologin
sync:x:5:0:sync:/sbin:/bin/sync
shutdown:x:6:0:shutdown:/sbin:/sbin/shutdown
halt:x:7:0:halt:/sbin:/sbin/halt
mail:x:8:12:mail:/var/spool/mail:/sbin/nologin
operator:x:11:0:operator:/root:/sbin/nologin
games:x:12:100:games:/usr/games:/sbin/nologin
ftp:x:14:50:FTP User:/var/ftp:/sbin/nologin
nobody:x:99:99:Nobody:/:/sbin/nologin
systemd-network:x:192:192:systemd Network Management:/:/sbin/nologin
dbus:x:81:81:System message bus:/:/sbin/nologin
polkitd:x:999:998:User for polkitd:/:/sbin/nologin
sshd:x:74:74:Privilege-separated SSH:/var/empty/sshd:/sbin/nologin
postfix:x:89:89::/var/spool/postfix:/sbin/nologin
kiosk:x:1000:1000:kiosk:/home/kiosk:/bin/bash
rpc:x:32:32:Rpcbind Daemon:/var/lib/rpcbind:/sbin/nologin

19. tail Command

tail Command का प्रयोग हम किसी फाइल के सबसे अंतिम के 10 लाइन को देखने के लिए करते हैं! साथ ही अगर आप tail Command के साथ Number of Line add करते हैं तो यह आपको फाइल की अंतिम उतने Lines of Number दिखा देता हैं!

उदाहरण:

[[email protected] ~]# tail /etc/passwd
nfsnobody:x:65534:65534:Anonymous NFS User:/var/lib/nfs:/sbin/nologin
gdm:x:42:42::/var/lib/gdm:/sbin/nologin
gnome-initial-setup:x:988:982::/run/gnome-initial-setup/:/sbin/nologin
tcpdump:x:72:72::/:/sbin/nologin
avahi:x:70:70:Avahi mDNS/DNS-SD Stack:/var/run/avahi-daemon:/sbin/nologin
apache:x:48:48:Apache:/usr/share/httpd:/sbin/nologin
nginx:x:1001:1001::/home/nginx:/bin/bash
UseHindi:x:1002:1002::/home/UseHindi:/bin/bash
rohit:x:1003:1003::/home/rohit:/bin/bash
ganesh:x:1004:1004::/home/ganesh:/bin/bash

यदि आप किसी फाइल के अंतिम 20 लाइन्स देखना चाहते हैं!

[[email protected] ~]# tail -20 /etc/passwd
usbmuxd:x:113:113:usbmuxd user:/:/sbin/nologin
rtkit:x:172:172:RealtimeKit:/proc:/sbin/nologin
saned:x:993:989:SANE scanner daemon user:/usr/share/sane:/sbin/nologin
colord:x:992:988:User for colord:/var/lib/colord:/sbin/nologin
abrt:x:173:173::/etc/abrt:/sbin/nologin
geoclue:x:991:987:User for geoclue:/var/lib/geoclue:/sbin/nologin
pulse:x:171:171:PulseAudio System Daemon:/var/run/pulse:/sbin/nologin
setroubleshoot:x:990:984::/var/lib/setroubleshoot:/sbin/nologin
sssd:x:989:983:User for sssd:/:/sbin/nologin
rpcuser:x:29:29:RPC Service User:/var/lib/nfs:/sbin/nologin
nfsnobody:x:65534:65534:Anonymous NFS User:/var/lib/nfs:/sbin/nologin
gdm:x:42:42::/var/lib/gdm:/sbin/nologin
gnome-initial-setup:x:988:982::/run/gnome-initial-setup/:/sbin/nologin
tcpdump:x:72:72::/:/sbin/nologin
avahi:x:70:70:Avahi mDNS/DNS-SD Stack:/var/run/avahi-daemon:/sbin/nologin
apache:x:48:48:Apache:/usr/share/httpd:/sbin/nologin
nginx:x:1001:1001::/home/nginx:/bin/bash
UseHindi:x:1002:1002::/home/UseHindi:/bin/bash
rohit:x:1003:1003::/home/rohit:/bin/bash
ganesh:x:1004:1004::/home/ganesh:/bin/bash

20. kill Command

यह Linux basic commands in Hindi में बहुत ही ज्यादा पॉवरफुल Command हैं! आपको बता दू Linux Operating System में चलने वाली सभी process की अपने एक यूनिक process ID होता हैं! किल Command के साथ इस प्रोसेस id को लिखने से वह प्रोसेस kill अर्थात ख़त्म हो जाता हैं मतलब सर्विस बंद हो जाती हैं!

उदाहरण:

[[email protected] ~]# kill 46600

killall Command के साथ आप सर्विस का नाम लिखकर भी सर्विस को कील अथवा ख़त्म कर सकते हैं !

[[email protected] ~]# killall vsftpd

21. last Command

इस Command का उपयोग Linux Operating System में वर्तमान समय में Login users और इससे पहले Logout होने वाले सभी Users की पूरी List को देखने के लिए किया जाता हैं अर्थात last Command अभी तक Login और Logout सारे Users का रिकॉर्ड दिखाता हैं!

साथ ही साथ last Command यह भी बताता हैं की आपका सर्वर कब – कब Reboot हुआ हैं!

last Command का output /var/log/wtmp फाइल के Create होने से आता हैं!

उदाहरण:

[[email protected] ~]# last
root     pts/3        192.168.81.1     Wed Jun 17 11:54   still logged in
root     :0           :0               Wed Jun 17 09:24   still logged in
reboot   system boot  3.10.0-1062.el7. Wed Jun 17 09:18 - 11:54  (02:35)
root     pts/0        192.168.81.1     Mon Jun 15 01:17 - down   (01:36)
ganesh   pts/0        192.168.81.1     Sun Jun 14 17:56 - 00:04  (06:07)
rohit    pts/4        192.168.81.1     Sun Jun 14 17:55 - 17:56  (00:01)
UseHindi pts/3        192.168.81.1     Sun Jun 14 17:53 - 00:01  (06:07)
root     pts/2        192.168.81.1     Sun Jun 14 14:48 - 23:57  (09:08)
root     pts/1        :0               Wed Jun  3 16:52 - 17:55 (11+01:03)
root     :0           :0               Wed Jun  3 16:50 - down  (11+10:02)
reboot   system boot  3.10.0-1062.el7. Wed Jun  3 16:50 - 02:53 (11+10:03)
reboot   system boot  3.10.0-1062.el7. Tue Jun  2 19:33 - 02:53 (12+07:20)
reboot   system boot  3.10.0-1062.el7. Mon Jun  1 16:36 - 02:53 (13+10:16)
reboot   system boot  3.10.0-1062.el7. Thu May 28 18:44 - 02:53 (17+08:08

22. top Command

यह Linux Engineers द्वारा इस्तेमाल की जाने वाली Hindi में Beginners के लिए Linux Basic Commands में सबसे ज्यादा Useful और Powerful Command हैं! Top command से आपको Linux Machine के बारे में बहुत ज्यादा जानकारी प्राप्त हो जाती हैं!

इस कमांड की मदद से आप लिनक्स सर्वर का Load Average, कौन – कौन से Processes चल रही हैं, सर्वर में कितने User Login हैं और कौन से Processes सबसे ज्यादा CPU और RAM Use कर रही हैं इत्यादि बड़ी आसानी से ज्ञात कर सकते हैं!

Top Command लिनक्स Engineers द्वारा Troubleshooting के दौरान प्रयोग की जाने वाली सबसे पसंदीदा कमांड हैं!

उदाहरण:

[[email protected] ~]# top
top - 12:26:54 up  2:29,  5 users,  load average: 0.00, 0.01, 0.05
Tasks: 292 total,   1 running, 291 sleeping,   0 stopped,   0 zombie
%Cpu(s):  0.0 us,  0.2 sy,  0.0 ni, 99.8 id,  0.0 wa,  0.0 hi,  0.0 si,  0.0 st
KiB Mem :  1761728 total,   217864 free,   911940 used,   631924 buff/cache
KiB Swap:  2097148 total,  2097148 free,        0 used.   670588 avail Mem

   PID USER      PR  NI    VIRT    RES    SHR S  %CPU %MEM     TIME+ COMMAND
   531 root       0 -20       0      0      0 S   0.3  0.0   0:00.06 kworker/0:1H
   866 root      20   0  324492   6768   5272 S   0.3  0.4   0:15.40 vmtoolsd
  5322 root      20   0       0      0      0 S   0.3  0.0   0:00.09 kworker/0:1
  5332 root      20   0  162152   2444   1576 R   0.3  0.1   0:00.12 top
     1 root      20   0  128256   6996   4208 S   0.0  0.4   0:05.39 systemd
     2 root      20   0       0      0      0 S   0.0  0.0   0:00.03 kthreadd
     4 root       0 -20       0      0      0 S   0.0  0.0   0:00.00 kworker/0:0H
     6 root      20   0       0      0      0 S   0.0  0.0   0:00.17 ksoftirqd/0
     7 root      rt   0       0      0      0 S   0.0  0.0   0:00.10 migration/0
     8 root      20   0       0      0      0 S   0.0  0.0   0:00.00 rcu_bh
     9 root      20   0       0      0      0 S   0.0  0.0   0:01.87 rcu_sched
    10 root       0 -20       0      0      0 S   0.0  0.0   0:00.00 lru-add-drain
    11 root      rt   0       0      0      0 S   0.0  0.0   0:00.08 watchdog/0
    12 root      rt   0       0      0      0 S   0.0  0.0   0:00.07 watchdog/1
    13 root      rt   0       0      0      0 S   0.0  0.0   0:00.09 migration/1
    14 root      20   0       0      0      0 S   0.0  0.0   0:00.24 ksoftirqd/1
    16 root       0 -20       0      0      0 S   0.0  0.0   0:00.00 kworker/1:0H
    18 root      20   0       0      0      0 S   0.0  0.0   0:00.00 kdevtmpfs
    19 root       0 -20       0      0      0 S   0.0  0.0   0:00.00 netns
    20 root      20   0       0      0      0 S   0.0  0.0   0:00.01 khungtaskd
    21 root       0 -20       0      0      0 S   0.0  0.0   0:00.00 writeback
    22 root       0 -20       0      0      0 S   0.0  0.0   0:00.00 kintegrityd
    23 root       0 -20       0      0      0 S   0.0  0.0   0:00.00 bioset
    24 root       0 -20       0      0      0 S   0.0  0.0   0:00.00 bioset
    25 root       0 -20       0      0      0 S   0.0  0.0   0:00.00 bioset
    26 root       0 -20       0      0      0 S   0.0  0.0   0:00.00 kblockd
    27 root       0 -20       0      0      0 S   0.0  0.0   0:00.00 md
    28 root       0 -20       0      0      0 S   0.0  0.0   0:00.00 edac-poller
    29 root       0 -20       0      0      0 S   0.0  0.0   0:00.00 watchdogd

23. free Command

यह कमांड आपको आपके Linux Servers में इस्तेमाल होने वाली RAM Memory और Swap Memory की पूरी जानकारी जैसे सर्वर में कितना RAM और SWAP Memory लगाई गई हैं और उसमे कितना RAM और SWAP इस्तेमाल हो रहा हैं कितना अभी FREE हैं, प्रदान करता हैं! इसके साथ साथ free Command से Buffer और Cache Memory की जानकारी भी आपको मिल जाती हैं!

उदाहरण:

[[email protected] ~]# free
              total        used        free      shared  buff/cache   available
Mem:        1761728      911540      218108       14068      632080      670912
Swap:       2097148           0     2097148

अपने जरुरत के अनुसार कमांड के साथ आप निम्न Option इस्तेमाल कर सकते हैं!

-h (human-readable) -h Option का प्रयोग करके आपको आउटपुट ह्यूमन readable फॉर्म में दिखाई देता हैं जैसे यदि साइज mb में होगा तो M और यदि gb में होगा तो G!

[[email protected] ~]# free -h
              total        used        free      shared  buff/cache   available
Mem:           1.7G        890M        212M         13M        617M        655M
Swap:          2.0G          0B        2.0G

-g (gigabytes) -g Option का प्रयोग करके आपको आउटपुट gigabytes में मिलता हैं जैसे अगर 1400 MB RAM उपलब्ध होगा तो यह आपको केवल 1 GB बताएगा! और यदि 500 MB RAM हैं तो यह इसे शून्य दिखता हैं!

[[email protected] ~]# free -g
              total        used        free      shared  buff/cache   available
Mem:              1           0           0           0           0           0
Swap:             1           0           1

24. netstat Command

Linux Servers में प्रत्येक सर्विस किसी ना किसी port पर चलती हैं और netstat Command की Help से आप Linux Server में Open Ports की जानकरी प्राप्त कर लेते हैं! इसके साथ साथ यह Command network connections की जानकारी भी प्रदान करता है!

netstat कमांड के साथ निम्न Options इस्तेमाल करने से आप इस कमांड का बेहतर आउटपुट पा सकते हैं!

  • t (–TCP) यह पोर्ट्स जानने के लिए!
  • u (–UDP) यह पोर्ट्स जानने के लिए!
  • n (–numeric) यह सर्विस Name के बजाय Servcie का numeric port number दिखता हैं!
  • l (–listening) यह सर्वर सॉकेट जानने के लिए!
  • p (–programs) यह सॉकेट का PID/Program name जानने के लिए!

उदाहरण:

[[email protected] ~]# netstat -tunlp
Active Internet connections (only servers)
Proto Recv-Q Send-Q Local Address           Foreign Address         State       PID/Program name
tcp        0      0 127.0.0.1:631           0.0.0.0:*               LISTEN      1360/cupsd
tcp        0      0 127.0.0.1:25            0.0.0.0:*               LISTEN      1615/master
tcp        0      0 0.0.0.0:111             0.0.0.0:*               LISTEN      1/systemd
tcp        0      0 0.0.0.0:80              0.0.0.0:*               LISTEN      1397/nginx: master
tcp        0      0 192.168.122.1:53        0.0.0.0:*               LISTEN      1564/dnsmasq
tcp        0      0 0.0.0.0:22              0.0.0.0:*               LISTEN      1359/sshd
tcp6       0      0 ::1:631                 :::*                    LISTEN      1360/cupsd
tcp6       0      0 ::1:25                  :::*                    LISTEN      1615/master
tcp6       0      0 :::111                  :::*                    LISTEN      1/systemd
tcp6       0      0 :::21                   :::*                    LISTEN      1369/vsftpd
tcp6       0      0 :::22                   :::*                    LISTEN      1359/sshd
udp        0      0 192.168.122.1:53        0.0.0.0:*                           1564/dnsmasq
udp        0      0 0.0.0.0:67              0.0.0.0:*                           1564/dnsmasq
udp        0      0 0.0.0.0:68              0.0.0.0:*                           5860/dhclient
udp        0      0 0.0.0.0:111             0.0.0.0:*                           1/systemd
udp        0      0 0.0.0.0:5353            0.0.0.0:*                           886/avahi-daemo

25. uptime Command

अपटाइम Command की सहायता से आप Linux Server का Uptime Check कर सकते हैं uptime का मतलब आपका सर्वर कब से running हैं अर्थात लास्ट reboot के बाद से वर्तमान तक का समय कितना हैं!

उदाहरण:

[[email protected] ~]# uptime
 14:41:17 up  12 days,  5 users,  load average: 0.00, 0.01, 0.05

Conclusion [ निष्कर्ष ]

आज का यह पोस्ट Hindi में Linux basic commands उन दोस्तों के लिए हैं जो अभी Linux Operating system को इस्तेमाल करना चाहते हैं या इस्तेमाल करना सिख रहे हैं! (Hindi में Linux Basic Commands for Beginners) ये सभी Basic Command एक Linux Engineer द्वारा प्रतीदिन अपने daily work जैसे Troubleshooting इत्यादि में use होते हैं!

यदि आप Linux में किसी और विषय पर पोस्ट चाहते हैं तो निचे कमेंट में जरूर बताये मेँ जल्दी से जल्दी आपके समग्र प्रस्तुत करने की कोशिश करूँगा!

हम आशा करते हैं आपको यह पोस्ट पसंद आयी होगी! इस पोस्ट से संबधित कोई विचार और सुझाव हो तो कृपया निचे कमेंट करके जरूर अवगत कराये! और यदि पोस्ट अच्छी लगे तो इस पोस्ट को अपने दोस्तों में अवश्य शेयर कीजिये!

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here