5/5 - (1 vote)

क्या आप भी Indian Army में शामिल होना चाहते हैं तो भारत सरकार द्वारा लायी जा रही अग्निपथ योजना आपके लिए फायदे मंद हो सकती है! क्या है यह योजना (Agneepath Scheme in Hindi) और भारत के युवाओं को कैसे इसका लाभ मिलेगा यही हम आज के इस पोस्ट में जानने वाले हैं! 

भारत की सेना में युवाओं को मौका देने हेतु भारत सरकार इस तरह की योजना को लॉन्च की है! भारत की तीनों; सेनाओं में जल सेना, थल सेना और वायु सेना में अग्निपथ योजना के तहत, युआओं को भारतीय सेना में शामिल किया जायेगा! 

इस पोस्ट में हम आगे अग्निपथ योजना क्या है? (Agneepath Scheme Kya Hai in Hindi) भारतीय सेना में शामिल होने के लिए इस योजना के तहत युवाओं को क्या करना पड़ेगा? अग्निपथ योजना के फायदे क्या है? और अग्निपथ योजना से जुडी तमाम जानकारी आज के इस पोस्ट में हम जानने वाले हैं! 

अग्निपथ योजना क्या है? (Agneepath Scheme Kya Hai in Hindi)

अग्निपथ भारत सरकार द्वारा चलाई जाने वाली एक ऐसी योजना है जिसके अंतर्गत युवाओं को चार साल के लिए भारतीय सहस्त्र बलों में शामिल किया जायेगा! 

इस योजना के तहत भर्ती किये जाने वाले सैनिको को “अग्निवीर” के रूप में जाना जायेगा!

अग्निपथ योजना के मुताबिक 4 साल की अवधि खत्म होने के बाद  एक चौथाई सैनिकों को स्थायी कैडर के रूप भर्ती किया जायेगा! 

अग्निवीर 4 साल सहस्त्र बलों में कार्यरत होने के बाद देश और समाज में एक अनुशासित, कुशल और प्रेरित व्यक्ति के रूप में अन्य कार्य क्षेत्रों में अपना नौकरी प्राप्त कर सकते है!

यानि चार साल खत्म होने के बाद 25% अग्निवीरों को भारतीय सेना में परमानेंट किया जायेगा! 

अगर एक बार में 20 हजार युवा भर्ती हो रहे हैं तो 4 साल खत्म होने के बाद 5000 सैनिक ऐसे होंगे जो भारतीय सेना में परमानेंट काम करेंगे! 

भारतीय सेना की तीनों शाखाओं में इस योजना को भारत सरकार द्वारा लॉन्च किया गया है!

4 साल के लिए भर्ती होने वाले युवाओं को अग्निवीर कहा जायेगा! 6 महीनें की रिक्रुटरों को ट्रेनिंग दी जाएगी!

यह भर्तियां प्रथम चरण में आर्मी के लिए 40 हजार,नेवी के लिए 3 हजार, और एयरफोर्स के लिए 3500 भर्तियां की जाएगी! अग्निपथ योजना का मुख्य लाभ उन लोगों को भी मिल पायेगा जो आर्मी की तैयारी लम्बे समय से कर रहे हैं! 

अग्निपथ योजना में भर्ती हेतु योग्यता – agneepath yojana qualification 2022

शैक्षिक योग्यता (Education qualification)

सेना में भर्ती हेतु उम्मीदवार को कम से कम बारहवीं में 45% के साथ उत्तीर्ण होना चाहिए!

उम्र (Age limit) 

इस योजना के तहत युवाओं को चार साल के लिए भर्ती किया जायेगा! भर्ती होने वाले अग्निवीरों की उम्र साढ़े 17 साल से लेकर 21 साल तक निर्धारित की गयी जाएगी!

हर साल लगभग 50 हजार अग्निवीरों की भर्तियां भारतीय सेना के लिए की जाएगी! इस योजना के तहत ऑफिसर रैंक से निचे की जो रैंक होते हैं उन पर भर्तियां की जाएगी! 

अग्निपथ योजना भर्ती होने वाले युवाओं की सैलरी – Agneeveer Salary

इस योजना में भर्ती होने वाले अग्निवीरों को पहले वर्ष प्रति माह 30 हजार प्रति माह सैलरी मिलेगी! जिसमें 21 हजार नकद सैलरी होगी और 9 हजार रूपये यानि 30 % हिस्सा अग्निवीरों के रिटायरमेन्ट फण्ड में जमा हो जायेगा! 

दूसरे वर्ष में हर महीने 33 हजार रूपये अग्निवीरों को सैलरी मिलेगी! तीसरे वर्ष में 36 हजार 500 रूपये और चौथे वर्ष 40 हजार रूपये हर महीने इन अग्निवीरों को सैलरी के रूप में मिलेंगे! जिसमें 12 हजार हर महीने रियटायरमेन्ट फण्ड में चले जायेंगे! 

चार साल के बाद रिटायर होने के वक्त सरकार अग्निवीरों को एक विशेष पैकेज देगी जिसे सेवा निधि पैकेज कहा गया है! इस पैकेज में कुल 11 लाख 71 हजार रूपये अग्निवीरों को दिए जायेंगे!

इसमें आधा पैसा वो होगा जो सैलरी से काटा गया था और आधा पैसा सरकार की तरफ से दिया जायेगा! इसमें कोई भी पेंशन की योजना नहीं है! 

क्यों हो रहा है इस योजना का विरोध 

भारत सरकार द्वारा लॉन्च की गयी अग्निपथ योजना का विरोध लॉन्च होने के साथ ही शुरू हो गया है!

कई युवाओं का यह मानना है की सरकार भारतीय सेना की चार साल नौकरी करके सेना का अपमान कर रही है! उनका कहना है कि जो लोग भारतीय आर्मी रिटर्न की तैयारी कर रहे हैं उनके रिटर्न एग्जाम का क्या होगा! 

वही दूसरी ओर विपक्ष का कहना है भारत की सरकार सेना को प्रयोगशाला बनाने में लगी है! सैनिकों की लंबी नौकरी सरकार को बोझ लग रही है? युवाओं का कहना है कि ये 4 वर्षीय यह नियम छलावा है! 

आज देश के कई हिस्सों में इस योजना का विरोध हुआ! कई जगह तो आगजनी भी की गयी! बिहार में एक रेल को तक फूंक दिया गया! सरकार की किसी भी योजना के लागू होने पर इस तरह का विरोध स्वीकार्य नहीं है! 

अग्निपथ योजना के फायदे Agneepath Scheme Ke Fayde

  • सेना में रहते हुए भारत का युवा 4 साल में अनुशासन के सभी नियमों कोसीख सकता है जिन्हें युवा रिटायर होने के बाद अपने दैनिक जीवन में लागू कर सकते हैं! 
  • भारतीय सेना में दी जाने वाली ट्रेनिगं को आप अन्य लोगो को सीखा भी सकते हैं जिससे हर किसी का देश की सेवा के प्रति आत्मविश्वास बढ़ेगा! 
  • चार साल की सेवा के बाद सरकार द्वारा एक विशेष रिटायरमेंट पैकेज फिया जायेगा ! इस दौरान अग्निवीरों को सम्मानजनक वेतन भी दिया जाएगा!
  • चार साल के बाद मिलने वाले रिटायरमेंट राशि से युवा अपना कोई अन्य रोजगार खोल सकता है! या फिर आगे की पढाई को जारी रख सकता है! 
  • अगर इस सेवा के दौरान कोई जवान शहीद होता है तो उसके परिवार को पूरा इंश्योरेंस कवर मिलेगा! शहीद के परिवार को सेवा निधि समेत लगभग एक करोड़ रुपये दिए जाएंगे!
  • सेवा के दौरान अगर जवान दिव्यांग हो जाते हैं! तो दिव्यांगता के प्रतिशत के हिसाब से करीब 44 लाख रुपये मिलेंगे! सेवा निधि के अलावा बची हुई सेवाकाल की पूरी सैलरी भी जवान को दी जाएगी!

अग्निपथ योजना का मुकाबला अगर अन्य देशों की सेनाओं के नियमो के साथ किया जाये तो यह कोई नई बात नहीं होगी!

अमेरिका जैसे बड़े देशों में सेनाओं में दी जाने वाली ट्रेनिंग आप लोगो को दी जाती है! कई देशों में तो कुछ समय में सेना में सेवा देना अनिवार्य होता है! 

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here