Rate this post

नमस्कार दोस्तों, यदि आप बीपी कैसे चेक करते हैं? (BP Check Kaise Kare) और घर बैठे ब्लड प्रेशर नापने का तरीका जानना चाहते है तो आज का ब्लॉग आपके लिए बहुत ख़ास होने वाला है! इस ब्लॉग में हम आपको बीपी के लक्षण, BP Kaise Check Karte Hai और बीपी चेक करने की मशीन के बारे में विस्तार से बताने वाले है!

यदि आप ब्लड प्रेशर के मरीज हैं तो निश्चित तौर पर आपको अपना Bp Check करते रहना चाहिए! वैसे कई ब्लड प्रेशर के मरीज ऐसे भी होते हैं, जिन्हें डॉक्टर दिन में कई बार ब्लड प्रेशर नापने की सलाह देते हैं! ऐसे में हर बार डॉक्टर के पास ब्लड प्रेशर check करवाने जाना संभव नहीं हो पाता है!

इसलिए आज के इस हिंदी ब्लॉग में हम आपको अपने घर बैठे ब्लड प्रेशर नापने का आसान तरीका बताने वाले है!

आप इस ब्लॉग को अंत तक जरूर पूरा पढ़े ताकि इस ब्लॉग में हमारे द्वारा बताए गए गए टिप्स आपको अपना बीपी बिल्कुल सही तरह से नापने में मदद करेंगे!

तो चलिए जानते हैं कि आखिर अलग-अलग तरह की ब्लड प्रेशर नापने की मशीनों से घर बैठे बीपी कैसे चेक करते हैं? (BP Check Kaise Kare). BP नापने की कौन सी मशीन आपके लिए सही रहेगी? और BP check करने से पहले किन बातों का ख्याल रखना चाहिये!

ghar bethe bp kaise check kare

विषय - सूची

रक्तचाप क्या है – BP Kya hota Hai

BP Kya Hai – हिंदी में ब्लड प्रेशर को रक्तचाप भी कहते है! हमारे रक्तवाहिनियों में प्रवाहित होने वाले खून द्वारा धमनियों पर डाला जाने वाला दबाव ब्लड प्रेशर कहलाता है! यदि रक्त प्रवाह द्वारा धमनियों की दीवारों में अधिक दबाव डाला जाता है! तो इसे हाई ब्लड प्रेशर यानी की उच्च रक्त चाप कहते है!

BP Check kaise kiya jata hai

[ बीपी कैसे चेक करते हैं? BP Check Kaise Kare ]

वहीं, यदि शरीर में खून का संचार पूर्ण रूप से नहीं हो पाता है तो ऐसे में रक्त वाहनियाँ बहुत धीरे धीरे धड़कती है! और दिल तक खून पूरी तरह से नहीं पहुंच पता है! इसे Low ब्लड प्रेशर कहते है!

ब्लड प्रेशर के लक्षण क्या होते है?

आज के समय में अधिकतर लोगो को हाई ब्लड प्रेशर की शिकायत होती है! जिस वजह से उन्हें बहुत सारी तकलीफों से गुजरना पड़ता है!

सबसे अच्छा फेस वाश कौन सा है?

ऐसे में कई बार मरीज को अपने ब्लड प्रेशर की बीमारी का पता भी नहीं होता है और उसे कई दिक्कतों का सामना करना पड़ता है! इसलिए अभी हम सबसे पहले यह जान लेते है की आखिर ब्लड प्रेशर के लक्षण क्या होते है!

यदि समय रहते हमे ब्लड प्रेशर के लक्षण के बारे में पता होगा! तो हम इस बीमारी को आसानी से पहचान सकते है और उचित इलाज करवा सकते है!

तो चलिये अब एक एक करके किसी भी BP के मरीज को होने वाले ब्लड प्रेशर के लक्षण के बारे में जानते है!

  • तेज़ सिरदर्द
  • सांस लेने में तकलीफ़
  • अचानक बेहोशी

1). तेज़ सिरदर्द

आपका काम करते करते यदि अचानक से सिर में तेज दर्द शुरू होता है! और सरचकराता है तो तेज़ सिरदर्द भी लो बीपी का एक प्रमुख लक्षण होता हैं!

तो अगर कभी भी आपको बैठे-बैठे तेज़ सिरदर्द की शिकायत होती है तो इसे बिलकुल भी नजर अंदाज ना करें! और तुरंत समय रहते अपना ब्लड प्रेशर चेक करें!

2). सांस लेने में तकलीफ़

इसके बाद ब्लड प्रेशर के मरीज को सांस लेने में काफी तकलीफ होती है! हाई ब्लड प्रेशर के शुरुआती समय से ही मरीज को सांस लेने जैसी समस्याये पैदा होने लग जाती हैं!

अगर थोड़े से काम करने में या फिर बैठे-बैठे व्यक्ति की सांसे जोर-जोर से चलने लगती हैं! और वह खुलकर सांस लेने में दबाव महसूस करता है, तो ऐसे में व्यक्ति को हाई ब्लड प्रेशर की शिकायत हो सकती है!

3). अचानक बेहोशी

आमतौर पर मरीज का अचानक बेहोश हो जाना, ब्लड प्रेशर की बीमारी का सबसे बड़ा लक्षण होता है! आपने गौर किया होगा की लोग अक्सर स्कूली बच्चे कुछ देर धुप में खड़े रहने से ही अचानक बेहोश हो जाते है! तो ऐसे में यह एक ब्लड प्रेशर लो होने का लक्षण होता है!

तो अगर आपके सामने कोई व्यक्ति अचानक बेहोश हो जाता हैं! या फिर आपको थोड़ी देर खड़े रहने पर ही चक्कर आने लगते है! तो इसका मतलब यह होता है की आपको ब्लड प्रेशर समस्या हो सकती है! और आप तुरंत जाकर अपना ब्लड प्रेशर की जांच करवाये!

BP Check करने से पहले किन बातों का ख्याल रखें ?

माना कि घर बैठे ब्लड प्रेशर नापने की बहुत सी मशीनें आती हैं! लेकिन इन मशीनों की मदद से ब्लड प्रेशर नापते वक्त और नापने से पहले आपको कुछ खास बातों का खास ध्यान रखना पड़ता है! वरना आपको कभी भी अपना Exact BP पता नहीं चल पाएगा!

इसलिए बीपी कैसे चेक करते हैं? (BP Check Kaise Kare) जानने से पहले चलिए पहले ये जानते हैं कि BP Check करने से पहले और चेक करते वक्त किन बातों का ख्याल रखना जरूरी है?

  • ब्लड प्रेशर चेक करने से पहले बाथरूम जाकर टॉयलेट वगैरह कर आएं! भरा हुआ मूत्राशय (bladder) होने की वजह से ब्लड प्रेशर की रीडिंग गलत भी आ सकती है!
  • चाय, कॉफी, अल्कोहल या कोई अन्य तंबाकू के सेवन के कम से कम 30 मिनट बाद ही ब्लड प्रेशर चेक करें!
  • अगर आपको रोज ब्लड प्रेशर नापने के लिए बोला गया है! तो रोज एक निश्चित समय पर ही ब्लड प्रेशर की जांच करें!
  • इसके बाद BP Check करने के लिए शांत जगह पर जाएं ताकि आप अपने दिल की धड़कन (Heartbeat) की आवाज को सुन सकें!
  • अपने बाजू पर कपड़े को मोड़ कर ऊपर की तरफ कर लें! या फिर अगर टाइट बाजू वाली कोई ड्रेस पहनी हो उसे उतार दें!
  • ब्लड प्रेशर चेक करने से पहले चेयर पर बिल्कुल सीधा और रिलैक्स होकर 5 से 10 मिनट तक बैठे ताकि आपकी सांसे बिल्कुल normal हो सकें!
  • बैठते वक्त आपके हाथ और पैर क्रॉस नहीं होने चाहिए!
  • चेयर को किसी टेबल के पास ही रखकर बैठें और बैठते वक्त अपना बायां हाथ टेबल पर उठा कर रखें!
  • टेबल पर हाथ रखते वक्त आपका हाथ, आपके सीने के बराबर ऊंचाई में रहना चाहिए! और हथेली टेबल पर ऊपर की तरफ होनी चाहिए!
  • ध्यान रहे, आपको बिल्कुल आरामदायक पोजीशन में बैठना है!
  • ब्लड प्रेशर चेक करते समय, जिस हाथ का ब्लड प्रेशर चेक हो रहा है, उसे मोड़ें नहीं!

बीपी चेक करने की मशीन को क्या कहते हैं?

यदि हम बीपी चेक करने की मशीन को क्या कहते हैं? की बात करे तो, बीपी चेक करने वाली मशीन का नाम स्फिग्मोमानोमीटर (Sphygmomanometer) होता है! इसके साथ एक दूसरी मशीन जिसका नाम स्टैथोस्कोप होता है, भी शामिल होता है!

bp check krne ki digital machine

Blood Pressure (BP) check करने के लिए आपको यह ब्लड प्रेशर नापने की मशीन, स्फिग्मोमानोमीटर (Sphygmomanometer) और एक स्टैथोस्कोप आपके किसी नजदीकी मेडिकल स्टोर में मिल जायेगा!

इसके अलावा आप ऑनलाइन भी इस बीपी चेक करने वाली मशीन को आर्डर कर सकते है! आपको बता दे की  डिजिटल स्फिग्मोमानोमीटर के लिए स्टैथोस्कोप की जरूरत नहीं होती है!

स्फिग्मोमानोमीटर के प्रकार कितने होते है? Sphygmomanometer Types in Hindi

मार्केट में बीपी चेक करने की मशीन यानी की स्फिग्मोमानोमीटर (Sphygmomanometer) मुख्यता 3 प्रकार के मिलते हैं, जिनसे आप अपना बीपी चेक कर सकते है!

  1. डिजिटल स्फिग्मोमानोमीटर (Digital Sphygmomanometer)
  2. मरकरी स्फिग्मोमानोमीटर (Mercury Sphygmomanometer)
  3. एनीरॉयड स्फिग्मोमानोमीटर (Aneroid Sphygmomanometer)

इसमें से मरकरी स्फिग्मोमानोमीटर और एनीरॉयड स्फिग्मोमानोमीटर ही ज्यादा Accurate ब्लड प्रेशर नापते हैं! इसलिए आपको इन दोनों में से ही कोई एक खरीदना चाहिए!

नार्मल ब्लड प्रेशर कितना होना चाहिए

चलिए अब सबसे महत्वपूर्ण सवाल यानी की किसी व्यक्ति का नार्मल ब्लड प्रेशर कितना होना चाहिए? तो आपको बता दे की एक व्यक्ति का सामान्य रूप से ब्लड प्रेशर120/80 तक होना चाहिए!

लेकिन यदि व्यक्ति का ब्लड प्रेशर 140/90 से ज्यादा हो जाये तो इसे हाई ब्लड प्रेशर या फिर हाइपरटेंशन कहा जाता है! और इस ब्लड प्रेशर से खून की नसों में दबाव पड़ता है!

तो चलिये इसके बाद व्यक्ति का उसकी आयु के आधार पर ब्लड प्रेशर कितना होना चाहिए, जान लेते है!

उम्र सीमापुरुषमहिला
13 से 18 की उम्र177-77 mmHg120-85 mmHg
19 से 24 की उम्र120-79 mmHg120-79 mmHg
25 से 29 की उम्र120-80 mmHg120-80 mmHg
30 से 35 की उम्र122-81 mmHg123-82 mmHg
36 से 39 की उम्र123-82 mmHg124-83 mmHg
40 से 45 की उम्र124-83 mmHg125-83 mmHg
46 से 49 की उम्र126-84 mmHg127-84 mmHg
50 से 55 की उम्र128-85 mmHg129-85 mmHg
56 से 59 की उम्र131-37 mmHg130-86 mmHg
10- 60 की उम्र से ज्यादा135-88 mmHg134-84 mmHg

बीपी कैसे चेक करते हैं? BP Kaise Check Karte Hai

आज के समय में ब्लड प्रेशर की समस्या केवल बुजुर्गो में ही नहीं अपितु जवान और बच्चो में भी होने लगी है! हाई ब्लॉग प्रेशर हो या फिर लो ब्लड प्रेशर हो, अब आप अपना ब्लड प्रेशर खुद ही चेक कर सकते है!

डॉक्टर द्वारा हाई ब्लड प्रेशर की समस्या वाले लोगो को हर दिन नियमित रूप से और कभी कभी दिन में कई बार BP Check करने की हिदायत दी जाती है! ताकि ब्लड प्रेशर के कारण होने वाली दिल की बीमारियों से बचा जाये!

लेकिन हाई ब्लड प्रेशर के मरीज के लिये हर दिन BP Check करने के लिए अस्पताल जाना सम्भव नहीं हो पाता! इसलिये अब अधिकतर लोगो अपने डॉक्टर की सलाह पर बीपी चेक करने वाली मशीन से अपना बीपी चेक नियमित रूप से घर पर ही कर लेते है!

घर बैठे ब्लड प्रेशर नापने का तरीका

अगर आपके पास एक manual या डिजिटल ब्लड प्रेशर मॉनिटर मशीन है तो सबसे पहले आप उस पर लिखे निर्देशों को पढ़ें!

ऐसा करने से आप उस मशीन के सारे पार्ट्स के नाम जान जायेंगे! और उसे इस्तेमाल करने के, तरीके के बारे में भी अच्छे से समझ सकेंगे!

एनीरॉइड स्फिग्मोमानोमीटर से बीपी कैसे चेक करते हैं? (BP Check Kaise Kare)

यहां हम एनीरॉइड स्फिग्मोमानोमीटर से घर बैठे बाएं हाथ का ब्लड प्रेशर नापने के तरीके के बारे में बताने जा रहे हैं! नीचे बताई गई प्रक्रिया मरकरी स्फिग्मोमानोमीटर के लिए भी same ही है!

अगर आपको दाएं हाथ का ब्लड प्रेशर नापना हो तो भी यही तरीका दूसरे हाथ में अपनाएं!

1). अपनी नाड़ी (Pulse) का पता लगाएं

अपनी कोहनी के मोड़ के नीचे वाले हिस्से पर अपनी index और middle finger को रखकर उस जगह का पता लगाने के कोशिश करें जहां से Pulse का एहसास हो! अगर उंगलियों से पता ना चल रहा हो, तो स्टैथोस्कोप की मदद से पता लगाएं!

2). Cuff बाधें

ब्लड प्रेशर नापने की मशीन में जो कपड़े का पट्टा होता है, उसे Cuff कहते हैं! इस Cuff को अपनी कोहनी से 1 से 2 इंच ऊपर बांधें! इसे ना तो बहुत ज्यादा कसकर बांधे और ना ही बहुत ढीला बांधे!

ghar me bp kaise check kare

इसी कफ पर एक तीर जैसा निशान होगा, जिसके नीचे आपको स्टैथोस्कोप का डायफ्राम लगाना होगा! अगर निशान ना हो तो अपनी कोहनी के बिल्कुल बीचों बीच नाड़ी पर स्टैथोस्कोप का डायफ्राम लगाएं और स्टैथोस्कोप के इयर पीस को कानों में लगा लें!

3). Cuff को फुलाएं और फिर हवा निकालें

अब ब्लड प्रेशर नापने की मशीन में दिए गए बल्ब जैसी संरचना को दाएं हाथ से दबा-दबा कर फुलाते जातें! और साथ में मीटर पर रीडिंग देखते रहें! जैसे ही 180 से 200 के बीच पहुंचे, Cuff को फुलाना बंद कर दें!

जैसे ही आप Cuff को फुलाना बंद कर देंगे, वैसे ही आप देखेंगे की मीटर में सुई आगे की तरफ बढ़ना रुक गई है!

अब आप हवा निकालने वाले वॉल्व को बिल्कुल धीरे – धीरे खोलें! जैसे ही आप वाल्व खोलना शुरू करेंगे, मीटर पर रीडिंग घटती जायेगी यानी मीटर में जो सुई होगी, वह वापस नीचे की तरफ आने लगेगी!

ध्यान रहे, आपको वॉल्व को बिल्कुल ही धीरे धीरे खोलना है!

4). रीडिंग नोट करें

जैसे ही मीटर में सुई गिरना शुरू होगी, थोड़ा सा गिरते ही आपको स्टैथोस्कोप में हार्ट बीट की आवाज सुनाई देना शुरू हो जाएगी! मीटर में जिस रीडिंग पर आवाज आनी शुरू होगी वह सिस्टोलिक प्रेशर होता है! उस रीडिंग को नोट कर लें! सामान्य व्यक्ति का सिस्टोलिक प्रेशर 120 होना चाहिए!

इसके बाद सुई जैसे जैसे नीचे जायेगी, आपको लगातार आवाज आती रहेगी, लेकिन एक वक्त आने पर यह आवाज आना बंद हो जाएगी! जिस रीडिंग पर स्टैथोस्कोप में आवाज आना बंद हो जाए, वह डायस्टोलिक प्रेशर कहलाता है! इसे भी नोट कर लें! सामान्य व्यक्ति का  डायस्टोलिक प्रेशर 80 होना चाहिए!

आप किस दिन, किस समय पर ब्लड प्रेशर की जांच की है, और उस समय आपका कितना ब्लड प्रेशर था, यह सब एक ही नोट पैड में नोट करते जाएं! इससे आपको हर महीने के अंत यह पता लगाने में आसानी होगी कि पूरे महीने आपका ब्लड प्रेशर कैसा रहा है!

डिजिटल स्फिग्मोमानोमीटर से से बीपी कैसे चेक करते हैं? (BP Check Kaise Kare)

डिजिटल स्फिग्मोमानोमीटर से BP Check करना बिल्कुल आसान है!

1). सबसे पहले आप ऊपर बताए गए तरीके से आराम से टेबल पर हाथ रखकर बैठ जाएं!

2). फिर Cuff को कोहनी से 1 इंच ऊपर की तरफ बांधे! कफ ना बहुत ज्यादा कसा होना चाहिए और ना ही बहुत ज्यादा ढीला होना चाहिए!

3). ऐसा समझिए की cuff और आपके हाथ के बीच एक उंगली horizontally घुस सके!

4). Cuff बांधते वक्त यह ध्यान रहे कि cuff से निकली हुई ट्यूब कोहनी के बिल्कुल बीचो बीच से होकर जानी चाहिए!

5). तो अब आप Cuff बांधने के बाद, मशीन का Start बटन दबाएं!

6). इसके बाद, आपका Cuff फूलने लगेगा और 2 मिनट के अंदर ही डिजिटल स्फिग्मोमानोमीटर के मॉनिटर पर आपको सबसे ऊपर सिस्टॉलिक प्रेशर, उसके नीचे डायस्टोलिक प्रेशर और उसके नीचे आपके Heart Beat की रेट लिखी हुई दिखाई देने लगेगी! इसे डेट और टाइम के साथ एक कॉपी में नोट कर लें!

7). इसके बाद, 5 मिनट बाद, दुबारा से अपने ब्लड प्रेशर की जांच करें और उसे भी कॉपी में नोट कर लें!

8). डिजिटल स्फिग्मोमानोमीटर ज्यादा accurate BP नहीं बताता है! इसीलिए 2 बार जांच करके आप अपने BP का अनुमान लगा सकते हैं!

इसके अलावा, हो सकता है कि आपके मशीन पर heart beat की रेट ना दिखे! लेकिन परेशान ना हों! आपको सिर्फ सिस्टॉलिक प्रेशर और डायस्टोलिक प्रेशर से ही मतलब है!

Blood Pressure नापने से जुड़ी कुछ खास बातें

  • नॉर्मल व्यक्ति का ब्लड प्रेशर 120/80 होता है!
  • High Blood Pressure वाले मरीज का ब्लड प्रेशर 140/90 या इससे ज्यादा होता है!
  • Low Blood Pressure वाले मरीज का ब्लड प्रेशर 90/60 होता है!

अगर आपका ब्लड प्रेशर बताए गए low और High Blood Pressure के पैमाने से काफी कम या ज्यादा होता है, तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें!

BP Check करने की नई मशीन खरीदने पर सबसे पहले इसे डॉक्टर से जांच करवा लें! इसके लिए आप डॉक्टर के प्रोफेशनल मशीन से पहले अपने ब्लड प्रेशर की जांच करे!

और फिर अपने मशीन से अपने ब्लड प्रेशर की जांच करें! ऐसा करने पर आपको पता चल जायेगा कि आपकी मशीन कितना accurate ब्लड प्रेशर बताती है!

निष्कर्ष – Conclusion

दोस्तों, इस आर्टिकल में हमने बीपी चेक कैसे करते हैं? घर बैठे ब्लड प्रेशर नापने का तरीका के बारे में विस्तार से सही और सटीक जानकारी दी है! इसके साथ ही हमने बीपी के लक्षण, BP Kaise Check Karte Hai और बीपी चेक करने की मशीन के बारे में जानकारी प्राप्त की!

अगर आपको आर्टिकल में गई जानकारी अच्छी लगी हो तो इसे अपने सोशल मीडिया पर शेयर करके, दूसरों की भी मदद जरूर करें! अगर ब्लड प्रेशर से जुड़ा किसी सवाल का जवाब चाहते हैं तो कमेंट करें!

इस पोस्ट को अंत तक पढ़ने हेतु आप सभी का बहुत बहुत धन्यवाद!

स्वस्थ रहें, सुरक्षित रहें और अपनों का ख्याल रखें!

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here