नमस्कार दोस्तों, पिछली Hindi पोस्ट में हमने NCERT क्या है – NCERT का full form समझा था! आमतौर पर छात्रों द्वारा CBSE के बारे में भी बहुत सारे सवाल पूछे जाते है जैसे की CBSE क्या है – What is CBSE, CBSE का Full Form – CBSE Full Form, CBSE के कार्य क्या है, CBSE का इतिहास क्या है – History of CBSE साथ ही साथ CBSE का सिद्धांत और मुख्य उद्देश्य क्या है? यदि आप भी CBSE से जुड़े सवालों का जवाब जानना चाहते है तो आज इस Hindi Post में हम CBSE के बारे में इन सभी सवालों का जवाब देने वाले है! तो चलिए जानते है CBSE Kya Hai और CBSE full form Kya Hai.

सीबीएसई एक ऐसा Education System है जो सीधे भारत के सार्वजनिक तथा निजी स्कूलों से संबंधित होता है!

देश में अनेक Education Board उपलब्ध है जो की Central और State Level पर Education System को चलाते है इनमें से ही एक CBSE (सीबीएसई) है! जो Central Level पर उपलब्ध शिक्षा क्षेत्र से संबंधित है!

भारत के कई राज्यों में State Education Board चलता है लेकिन कई बार ऐसा होता है की कुछ Parents अपने बच्चो को State board में पड़ना पसंद नहीं करते है और इसकी तुलना में CBSE को अधिक महत्व देते है!

CBSE Kya Hai
CBSE Kya Hai

[CBSE Full Form – CBSE kya hai in hindi Full Guide]

तो चलिए आगे बढ़ते है और जानते है की  CBSE Kya Hai, CBSE Full Form, यह कैसे काम करता है और CBSE कौन कौन से परीक्षाओ को CBSE संचालित करता है!

Full Form of CBSE

CBSE Full Form: CBSE का full form Central board of Secondary Education होता है! यह भारत में स्कूली शिक्षा का एक प्रमुख और महत्वपूर्ण बोर्ड है! जिसे भारत सरकार द्वारा नियंत्रित और प्रतिबंधित किया जाता है। 

CBSE Full Form in Hindi

सीबीएसई का फुल फॉर्म: CBSE Hindi में Full Form (पूरा नाम) “केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड” होता है! जो देश में Central Government (केंद्र सरकार) के अधीन आता है अर्थात एक ऐसा Education Board है जो केंद्र सरकार द्वारा संचालित किया जाता है!

CBSE क्या है – CBSE Kya Hai in Hindi

CBSE Kya Hai: सीबीएसई भारत सरकार द्वारा बनाया गया एक Education Board है! जिसकी स्थापना 3 नवम्बर 1962 में की गयी थी! वर्तमान में सीबीएसई के Chairmen मनोज आहूजा (I.A.S.) है! और CBSE Education Board का मुख्यालय Preet Vihar (प्रीत बिहार) New Delhi में स्थित है!

CBSE का सिद्धांत “असतो मा सद्गमय” है जिसका Hindi में अर्थ (हे प्रभु हमें असत्य से सत्य की ओर ले चलो) है!

सीबीएसई को भारत सरकार द्वारा Regulate किया जाता है! CBSE (केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड) पुरे भारत में सार्वजनिक और निजी स्कूलों के लिए उपलब्ध राष्ट्रीय स्तर का शिक्षा बोर्ड है!

भारत में CBSE लगभग 21,000 से अधिक Schools से संबंधित है इसके अलावा 28 विदेशी देशो के 200 से अधिक Schools CBSE से related है। यह Education Board देश में सभी Schools को NCERT के पाठ्यक्रम को चलाने के निर्देश देता है!

CBSE द्वारा देश में कई परीक्षाओ को भी संचालित किया जाता है और यह शैक्षिक बोर्ड देश में कई केंद्र सरकार से मान्यता प्राप्त निजी विद्यालयों, जवाहर नेहरू विद्यालयों को मान्यता प्रदान करता है!

CBSE का इतिहास History of CBSE in Hindi

भारत में सबसे पहले 1921 में “उत्तर प्रदेश बोर्ड ऑफ़ हाई स्कूल एंड इंटरमीडिएट एजुकेशन बोर्ड” की स्थापना की गयी! पुरे भारत देश में Education System को इसी बोर्ड के अंतर्गत नियंत्रित किया जाता था!

इसके बाद 1929 में भारत सरकार द्वारा एक सयुंक्त शिक्षा बोर्ड को स्थापित करने का निर्णय लिया गया! जिसका नाम “बोर्ड आफ हाई स्कूल एंड इंटरमीडिएट एजुकेशन राजपूताना”  रखा गया! इस सयुंक्त बोर्ड में मध्य भारत, मारवाड़, अजमेर तथा ग्वालियर शामिल थे!

ठीक उसके बाद्‌ भारत के सविधान में 1952 में Board का संशोधन किया गया तथा Board का व्यापक क्षेत्र बड़ा दिया गया! Board का नाम बदलकर “केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड” रख दिया गया! 1962 में भारत सरकार द्वारा केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड का पुनर्गठन किया गया! इस प्रकार देश और बाहरी देशो में भी CBSE का स्तर बढ़ता गया!

CBSE द्वारा अपने कुछ क्षेत्रीय कार्यालय भी स्थापित किये गए है जो निम्न है!

  • देहरादून 
  • अजमेर 
  • पंचकूला 
  • गुवाहाटी
  • पटना
  • इलाहबाद 
  • चेन्नई
  • त्रिवंतपुरम
  • दिल्ली (CBSE मुख्यालय )

CBSE के उद्देश्य – CBSE Objectives in Hindi

 CBSE के प्रमुख Objectives (उद्देश्य) निम्न प्रकार से है

1. शिक्षा संस्थानों पूर्ण रूप  प्रभावशाली ढंग से सहयोग तथा लाभ प्रदान करना। 

2. देश में शैक्षिक गतिविधियों का विश्लेषण तथा प्रोत्साहन करना। 

3. बोर्ड से संबंधित नियमो को निर्धारित करना एवं शैक्षिक प्रशिक्षणो के कार्यक्रमों का आयोजन करना। 

4. विद्यार्थियों के लिए शिक्षण पाठ्यक्रमों का निर्धारण करना और शैक्षिक संबंधी एजेंसियों का सर्वेक्षण करना।

5. 1 से 12 तक की कक्षा के लिए पाठ्यक्रम  निर्धारित करना। विद्यालयों में कक्षा 10 तथा 12 की अंतिम परीक्षाओ को आयोजित करना। इसके साथ ही आयोजित की जाने वाले परीक्षाओ के लिए नियमो को निर्धारित करना। 

6. शिक्षा के क्षेत्र में प्रतिभाशाली छात्रों को प्रोत्शाहित करना और उनका सहयोग करना। 

7. वैज्ञानिक, साहित्यिक और धार्मिक शिक्षा  प्रोत्साहन करना देश की परम्पराओं और प्रथाओं का सहयोग तथा समन्वय। 

8. बोर्ड द्वारा संचालित की जाने वाली परीक्षाओ के लिए कोर्स अनुदेशों को मिर्धारित करना। 

9. सीबीएसई शैक्षिक संस्थानों के मध्य संबंधता स्थापित करता है जिससे देश में शैक्षिक स्तर में वृद्धि होती है। 

CBSE के कार्य – CBSE Functions in Hindi

CBSE द्वारा देश के अंतर्गत तथा देश से बाहर शैक्षिक क्षेत्र में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाई जाती है।  इस प्रकार यह बोर्ड शिक्षा  के स्तर को बढ़ाने और प्रोत्साहन करने में सम्पूर्ण सहयोग करता है

आइये जानते है CBSE (सीबीएसई) के प्रमुख कार्य क्या है ?

1. शैक्षिक संस्थानो में कोर्स करने के अंतर्गत सीबीएसई द्वारा संचालित की जाने  वाली परीक्षाओ को उत्तीर्ण करने के बाद बोर्ड द्वारा डिप्लोमा/प्रमाण पत्र प्रदान कराया जाता है। 

2. परीक्षाओ को आयोजित करना और इसके लिए शर्तो को निर्धारित करना जिनको परीक्षा के उमीदवारो द्वारा स्वीकार करने होते है।

3. CBSE देश में  एक सुगठित संरचना का पालन करता है  जो सीबीएसई पाठ्यक्रम  को देश में अन्य बोर्ड की तुलना में आसान बनाने में सहयोग करता है।  

4. CBSE पाठ्यक्रम को अधिकतर इंजीनियरिंग और मेडिकल प्रतियोगी परीक्षाओ में शामिल किया जाता है। इससे सीबीएसई के छात्रों को परीक्षाओ को क्रेक करने में सहायता हो जाती है।  

5. सीबीएसई ऑनलाइन शिक्षा के माध्यम को भी बढ़ावा देता है इससे सम्पूर्ण अध्ययन सामग्री न होने पर भी ऑनलाइन शिक्षको से सलाह ली जा सकती है।  

सबसे खास बात यह है की CBSE पुरे दुनिया भर में एक मान्यता प्राप्त बोर्ड है, जिससे छात्रों के लिए देश में और विदेशो में अपनी शिक्षा को continue रखना आसान हो जाता है। अन्य देशो में भी सीबीएसई के आधार पर शिक्षा प्राप्त कर सकते है।  

CBSE द्वारा संचालित परीक्षा Conducted Exams by CBSE in Hindi

 CBSE द्वारा पुरे देश में संचालित की जाने वाली परीक्षाएं निम्नलिखित है!

1. AISSE

जिसका पूरा नाम All india secondary school exam (अखिल भारतीय सेकेंडरी स्कूल परीक्षा ) है! यह परीक्षा 10वीं कक्षा के लिए संचालित की जाती है!

 2. AISSCE

इसका पूरा नाम All India Senior School Certificate Examination(अखिल भारतीय सिनीयर स्कूल सर्टिफिकेट परीक्षा) है! यह एग्जाम 12वीं कक्षा के लिए आयोजित की जाती है!

3.  AIEEE

इसका पूरा नाम All India engineering entrance exam (अखिल भारतीय इंजिनीयरिंग प्रवेश परीक्षा) है! यह परीक्षा स्नातक कोर्स जैसे: BE/B.Technology, B.Architecture/B.Planning के लिए CBSE  द्वारा organized की जाती है!

 4. AIPMT

जिसका पूरा नाम All India Pre-Medical Examination (अखिल भारतीय प्री-मेडिकल परीक्षा) है! जिसका संचालन सीबीएसई द्वारा किया जाता था! अब देश में मेडिकल टेस्टिंग एजेंसी द्वारा NEET-UG (National Eligibility cum Entrance Test – Undergraduate) में बदल गया हो!

इन्हें भी पढ़ें 

Conclusion [निष्कर्ष]

आज के इस Hindi Blog के माध्यम से हमने जाना CBSE क्या होता है – CBSE Kya Hai in hindi, CBSE full form, CBSE का इतिहास क्या है और इसके कार्य क्या – क्या है? तथा सीबीएसई द्वारा कौन कौन से परीक्षाएं संचालित की जाती है? यह सीबीएसई देश का एक सुसंगठित रूप से चलने वाला शैक्षिक बोर्ड है। 

आशा करते है हमारी आज की यह पोस्ट CBSE Kya Hai आपके लिए informational रही होगी। यह शिक्षा से संबंधित जानकारियां जिन्हे जानना बहुत आवश्यक है। अगर पोस्ट आपको पसंद आये तो सोशल साइट व्हाट्सप, फेसबुक और इंस्टाग्राम आदि पर जरूर शेयर करें!

अपने विचार और सुझाव को कमेंट बॉक्स में जरूर बताये CBSE से जुडी अन्य जानकारिया और अपने opinions को बताएं। 

यह पोस्ट पढ़ने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद !

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here